हाल ही में एक सर्वे किया गया कि आखिर कार ओटीटी के वो कौन से एक्टर हैं, जिन्होंने ने ओटीटी प्लेटफॉर्म पर कमाल का पर्फोर्मेंस दिया । यह सर्वे मेल एक्टर्स का किया गया, तो आइए जानते हैं उन एक्टर्स के बारे में विस्तार से ।

मनोज बाजपेयी 

इस सर्वे में नंबर वन पर हैं मनोज बाजपेयी अमेज़न प्राइम वीडियो का शो “द फैमिली मैन” मनोज बाजपेयी के करियर का बड़ा गेम चेंजर साबित हुआ । “द फैमिली मैन” से उन्होंने अपने करियर की दूसरी पारी शुरू की । शो के पहले सीज़न को काफी पसंद किया गया । मनोज बाजपेयी के काम को सराहा गया‌ । यही मोमेंटम दूसरे सीज़न में भी चला । इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबोर्न ने उन्हें शो के दूसरे सीज़न पर किए काम के लिए बेस्ट एक्टर के अवॉर्ड से भी सम्मानित किया था ।

 मनोज वाजपेयी (सर्वे)

अभिनेता मनोज वाजपेयी बॉलीवुड के बेहतरीन कलाकारों में से एक है, जिन्होने न सिर्फ बॉलीवुड बल्कि और भी कई भाषाओं कि फिल्मों में अपनी काबिलियत साबित की है । बॉलीवुड में सभी उनके अदाकारी के दिवाने है । मनोज वाजपेयी ने कई लाजवाब फिल्में कि हैं जिसमें से उनकी फिल्म गैंग्स ऑफ वासैपूर ने उन्हे एक अलग पहचान दिलाई और इस फिल्म को दर्शकों का भी काफी प्यार मिला ।

 

पंकज त्रिपाठी

सर्वे में दूसरे पायदान पर हैं पंकज त्रिपाठी, जो मनोज को अपना गुरु भी मानते है । पंकज त्रिपाठी ओटीटी स्पेस में लगातार एक्सपेरिमेंट करते रहे है । “सेक्रेड गेम्स” के दूसरे सीज़न में गुरुजी का रोल निभाया । इसके बाद ” मिर्ज़ापुर ” ने उन्हें घर-घर तक पहुंचा दिया । नेटफ्लिक्स पर अमेज़न प्राइम पर शो करने के बाद उनका अगला प्रोजेक्ट था । डिज़्नी प्लस हॉटस्टार का “क्रिमिनल जस्टिस” पंकज त्रिपाठी का कैरेक्टर लोगों को खूब पसंद आया । यही वजह है कि 26 अगस्त को “क्रिमिनल जस्टिस” का तीसरा सीज़न आ रहा है ।

पंकज त्रिपाठी ( सर्वे)

अभिनेता पंकज त्रिपाठी वैसे तो बहुत ही मंजे हुए कलाकार हैं । लेकिन लोगो ने उन्हें पहली कालीन भैय्या के रूप में जब वेब सीरीज मिर्जापुर में देखा तो पंकज की दीवानगी लोगो में और ज्यादा बाद गयी उसके बाद उन्हें सेक्रेड गेम में गुरूजी का रोल निभाने के मौका मिला । और उसके बाद उन्होंने मिर्ज़ापुर 2 में दोबारा से अभिनय किया जिससे उनका क्रेज़ दर्शको में बना रहा है ।

सैफ अली खान

सर्वे में तीसरे नंबर पर आते है सैफ अली खान ने “सेक्रेड गेम्स” से अपना ओटीटी डेब्यू किया था । इसके बाद वो अमेज़न प्राइम के शो “तांडव” में नज़र आए । सैफ अली खान के साथ-साथ ये दोनों शो चर्चा में रहे थे । “सेक्रेड गेम्स” को नए किस्म के कंटेंट का दर्ज़ा मिला । वहीं, “तांडव” पर धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप लगे । “तांडव” के बाद उनका कोई ओटीटी प्रोजेक्ट रिलीज़ नहीं हुआ है । फिर भी मूड ऑफ द नेशन सर्वे में वो तीसरे स्पॉट पर रहे ।

सैफ अली खान (सर्वे)

बता दें कि अभिनेता सैफ अली खान के करियर की शुरूआत फिल्म “परंपरा” से हुई थी । उनकी अगली फिल्म “आशिक आवारा” के लिए उन्हें फिल्मफेयर की तरफ से सर्वश्रेष्ठ नवोदित अभिनेता का पुरस्कार भी मिला । अगले ही साल रिलीज हुई फिल्म “ये दिल्लगी” में उनके द्वारा निभाई गई भूमिका सफल रही और फिल्म हिट की श्रेणी में शामिल हो गई । इसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में काम किया लेकिन ज्यादातर वही फिल्में ही सफल हुईं जो कि मल्टीस्टारर थी ।

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी 

सर्वे में  सक्रेड गेम्स में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी चौथे स्पॉट पर है । उन्होंने नेटफ्लिक्स के लिए दो और प्रोजेक्ट्स किया, जहां उनके काम के हिस्से सिर्फ तारीफ ही आई । ये दो फिल्में थीं “सीरीयस मेन” और “रात अकेली है “।

नवाज़ुद्दीन सर्वे

अभिनेता नवाज़ुद्दीन उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के छोटे-से कस्बे बुढ़ाना के किसान परिवार से है । हरिद्वार की गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी से साइंस में ग्रेजुएशन किया है । लेकिन छोटे कस्बे की जिंदगी रास नहीं आई तो दिल्ली चला आया । जिंदगी चलाने का जरिया चाहिए था तो वह चौकीदार तक का काम करने से पीछे नहीं हटे । लेकिन उनके अंदर कुछ क्रिएटिव करने की भूख थी और कुछ कर दिखाने का जज्बा था‌ । इसलिए उन्होंने दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में दाखिला ले लिया और 1996 में वहां से ग्रेजुएट होकर निकले ।

कहते हैं जो लोग अपना सफर काफी नीचे से शुरू करते हैं, वे काफी ऊपर तक जाते है । तभी तो साल 1999 में शूल फिल्म में वेटर और सरफरोश में मुखबिर का रोल करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ऐसे सितारे बन चुके हैं जिनकी कान फिल्म फेस्टिवल में एक साथ तीन-तीन फिल्में अपना जलवा बिखेरने जाती हैं, तो उन्हें एक नहीं चार फिल्मों के लिए एक साथ राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है ।  नवाजुद्दीन को 2012 की तलाश, गैंग्स ऑफ वासेपुर-1, 2 और कहानी के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया है ।

अभिषेक बच्चन 

सर्वे में पांचवें स्थान पर अभिषेक बच्चन है । क्रांति के बाद अभिषेक बच्चन ने भी अपने प्रोजेक्ट्स के साथ एक्सपेरिमेंट किए  । “ब्रीद: इन टू द शैडोज़ ” से उन्होंने ओटीटी डेब्यू किया । उसी साल नेटफ्लिक्स पर उनकी फिल्म “लूडो” भी रिलीज़ हुई थी । इसके बाद वो द बिग बुल’ में दिखाई दिए, जहां उन्होंने हर्षद मेहता का रोल निभाया था‌ । “दसवी” और “बॉब बिस्वास” उनके आखिरी दो ओटीटी प्रोजेक्ट्स रहे है । पिछले सर्वे में अभिषेक दूसरे पायदान पर थे‌ । लेकिन इस बार उनकी रैंकिंग खिसकी है और वो पांचवे स्पॉट पर आ गए है ।

अभिषेक बच्चन( सर्वे)

अभिनेता अभिषेक ने साल 1998 में अपना करियर शुरू किया था । इसके बाद उन्होने अपने करियर की शुरुआत जेपी दत्ता की साधारणतया सफल फ़िल्म रिफ्यूजी से करीना कपूर के साथ 2000 में की । परन्तु सफलता करीना को मिली अगले चार साल की अवधि में बच्चन ने कई फ़िल्में बिना किसी बड़ी बॉक्स ऑफिस की सफलता के की, जैसे की अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय के साथ कुछ ना कहो वर्ष 2004 उनके लिए एक अच्छा वर्ष था ।

उन्होंने सरकार फ़िल्म में अपने प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता श्रेणी में अपना दूसरा फिल्मफेयर पुरस्कार जीता । बच्चन को पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेता की श्रेणी में फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था और साल 2006 में उनकी पहली फिल्म “कभी अलविदा ना कहना” थी, जो साल की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here