पांच बार की आईपीएल चैंपियन अपनी शुरूआती पांचों मुकाबले हार चुकी है और उस पर प्लेऑफ में न पहुंचने का खतरा मंडराने लगा है। मुंबई इंडियंस एक अच्छी टीम होते हुए भी अच्छा नहीं खेल पा रही, न तो उसके बैटर चल रहे है और नाही उसके गेंदबाज अच्छे लय में आ पा रहे है। पंजाब किंग्स ने बुधवार को हुए मुकाबले में आखिरी ओवर में जाकर मुंबई को मात दी। मैच एक मोड़ पर मुंबई के हाथ में भी था लेकिन कुछ ओवर्स के लिए। पंजाब ने मुंबई को 199 रनों का टारगेट दिया था, लेकिन वह उसे नहीं पा सकी और 12 रनों से मैच गंवा दिया।
आईपीएल 2022 में पंजाब किंग्स की यह तीसरी जीत है, जबकि मुंबई इंडियंस की लगातार पांचवीं हार है। मुंबई इंडियंस की ओर से डेवाल्ड ब्रेविस ने 49 रनों की बेहतरीन पारी खेली, लेकिन उनकी पारी भी टीम को जीत नहीं दिला पाई। मुंबई के लिए अब प्लेऑफ में जगह बनाना काफी मुश्किल होगा। क्योंकि वो शुरू में ही अपने पांच मुकाबले हार चुके है और इस आईपीएल सीजन में कोई भी टीम कमजोर आकने लायक नही है। जिस लय में मुंबई इंडियंस चल रही है उसी लय में चेन्नई सुपर किंग्स भी थी लेकिन चेन्नई ने अपना आखरी मुकाबला आरसीबी को हरा कर जीता और अपने पांचवे मैच में जीत का भूखा खत्म किया। चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस आईपीएल की सबसे सफल टीम है लेकिन इस साल दोनो टीम की अंकतालिका में सबसे नीचे है। दोनो टीमों के प्रदर्शन इस सीजन कुछ खास नहीं रहा।

 

मुंबई इंडियंस की पारी कुछ इस तरह से रही

 

बड़े से लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम को अपने कप्तान और सबसे महंगे रहे किशन से बहुत उम्मीदें थी लेकिन दोनो ने उस भरोसे को तोड़ा। बाकी मैचों की तरह मुंबई इंडियंस की शुरुआत इस मैच में भी अच्छी नही थी,ओपनर्स लगातार मुंबई के फ्लॉप हो रहे है। कप्तान रोहित शर्मा ने पहले चौके-छक्के लगाए लेकिन 28 के स्कोर पर वह आउट हो गए। रोहित से उम्मीद थी की वो अपने हिट मैन वाली छवि में सुधार लाएंगे लेकिन इस मैच के ऐसा नहीं हो सका। उनके तुरंत बाद ईशान किशन का भी विकेट गिरा। ईशान किशन मुंबई की ओर से सबसे ज्यादा पैसा लगाकर खरीदे गए है लेकिन अभी तक वो भी इस सीजन में अपना काम ठीक से नही कर पाय है। अब मुंबई सिर्फ 32 पर अपने दो विकेट गंवा चुकी थी, लेकिन इसके बाद कमाल ही हो गया। 19-19 साल के दो लड़के यानी डेवाल्ड ब्रेविस, तिलक वर्मा ने ताबड़तोड़ पारियां खेलीं और मुंबई के लिए एक उम्मीद की किरण खड़ा किया। दोनों खिलाड़ियों ने आपस में 41 बॉल में 84 रनों की पार्टनरशिप कर डाली, जिसने मुंबई इंडियंस की इस मैच में वापली करवा दी। अब जैसे ही ऐसा लगने लगा था की मुंबई इस मैच में वापसी कर ली है और जब डेवाल्ड ब्रेविस ने एक ही ओवर में चार छक्के मारे और कुल 49 रनों करी पारी खेली तब तो ऐसा लगने लगा की मुंबई अपनी पहली जीत दर्ज कर लेगी तब तक तिलक वर्मा 36 रन पर रनआउट हो गए। इसके बाद कायरन पोलार्ड भी सिर्फ 10 रन बनाकर रनआउट हुए। अब दोनो की साझेदारी टूटने के बाद मैच मुंबई के हाथ से निकल गया था। लेकिन सूर्यकुमार यादव ने भी आखिर में 43 रनों की तूफानी पारी खेल कर कोशिश की और ऐसा लग रहा था कि वह इस स्कोर को पार करवा देंगे। लेकिन सूर्यकुमार यादव का विकेट गिरते ही मुंबई के लिए सबकुछ बदल गया। और उसके बाद लगातार अंतराल पे विकेट गिरने का काम शुरू हो गया।

 

पंजाब किंग्स की पारी कुछ इस तरह से रही

 

पंजाब किंग्स को इस मुकाबले में ज़बरदस्त शुरुआत मिली। मयंक अग्रवाल और शिखर धवन की जोड़ी ने मिलकर 97 रनों धमाकेदार साझेदारी कर डाली,और दोनो ने एक पहाड़ जैसे स्कोर की नीव रखी। यही नहीं उन्होंने अपनी टीम के लिए इस सीजन की सबसे बड़ी पार्टनरशिप भी कर डाली। कप्तान मयंक अग्रवाल फॉर्म में लौटे और तूफानी 52 रन बना डाले। शिखर धवन ने भी टीम के लिए 70 रन बनाए। इस बार लियाम लिविंगस्टोन नहीं चले और जसप्रीत बुमराह की ज़बरदस्त यॉर्कर पर चारो खाने चित हो गए, बुमराह ने उन्हें बोल्ड कर दिया। आखिरी में टीम के लिए जितेश शर्मा ने एक बार फिर 30 रनों की तूफानी पारी खेली और आखिरी ओवर में शाहरुख खान ने बड़ी हिट लगाकर 15 रन बनाए और टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया। कुल मिला कर इस मैच में पंजाब का प्रदर्शन अच्छा रहा और सारे बल्लेबाज फॉर्म में दिखे। तभी तो टीम ने एक बड़ा स्कोर खड़ा किया जिसे मुंबई की टीम हासिल नहीं कर सकी।

 

हार के बाद रोहित का छलका दर्द

 

कोई कितना ही कुल कप्तान क्यों न हो अगर उसे लगातार पांच करारी हार झेलनी पड़े तो वो कही न कही टूट ही जाएगा। यही रोहित शर्मा के साथ हुआ जब वो अपना लगातार पांचवा मैच हार गए। रोहित शर्मा ने मैच हारने के बाद कहा कि उन्होंने कहा, ‘हम अलग-अलग प्रयोग कर रहे हैं लेकिन कोई भी कारगर साबित नहीं हो रहा। लेकिन मैं पंजाब से जीत का श्रेय छीनना नहीं चाहूंगा। उन्होंने शानदार खेल दिखाया।’ रोहित आगे कहते है कि “अपनी टीम में कोई गलती ढूंढना कठिन है। हमने अच्छा खेला और जीत के काफी करीब पहुंचे लेकिन दो बल्लेबाजों के रन आउट होने से नुकसान हुआ। एक समय हम जीत की ओर बढ रहे थे लेकिन लय कायम नहीं रख पाए जिसका श्रेय पंजाब के गेंदबाजों को जाता है।’ उन्होंने कहा, ‘199 का लक्ष्य हासिल किया जा सकता था। हम अपने प्रदर्शन का आत्ममंथन करके बेहतर तैयारी के साथ उतरेंगे।’ इन बयानों से साफ झलक रहा था की रोहित शर्मा काफी दुःखी थे लेकिन उन्होंने जाते जाते विश्वास दिलाया की वो आगे धमाकेदार वापसी करेंगे।

 

दोनो टीमें इस प्रकार थी

 

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), ईशान किशन, डेवाल्ड ब्रेविस, सूर्यकुमार यादव, तिलक वर्मा, कायरन पोलार्ड, जयदेव उनादकट, मुरुगन अश्विन, जसप्रीत बुमराह, टायमल मिल्स, बसिल थाम्पी

पंजाब किंग्स : मयंक अग्रवाल (कप्तान), शिखर धवन, जॉनी बेयरस्टॉ, लियाम लिविंगस्टोन, जितेश शर्मा, ओडिएन स्मिथ, शाहरुख खान, कगिसो रबाडा, राहुल चाहर, वैभव अरोड़ा, अर्शदीप सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here