46 साल के ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर एंड्रयू साइमंड्स का शनिवार रात कार ऐक्सिडेंट में मौत हो गई। एंड्रयू साइमंड्स की मौत से खेल जगत के साथ-साथ उनके लाखों फैंस को गहरे सदमे में है। एंड्रयू साइमंड्स को क्रिकेट से बहुत प्यार था। क्रिकेट ही नहीं उन्हें बॉलिवुड से भी खास लगाव रहा है। वह जब भी इंडिया आते थे तब पूरा एंजॉय करके जाते थे। और उन्होंने एक बार ये भी कहा था कि उन्हें यहां के कल्चर और लोगों को बहुत करीब से जानना है। आपको ये बात जानकर ताज्जुब होगा की एंड्रयू साइमंड्स ने साल 2011 में फिल्म ‘पटियाला हाउस’ में अक्षय कुमार के साथ मिलकर काम किया था। इस फिल्म में अक्षय कुमार लीड रोल में थे। इस फिल्म में एंड्रयू साइमंड्स ने खुद का ही रोल निभाया था। फिल्म क्रिकेट पर बेस्ड थी, जिसमें अक्षय कुमार ने मोंटी पनेसर से इंस्पायर्ड फास्ट बॉलर का किरदार निभाया था। एंड्यू साइमंड्स की यह भले ही पहली फिल्म थी, लेकिन वह शूट के दौरान सेट पर पूरी तरह से जम रहे थे। वही आपको बता दे की बिग बॉस सीजन पांच में भी एंड्यू साइमंड्स नजर आए थे। पटियाल हाउस करने के बाद हिंदी के प्रति उनका झुकाव बढ़ा और उन्होंने बिग बॉस में हिस्सा लिया। आपको बता दे कि एंड्यू साइमंड्स वाइल्ड कार्ड कंटेस्टेंट आए थे। उस समय उस शो के होस्ट सलमान खान और संजय दत्त थे।

 

ऐसा रहा उनका क्रिकेटिंग कैरियर

 

आपको बता दे की एंड्रयू सायमंड्स ने 1998 में ऑस्ट्रेलिया के लिए क्रिकेट में पदार्पण किया था। साइमंड्स ने 1998 से 2009 तक ऑस्ट्रेलिया के लिए 26 टेस्ट और 198 ओडीआई मैच खेले। आपको ये भी बता दे कि एंड्रयू साइमंड्स 2003 और 2007 में उस ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा थे, जिसने विश्व कप जीते थे। 2003 में भारत से जीते थे फिर 2007 में श्रीलंका को हराया था तब साइमंड्स ऑस्ट्रेलिया टीम के रेगुलर प्लेयर भी हुआ करते थे। एंड्रयू सायमंड्स ने खेले गए 198 एकदिवसीय मैचों में छह शानदार शतक और 30 अर्धशतक लगाए है। साथ ही साथ उन्होंने अपनी ऑफ स्पिन और मध्यम गति से 133 विकेट भी अपने नाम किया है। सायमंड्स ऑस्ट्रेलिया के बेहतरीन ऑलराउंडर में आते थे,जब जरूरत पड़ती थी तब बैट से गरजते थे और जब टीम को गेंदबाजी की जरूरत पड़े तो विकेट लेने से पीछे नहीं हटते थे। एंड्रयू सायमंड्स ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 14 टी-20 भी खेले, जिसमें 337 रन ही बना सके। और उन्होंने अपने बॉलिंग से 8 विकेट भी झटके। सायमंड्स 2007 टी 20 वर्ल्ड कप के हिस्सा भी थे जिसमे भारत विजय बना था। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने ट्वीट किया कि वेले एंड्रयू साइमंड्स। हम प्यारे क्वींसलैंडर के निधन से स्तब्ध और दुखी हैं, जिनका 46 वर्ष की आयु में दुखद निधन हो गया। पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने ट्वीट किया कि एंड्रयू सायमंड्स के ऑस्ट्रेलिया में एक कार दुर्घटना में निधन के बारे में सुनकर हैरान हो गया। हमने मैदान के अंदर और बाहर एक अच्छा रिश्ता साझा किया।क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के लिए ये साल काफी मुश्किल रहा है। मार्च में थाईलैंड में दिल का दौरा पड़ने से चैंपियन लेग स्पिनर शेन वार्न की मृत्यु हो गई थी। पूर्व विकेटकीपर रॉड मार्श का भी इस साल की शुरुआत में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

 

गजब के ऑलराउंडर थे एंड्रयू सायमंड्स

 

जैसा की एंड्रयू साइमंड्स ने 26 टेस्‍ट मैच और 198 वनडे मैच खेले थे,और उनका प्रदर्शन लाजवाब रहा था। ऑस्ट्रेलिया के मिडल ऑर्डर के स्तंभ माने जाते थे वो। आपको बता दे की एंड्रयू साइमंड्स की बेखौफ बल्‍लेबाजी से विरोधी कांपते थे। कब कौन सा बॉलर उनके गिरफ्त में आ जाए ये सिर्फ उन्हें ही पता होता था। उन्होंने अपनी ऑफ-स्पिन के दम पर कई मौकों पर ऑस्‍ट्रेलिया को विकेट्स दिलाए और मैच जितवाया। एंड्रयू साइमंड्स की गिनती दुनिया के सर्वश्रेष्‍ठ फील्‍डर्स में भी होती थी। यह वो दौर था जब फील्डिंग को उतना जरूरी स्किल नहीं माना जाता था। साइमंड्स ने इंग्‍लैंड के काउंटी क्रिकेट में अपने पहले ही सीजन में तहलका मचा दिया था। अगस्‍त 1995 में ग्‍लैमॉर्गन के खिलाफ ग्‍लूस्‍टरशर के लिए साइमंड्स ने 254 रनों की नाबाद पारी खेली। इस दौरान उन्‍होंने 16 छक्‍के लगाए जो वर्ल्‍ड रेकॉर्ड था। कुल मिलाकर साइमंड्स ऑस्ट्रेलिया के लिए एक कंप्लीट पैकेज थे जो किसी भी मैच को अपने दम पर पलट सकते थे।

 

विवादों से रहा नाता

 

जब किसी खिलाड़ी का कैरियर परवान चढ़ता है तो कोई न कोई विवाद उसके कैरियर पर ब्रेक लगाने का काम करता है वही एंड्रयू साइमंड्स के साथ भी हुआ। एंड्रयू साइमंड्स वैसे तो 2008 के पहले एकदम अलग थे लेकिन अचानक से 2008 के बाद से उनका करियर करवट लिया और वो विवादो से जुड़े रहे। ऐसा ही एक वाक्या 2008 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान हुआ। जब साइमंड्स ने दावा किया था कि भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने उन्हें मंकी यानी बंदर कहा था। भारतीय ऑफ स्पिनर को इस मामले की सुनवाई के बाद क्लीन चिट दे दी गई थी। इस मामले को ‘मंकीगेट’ कहा जाता है। और इसको लेकर काफी चर्चाएं भी हुई थी लेकिन इसमें हरभजन को क्लीन चिट पकड़ा दिया गया था। इसके बाद भी साइमंड्स का नाता विवादो से नही छूटा और उन्होंने शराब के नशे में पब में किसी से लड़ाई की खबरे सामने आई थी। बाद में उन्हें टी 20 वर्ल्ड कप से लौटने को बोल दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here