हमारा बदलता जीवन शैली हमारी आंखों पर बहुत बुरी तरीके से असर छोड़ता है। आमतौर पर हम यह जाने अनजाने में छोटी-छोटी कुछ ऐसी गलतियां कर देते है, जो हमारी आंखों के लिए बहुत ही घातक है यहां तक कि हमारे आंखों की रोशनी तक छीन सकती है।

 

हमारे बदलती जीवनशैली आंखों में हम अपने आंखों का केयर करना भूल जाते है। जिसकी वजह से लगभग सभी की आंखों पर चश्मे दिखाई देते है फिर चाहे वह छोटा हो या बड़ा हो। आंखें ईश्वर का दिया हुआ सबसे महत्वपूर्ण तोहफा है। अगर हमारे पास आंखें नहीं होती तो हम दुनिया की खूबसूरत चीजों को ना तो देख सकते ना ही इसे आनंद ले सकते‌। इसीलिए आंखों को सुरक्षित रखना अति आवश्यक है। आंखों की सुरक्षा को लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञ अलग-अलग प्रकार के सलाह देते है। कभी-कभी हम जाने अनजाने में ऐसी गलतियां कर देते है जो हमारी आंखों के लिए बहुत ही घातक होती है यहां तक की आंखों की रोशनी तक छीन लेती है। आंखों की समस्या का मुख्य कारण हमारी बदलता जीवन शैली से लिया है, जिसमें हम अपने खानपान रहन-सहन है।

 

आज के समय में तो कम उम्र के बच्चों में भी आंखों से संबंधी कई तरह की गंभीर समस्याएं देखने को मिलती है। आंखों की अच्छी सेहत के लिए भोजन की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। कई बार पौष्टिक आहार की कमी से आंखों की रोशनी पर नेगेटिव इंपैक्ट पड़ता है। तो आइए जानते है उन आदतों के बारे में जिससे हमारी आंखों पर नेगेटिव इफेक्ट पड़ता है और उसे कैसे सुधारे-

  • अधिकतर लोगों के लिए स्क्रीन पर अधिक समय बिताना दैनिक जीवन का एक नियमित हिस्सा हो जाता है, लेकिन स्क्रीन पर ज्यादा समय बिताना आपकी आंखों के लिए बहुत हानिकारक साबित होता है। फिर चाहे स्क्रीन कैसा भी हो- मोबाइल, टीवी, लैपटॉप सभी तरह के स्क्रीन पर अधिक समय बिताने से आंखें अस्वस्थ हो जाती है। इसी दौरान आंखों में सूखापन, लालिमा और खुजली की भी समस्या होती है। कम रोशनी में स्क्रीन को देखने से आंखों पर और अधिक दबाव पड़ता है। इसीलिए पलक झपकते हुए हमें कम रोशनी वाली स्क्रीन पर काम करना चाहिए। ज्यादातर लोगों का समय मोबाइल या लैपटॉप की स्क्रीन के ऊपर ही बीतता है ऐसे मैं खुद की आंखों को ब्रेक जरूरी है।
  • आंखों को स्वस्थ रखने के लिए कई तरह के पोषक तत्वों की जरूरत होती है। विटामिन ए, जिंक, ओमेगा-3 फैटी एसिड और विटामिन सी जैसे पोषक तत्व आंखों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए जरूरी होती है। गाजर आंखों की रोशनी के लिए अच्छा आहार माना जाता है। पीले और नारंगी रंग के फल और सब्जियां, गहरे रंग के पत्तेदार साग, अंडे, नट्स, और शी फूड्स आंखों की रोशनी बढ़ाने और उन्हें स्वस्थ रखने के लिए बहुत फायदेमंद आहार माने जाते है।
  • आप अगर 7-9 घंटे की नींद पूरी नहीं लेते है तो ऐसी आदत आपके मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ ही आंखों के लिए भी बहुत हानिकारक होती है। डॉक्टर की सलाह माने तो पर्याप्त आराम की कमी के वजह से हमारी आंखें लाल हो जाती है। इसके अलावा यह आदत आंखों के सूखेपन और धुंधली दृष्टि का भी कारण बन सकती है। आंखों के स्वास्थ्य को बेहतर रखने के लिए रात में अच्छी नींद लेना बहुत जरूरी है।
  • अगर आपकी आंखों में समस्या है और आपकी नज़र कमजोर है तो आप रात को बादाम, किशमिश और अंजीर पानी में भिगो दें और सुबह इन्हें पीस लें। फिर इसे पानी या दूध के साथ मिलाकर पिएं। ऐसा करने से आपकी आंखों की सभी समस्याओं से आपको बहुत जल्द ही छुटकारा मिल जाएगा।किशमिश और अंजीर तो आंखों के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे माने जाते है। इसके रोजाना इस्तेमाल करने से आंखों से संबंधित समस्याएं दूर होती है।
  • अपनी आंख को स्वस्थ रखने के लिए इसके आसपास की मांसपेशियों को उत्तेजित करने की जरूरत होती है। अपने आंखों को बाएं से दाएं, ऊपर और नीचे अपने अंगुलियों के मदद से घुमाएं। दिन में 2 से3 बार, क्लॉकवाइज और एंटीक्लॉकवाइज घुमाकर एक्सरसाइज करने से आंखें उत्तेजित हो जाती है और उनसे जुड़ी समस्याएं भी दूर हो जाती है।
  • आंवला स्वास्थ्य और शरीर दोनों के लिए बहुत बेहतरीन उपाए है। रोज सुबह एक चम्मच आंवला जूस पीने से आंखों की रोशनी दिन हर दिन बेहतरीन होती है। आंवले से सभी प्रकार की आंखों की समस्या से निजात मिलता है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here