अभिनेत्री जया बच्चन का आज अपना 74 वां जन्मदिन मना रही है । जया बच्चन का जन्म 9 अप्रैल 1948 को जबलपुर, मध्य प्रदेश में हुआ था और उन्हें अपने समय की हिन्दी सिनेमा की सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रियों में से एक के रूप में पहचाना जाता है । अपने करियर के दौरान, उन्होंने नौ फिल्मफेयर पुरस्कार जीते थे जिसमें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए तीन और सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए तीन शामिल है । जया बच्चन अपने जमाने मशहूर अभिनेत्रियों में से वो एक रही है और उन्होंने कई वर्षों तक सिल्वर स्क्रीन पर राज किया है । इसके साथ ही उन्होंने अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत समाजवादी पार्टी से 2004 में की थी ।

अभिनेत्री जया बच्चन ने महज 15 साल की उम्र में अभिनय करियर की शुरुआत की थी । अभिनेता जया बच्चन ने साल 1963 में सत्यजीत रे की बंगाली फिल्म “महानगर” में सपोर्टिंग एक्ट्रेस का किरदार निभाया था । यही से अभिनेत्री ने अपने सपने को जीना शुरू किया था ।अभिनेत्री जया बच्चन ने फिल्म गुड्डी से साल 1971 में बॉलीवुड में डेब्यू किया था । इसके बाद अभिनेत्री ने मिली, चुपके-चुपके, जंजीर जैसी कई सुपरहिट फिल्में भी दी ।

 

ऐसे हुई थी अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की लव स्टोरी-

साल 1972 में जया बच्‍चन ने फिल्म “बंसी बिरजू” साइन की थी और इसी फ‍िल्‍म के सेट पर वह पहली बार अमिताभ बच्‍चन से मिली थी और उस समय अमिताभ की फिल्में कुछ खास कमाल नहीं कर पा रही थी लेकिन जया को पहली ही नजर में अमिताभ भा गए थे । कहा जाता है कि जैसे ही जया ने अमिताभ को देखा, वह देखती रह गई थी । फिल्‍म “जंजीर” के हिट होने की खुशी अमिताभ और जया लंदन जा कर मनाना चाहते थे , तब तक किसी को पता भी नहीं था कि जया और अमिताभ एक दूसरे को पसंद करते है । जब यह बात हरिवंश राय बच्‍चन को पता चली तो उन्‍होंने आमिताभ को डांटा और कहां कि लंदन जाना है तो पहले इस लड़की से शादी करलो । बेहद सादे समारोह में दूसरे ही दिन 3 जून, 1973 को अमिताभ और जया की शादी हो गई । शादी के अगले ही दिन जया और अमिताभ लंदन घूमने चले गए थे । यह बहुत कम लोग जानते है कि जया बच्चन एक अच्छी स्क्रिप्ट राइटर भी है , अभिनेत्री जया बच्चन ने अमिताभ की ब्लॉकबस्टर फिल्म “शंहशाह” की स्टोरी लिखी थी । बहुत कम लोगों को मालूम होगा कि फिल्म “शोले” की शूटिंग के दौरान जया बच्चन मां बनने वाली थी , फिल्म में उन्होंने राधा का किरदार निभाया था और उनके अपोजिट अमिताभ बच्चन थे ।

 

अभिनेत्री का शुरुआती जीवन, शिक्षा और फिल्मी करियर-

अभिनेत्री जया बच्चन एक बंगाली हिन्दू परिवार से सम्बन्ध रखती थी , इनके परिवार में माँ बाप के साथ-साथ एक बहन भी थी । जिनका नाम रीता वर्मा है जो कि जया बच्चन की एकलौती बहन है । जया बच्चन के पिता तरुण कुमार भादुड़ी लेखक होने के अतिरिक्त पत्रकार एवं मंच कलाकार भी थे । जया बच्चन की माता इंदिरा भादुड़ी घर को संभालने वाली महिला थी ।अभिनेत्री जया बच्चन के बचपन में उन्हें जया भादुड़ी नाम दिया गया था, जो कि विवाह के बाद जया बच्चन हो गया था । अभिनेत्री जया बच्चन की स्कूलिंग भोपाल से हुई थी । पहले से जया बच्चन के अंदर लोगों को मैनेज करने का जज्बा था । इस जज्बे के कारण ही जया बच्चन अपने स्कूल की हेड गर्ल भी रह चुकी है । स्कूल की शिक्षा पूरी करते समय ही जया बच्चन को अभिनय करने की प्रतिभा का अंदाजा लग गया था , इसलिए इन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई के लिए फिल्म एंड टेलीविजन ऑफ इंडिया नामक कॉलेज में पुणे चली गई । इतना ही नहीं इस कॉलेज में एक्टिंग सम्बन्धी कोर्स करके इन्होंने अपनी अभिनय प्रतिभा को भी सुधारा था। इसके अलावा अपनी पढ़ाई के दौरान जया जी को बेस्ट इंडिया एनसीसी कैडेट पुरस्कार मिला था, जो सन् 1966 में गणतंत्र दिवस समारोह में दिया गया था । 3 जून साल 1973 में अभिनेता अमिताभ बच्चन से शादी की थी, इस जोड़े के दो बच्चे भी है श्वेता बच्चन नंदा और अभिषेक बच्चन जया के बेटे अभिषेक बच्चन भी एक बॉलीवुड फिल्मों में काम करने वाले कलाकार है । अभिनेत्री जया बच्चन और अमिताभ की लड़की श्वेता ने दिल्ली में कपूर परिवार के व्यापारी निखिल नंदा से विवाह किया था । जिसके फलस्वरूप श्वेता एवं निखिल को दो संताने भी है । इन दोनों बच्चों के नाम नव्या नवेली एवं अगस्त्य नंदा है । वही जया बच्चन के लड़के अभिषेक बच्चन का ऐश्वर्या राय बच्चन से विवाह संपन्न हुआ था और विवाह के कुछ समय बाद अभिषेक एवं ऐश्वर्या के घर में एक पुत्री ने जन्म लिया था, जिसका नाम आराध्या बच्चन रखा गया है । अभिनेत्री जया बच्चन मीडिया में काफी सक्रिय है और किसी पहचान की मोहताज नहीं है । अक्सर उन्हें राज्य सभा में बोलते हुए देखा गया है और इस दौरान कई बार वह सांसदों पर बुरी तरह भड़कती हुई नज़र भी आती है । सिर्फ राजनेताओं पर ही नहीं बल्कि पब्लिकली पैपराजी और फैंस पर भी गुस्सा होते देखा गया है । कई बार उनका गुस्सा सातवें आसमान पर भी पहुंच जाता है और इसी वजह से वह ट्रोलिंग का शिकार तक हो चुकी है । अभिनेत्री जया बच्चन ने अब राजनीति का रुख किया है , वह चुनावी रैलियों में भी बढ़चढ़कर हिस्सा भी लेती है । इसी तरह से एक बार जया बच्चन तृणमूल कांग्रेस के समर्थन में रोड शो रही थी , इसलिए भीड़ भी काफी ज्यादा थी । उसी वक्त उनका एक कार्यकर्ता सेल्फी लेने की कोशिश करता है, यह देखते ही जया बच्चन का गुस्सा अपने ही कार्यकर्ता पर फट पड़ा था । उनके ऊपर आरोप लगा कि उन्होंने कार्यकर्ता को धक्का दिया है। । इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुआ था ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here