जिसने कहा है उसने सही कहा है की धोनी अगर मिट्टी को भी छू दे तो वो सोना बन जाता है। जैसा की सबको पता है की बीच आईपीएल में ही रविन्द्र जडेजा ने चेन्नई की कप्तानी छोड़ दी तब फिर से महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी संभाली है। और कप्तानी के पहले ही मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने हैदराबाद को हरा दिया। चेन्नई सुपर किंग्स ने रविवार को हुए मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद को 13 रनों से मात दी है। आप को बता दे कि इस सीजन में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स का यह पहला मैच था, जिसमें उसे जीत मिली। पहले बैटिंग करते हुए चेन्नई ने 202 रनों का पहाड़ जैसा बड़ा स्कोर खड़ा किया, जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम 189 रन ही बना पाई और मैच 13 रन से हार गई। यह इस सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स की तीसरी जीत है और अब उसके 6 प्वाइंट हो गए हैं। चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से ऋतुराज गायकवाड़ जो अभी तक फॉर्म में नही चल रहे थे उन्होंने सबसे ज्यादा 99 रनों की शानदार पारी खेली। लेकिन अफसोस की वो अपने आईपीएल करियर के दूसरे शतक से चूक गए। ऋतुराज-डेवॉन कॉन्वे ने मिल कर 182 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी की। ये चेन्नई सुपर किंग्स की सबसे बड़ी रिकॉर्ड साझेदारी है। अगर हैदराबाद की तरफ से बात करें तो कप्तान केन विलियमसन ने 47 रनों की शानदार पारी खेली लेकिन वो अपनी पारी को लंबा नही खीच पाय, वहीं अंत में निकोलस पूरन ने 33 बॉल में 64 रनों की तेजतर्रार पारी खेली। निकोलस ने अपनी पारी में 3 चौके, 6 शानदार छक्के लगाए। अभिषेक शर्मा ने भी अच्छी पारी खेली और उन्होंने 39 रन बनाए। उसके बाद राहुल त्रिपाठी तो अपना खाता भी नहीं खोल पाए और 0 रन पर ही आउट हो गए। वही एडन मर्करम ने मात्र 17 रन बनाए जिसके वजह से शायद हैदराबाद जीत से दूर रह गई। एडन मर्करम इस सीजन में अच्छे फॉर्म में दिखे है।

 

चेन्नई सुपर किंग्स की पारी

 

चेन्नई सुपर किंग्स की पारी की अगर बात करे तो पूरी पारी ओपनर्स पर ही टिकी हुई नजर आई। पहले विकेट के लिए 182 रनों की साझेदारी हुई। जिसमे ऋतुराज गायकवाड़ 99 रन जो अपने शतक से मात्र 1 रन से चूक गए। वही दूसरी तरफ डेवॉन कॉन्वे ने 85 रनों की पारी खेली। दोनो ने अकेले दम पर टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचा दिया। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस मैच में तीसरे नंबर पर बैटिंग करने आए लेकिन 8 रन ही बना सके। वही जडेजा को ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला। वही दोनो टीमों की बदलाव की बात करे तो सनराइजर्स हैदराबाद की टीम में कोई बदलाव नहीं किया गया है। वहीं चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में दो बदलाव दिखे जो चेन्नई ने किया। ड्वेन ब्रावो और शिवम दुबे की जगह डेवोन कॉन्वे और सिमरजीत सिंह को मौका मिला है। और डेवोन कॉन्वे टीम में आते ही अपनी बैटिंग से सबको मोह लिया। आप को बता दे की डेवोन कॉन्वे न्यूजीलैंड के लिए क्रिकेट खेलते हैं।

 

आईपीएल में भविष्य पर कैप्टन धोनी का बड़ा बयान

 

जैसा की सबको पता हो चुका है की महेंद्र सिंह धोनी ने चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी एक बार फिर से संभाल ली है। आईपीएल शुरू होने से पहले धोनी ने कप्तानी सर जडेजा को सौप दी थी लेकिन जब टीम को स्थिति इस सीजन में बिगड़ी तो जडेजा ने कप्तानी छोड़ दी और अब फिर से कमान संभाला है दुनिया के सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी। धोनी ने कप्तानी संभालते ही अपने भविष्य को लेकर बयान भी दे दिया। टॉस के वक्त जब धोनी से सवाल किया गया की क्या वो इस पीली जर्सी में फिर से दिखेंगे तो उन्होंने जवाब दिया और कहा कि बिल्कुल, आप मुझे येलो जर्सी में ही देखोगे, लेकिन वो ये होगी या कोई और उसके बारे में नहीं पता.’

 

 

अब इस बयान के बाद धोनी ने सबको कन्फ्यूज कर दिया है क्योंकि सबको ये लग रहा था की धोनी का ये आखरी आईपीएल है जिसके कारण उन्होंने कप्तानी भी दूसरो को सौप दी थी। अब कयास लगाया जा रहा की अगर धोनी आईपीएल नही खेलेंगे और जर्सी पीली रहेगी तो क्या हो सकता है। तो जवाब ये निकल कर आता है की धोनी क्रिकेट छोड़ने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स के मेंटर बन सकते है। धोनी जब टॉस करने आए तो पूरा स्टेडियम धोनी धोनी के शोर से गूंज उठा।

 

जमकर बरसे ऋतुराज गायकवाड़

 

खराब फॉर्म से जूझ रहे ऋतुराज गायकवाड़ एक अलग ही फॉर्म में नजर आए। रविवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मुकाबले में इस युवा बल्लेबाज ने 99 रनों की शानदार पारी खेली, जिसमें छह छक्के एवं 6 चौके शामिल थे। ऋतुराज को टी. नटराजन ने भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच आउट कराया। मात्र एक रन से शतक नहीं बना सकने का मलाल ऋतुराज के चेहरे पर साफ देखा जा सकता था,आउट होकर लौटते समय काफी निराश थे। ऋतुराज गायकवाड़ यदि 1 रन पूरा कर लेते, तो यह उनके आईपीएल करियर का यह दूसरा शतक होता। इससे पहले ऋतुराज ने आईपीएल करियर का इकलौता शतक राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पिछले सीजन में बनाया था जिसमे उन्होंने 101 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। 99 पे आउट होने वाले पांचवे खिलाड़ी बन गए ऋतुराज। इससे पहले विराट कोहली, पृथ्वी शॉ, ईशान किशन और क्रिस गेल 99 पर आउट हो चुके है और इसी क्लब के ऋतुराज भी शामिल हो गए जिसमे कोई भी खिलाड़ी शामिल नहीं होना चाहेगा कभी भी।

 

दोनो टीम इस प्रकार से थी

 

सनराइजर्स हैदराबाद : केन विलियमसन (कप्तान), अभिषेक शर्मा, राहुल त्रिपाठी, एडेन मार्करम, निकोलस पूरन (विकेटकीपर), शशांक सिंह, वॉशिंगटन सुंदर, भुवनेश्वर कुमार, टी. नटराजन, मार्को जानसेन, उमरान मलिक।

 

चेन्नई सुपर किंग्स : रॉबिन उथप्पा, ऋतुराज गायकवाड़, डेवोन कॉन्वे, अंबति रायडू, सिमरजीत सिंह, रवींद्र जडेजा, एमएस धोनी (कप्तान/विकेटकीपर), ड्वेन प्रिटोरियस, मिचेल सेंटनर, मुकेश चौधरी, महीष तीक्ष्णा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here