14 अगस्त वर्ष 1957 को जन्मे जॉनी लीवर अपने शानदार कॉमिक रोल के चलते खूब मशहूर है । अपने बेहतरीन कॉमेडी से सभी को हंसा-हंसाकर लोट-पोट करने वाले जॉनी लिवर का आज बर्थडे है । जॉनी लीवर और का बचपन स्लम एरिया में बीता, और यहीं से उन्होंने छोटे-मोटे शो करना शुरू कर दिए थे । उनके पिता शराब के आदी थे , जिसके चलते उन्हें बचपन से ही काम करना पड़ा था । तो आइए उनके जन्मदिन के अवसर पर उनसे जुड़े दिलचस्प किस्से-

जॉनी लीवर का परिवार

जॉनी लीवर का निजी जीवन

 जॉनी लीवर एक लोकप्रिय कॉमेडीयन और एक्टर है ।कॉमेडी के बादशाह कहे जाने वाले जॉनी लीवर का प्रकाशम आंध्र प्रदेश में हुआ था । उनके पिता का नाम प्रकाश राव जनमुला है । उनके घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी । उनके पिता एक निजी कंपनी में ऑपरेटर का काम करते थे । जॉनी लीवर की मां का नाम करुणाममा जनमूला है । जो वह एक ग्रहणी है। जॉनी लीवर के परिवार में यह 7 लोग थे । जॉनी लीवर अपने परिवार में अपने भाई बहनों में सबसे बड़े थे इनसे छोटे इनका एक भाई व तीन बहने थे । अपने भाई बहनों में सबसे बड़े रहने के कारण उन्हें शुरुआत से ही सबकी चिंता लगी रहती थी । जॉनी लीवर पत्नी है उनका नाम है सुजाता लीवर । और उनकी एक बेटी भी है जिसका नाम है जिम्मी लीवर । जॉनी लीवर की बेटी जिम्मी लीवर भी एक हास्य कलाकार है ।
कॉमेडियन जॉनी लीवर

जॉनी लीवर का बचपन

जॉनी लीवर के परिवार की आर्थिक स्थिति उतनी अच्छी नहीं थी । उन्होंने बचपन से ही आर्थिक मंदी की बहुत सी परेशानियां झेली है । बता दें कि जॉनी लीवर का रियल नेम है जॉन प्रकाश राव है । लेकिन बॉलीवुड में एंट्री लेने के बाद उन्हें सब लोग जॉनी लीवर के नाम से जानने लगे । जॉनी लीवर अपने परिवार में अपने सभी भाई बहनों में सबसे बड़े थे जिसकी वजह से इन्हें अपने भाई बहनों को संभालने का भी जिम्मेदारी था ।
जॉनी लीवर भाई बहन छोटे थे और वह कभी रोते तो जॉनी लीवर उन्हें हंसाने के लिए तरह-तरह की एक्टिविटी किया करते थे । और यही से उनके अंदर हास्य की कला जागी । पर उन्होंने कभी सोचा नहीं था कि वह एक दिन एक बहुत ही लोकप्रिय हास्य कलाकार बन जाएंगे । जॉनी लीवर बचपन से ही किसी की मिमिक्री कर लोगों को हंसाना बहुत पसंद करते थे ।
जॉनी लीवर

जॉनी लीवर की शिक्षा

जॉनी लीवर ने आंध्र एजुकेशन सोसायटी हाई स्कूल से अपनी पढ़ाई शुरू की थी , लेकिन उनके घर की हालत बहुत ज्यादा खराब होने की वजह से जॉनी लीवर को सातवीं क्लास के बाद अपनी पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी । उन्होंने स्कूली समय से ही अपने परिवार का साथ देना चालू कर दिया था , क्योंकि घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी और उनके परिवार में लोग भी ज्यादा थे ।
 जॉनी लीवर की घर की स्थिति जब बहुत ज्यादा खराब हो गई थी । तब उन्होंने अपने घर वालों की मदद करने की ठानी जिसके बाद उन्होंने मुंबई की सड़कों पर बॉलीवुड सितारों की नकल करके घूम घूमकर पेन बेचना शुरू कर दिया था । इसके साथ ही जॉनी लीवर डांस करके भी लोगों का मनोरंजन किया करते थे ।  बताया जाता है कि जॉनी लीवर को बचपन से ही मिमिक्री करने का बेहद शौक था । और उन्होंने सातवीं के बाद कभी स्कूल व पढ़ाई का मुंह नहीं देखा ।
जॉनी लीवर बर्थडे
साल 1984 में अपने फिल्मी करियर की शुरुआत करने वाले जॉनी लीवर अब तक 350 से ज़्यादा फिल्मों में अभिनय कर चुके है । हालांकि खराब फाइनेंशियल कंडीशन के चलते जॉनी ज़्यादा पढ़ नहीं सके । पेट भरने के लिए उन्होंने मुंबई की सड़कों पर पेन भी बेचा था । वो बॉलीवुड गानों पर डांस करते हुए और फिल्म एक्टर्स की नकल करते हुए पेन बेचते थे । इंट्रेस्ट और लगन के दम पर उन्होंने अपने मिमिक्री टैलेंट को विकसित किया । इस काम में उनकी मदद मिमिक्री आर्टिस्ट प्रताप जैन और राम कुमार ने की ।

बॉलीवुड एक्टर सुनील दत्त ने दिया था जॉनी लीवर को मौका

जॉनी लीवर मुंबई की हिंदुस्तान लीवर कंपनी में अपने पिता के साथ काम भी कर चुके है । यहां वो काम करते हुए सहकर्मियों को अपने कॉमेडी टैलेंट से हंसाते भी रहते थे ।  जॉनी लीवर काम के साथ-साथ शो भी करने लगे, जिससे उन्हें अलग पहचान मिलने लगी । एक शो में बॉलीवुड एक्टर सुनील दत्त ने उनके टैलेंट को पहचाना और उन्हें ” दर्द का रिश्ता ” में काम करने का अवसर दिया । यहीं से शुरू हुआ था जॉनी की सफलता का सिलसिला और फिर चलता रहा।
जॉनी लीवर का करियर

जॉनी लीवर से जुड़ी दिलचस्प किस्से-

 

  • जॉनी लीवर की आर्थिक स्थिति शुरुआत से ही अच्छी नहीं थी । और का बचपन स्लम एरिया में बीता । उनका घर ऐसा था कि बारिश होने पर पानी घर में पड़ जाता था ।
  • जॉनी लीवर को बचपन से ही लोगों की नकल करना, लोगों की कॉपी करना बहुत ही अच्छा लगता था । 15 -16 साल की उम्र में वह एक्टर्स की आवाज निकालने की कोशिश करते थे ।
  • 17 साल की उम्र में जॉनी लीवर स्टेज पर परफॉर्म करना और मिमिक्री करना शुरू कर दिया था । 18 साल की उम्र में उन्होंने अपने पापा के साथ काम करना शुरू किया ।
  • एक स्टेज शो में एक्टर सुनील दत्त की उन पर नज़र पड़ी और उन्होंने जॉनी लीवर को फ़िल्म ” दर्द का रिश्ता ” में पहला ब्रेक दिया । लेकिन जॉनी अपनी कामयाबी का श्रेय फ़िल्म बाज़ीगर को देते है‌ ।
  • जॉनी लीवर का कहना है कि , ” 12 साल तक मुझे मिम्मक्री आर्टिस्ट ही समझा जाता था‌ । लोगों को 12 साल लग गए मुझे एक्टर समझने में‌ ।”
  • जॉनी लीवर ने अपनी ज़िन्दगी को सफल बनाने के लिए बहुत संघर्ष किया है और उनके लिए एक संघर्ष हिंदी सीखना‌ भी था ।
  • जॉनी लीवर ने सुजाता से साल 1984 में शादी की थी । जॉनी लीवर के दो बच्चे- एक बेटी और एक बेटी है । जॉनी लीवर का बेटा जेसी और बेटी जेमी अपने पिता की तरह ही कॉमेडियन है ।
  • जॉनी लीवर कैंसर से पीड़ित थे । कई साल ट्रीमटेंट के बाद वह कैंसर फ्री हो गए थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here