इस सीजन आईपीएल के डेली मैचों में पॉइंट्स टेबल का समीकरण बदलता ही जा रहा है। आज अगर कोई टीम टॉप 4 से बाहर है और वो कल कोई मैच खेलती है तो वो टॉप 4 में पहुंच जाती है। रोज कुछ न कुछ पॉइंट्स टेबल का बदल रहा। इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल 2022 के 58वें मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने राजस्थान रॉयल्स की टीम को एक तरफा मुकाबले में 8 विकेट से करारी शिकस्त दे दी। इस मैच में दिल्ली को जिताने में अहम किरदार निभाया मिचेल मार्श ने जिन्होंने शानदार (89) और डेविड वार्नर (52 नाबाद) रन की पारी खेली, दोनो मैच को लेकर अंत तक चले आए। दोनों ही बल्लेबाज़ों ने शून्य पर टीम का पहला विकेट गिरने के बाद टीम को शानदार तरीके से संभाला और दूसरे विकेट के लिए रिकॉर्ड 144 रन की साझेदारी कर डाली।

 

दिल्ली की टीम की इस सीजन में खेले गए 12वें मैंच में से छठी जीत है। वहीं राजस्थान रॉयल्स को 12वें मैच में 5वीं हार का सामना करना पड़ा है।

 

राजस्थान रॉयल्स की पारी

 

इस सीजन में अमूमन कोई भी टीम अगर टॉस जीत जाती है तो वो पहले फील्डिंग ही चुनती है वही कल के मैच में भी हुआ। ऋषभ पंत ने टॉस जीता और राजस्थान को पहले आमंत्रित किया बैटिंग करने के लिए। राजस्थान रॉयल्स की शुरुआत ठीक ठाक रही पावरप्ले में और राजस्थान की टीम ने 6 ओवर में 43 रन बनाय और अपना एक विकेट गवा दिया। पहला विकेट फॉर्म में चल रहे जोस बटलर का ही गिरा था जिन्होंने 11 गेंदों में 7 रन की धीमी पारी खेली। जोस बटलर को चेतन साकरिया ने अपना शिकार बनाया। आपको बता दे की चेतन साकरिया पिछले साल आईपीएल में राजस्थान की टीम से खेल रहे थे। उसके बाद एक साझेदारी पनपी यशस्वी जैसवाल और अश्विन के बीच जो थोड़ी लम्बी चली। पहले तो बैटिंग लाइनअप में अश्विन का ऊपर आना कुछ समझ में नही आया। लेकिन यशस्वी और अश्विन ने पारी को संभाला और स्कोर को पचास पार कराया। फिर 54 के स्कोर पर मिचेल मार्श ने यशस्वी को वापस भेज दिया। यशस्वी ने 19 गेंदों में 19 रन बनाए। फिर पाडिकल और अश्विन के बीच एक बड़ी साझेदारी होने लगे लेकिन उसे भी मार्श ने ही तोड़ा और अश्विन को वार्नर के हाथो कैच करा दिया। लेकिन तब तक अश्विन अपना काम कर चुके थे। उन्होंने 38 गेंदों में 50 रन बनाय जिसमे 4 चौके थे और 2 छक्के शामिल रहे। अश्विन के आउट होते ही विकेटों की झड़ी लग गई और कोई भी बल्लेबाज टिक कर नही खेल पाया। पाडिकल ने भी अश्विन का अच्छा सहयोग किया था साझेदारी बनने में। पाडिकल ने आउट होने के पहले 30 गेंदों में 48 रन बनाय जिसमे 6 चौके और 2 बेहतरीन छक्के शामिल थे। टीम के कप्तान संजू कुछ अच्छा नही कर पाय और आए चले गए। उन्होंने 4 गेंदों में 6 रन बनाए। रियान पराग ने आते एक छक्का लगाया तो ऐसा लगा की आज वो दिल्ली के गेंदबाजों की खबर लेंगे लेकिन वो भी मात्र 9 रन पर चेतन साकरिया का शिकार हुए। इस तरह से राजस्थान की पूरी टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में 6 विकेट खोकर 166 रन बनाए। वही अगर दिल्ली के गेंदबाजों की बात करे तो चेतन साकरिया ने सबसे अच्छी बॉलिंग कराई और उन्होंने अपने 4 ओवर के कोटे से मात्र 23 रन देकर 2 महत्वपूर्ण विकेट झटके। वही नोर्तजे थोड़े महंगे साबित हुए,उन्होंने 4 ओवर में 39 रन दे डाले लेकिन उन्हें भी 2 विकेट मिला। ठाकुर ने अपने 4 ओवर में 27 रन दिए लेकिन उनके नाम एक भी सफलता दर्ज नही हुई। वही अक्षर पटेल महंगे रहे जिन्होंने 2 ओवर में 25 रन दे डाले। मिचेल मार्श ने अच्छी गेंदबाजी की और 2 विकेट झटके।

 

दिल्ली की पारी

 

167 रनों का पीछा करने उतरी दिल्ली की शुरुआत बेहद ही खराब रही और पहले ही ओवर की दूसरी गेंद पर भरत आउट होकर वापस लौट गए लेकिन फिर टीम प्रेशर में नही आई और डेविड वार्नर और मिचेल मार्श ने 144 रनों की साझेदारी कर डाली। इन दिल्ली के दोनो बल्लेबाज़ों के सामने राजस्थान रॉयल्स के बॉलर एकदम से लाचार दिखे। मार्श ने शानदार 62 गेंदों पर 89 रन की पारी खेली जिसमे 5 चौके और 7 छक्के शामिल थे। लेकिन जब मार्श अपने शतक के करीब बढ़ रहे थे तभी पर्पल कैप होल्डर चहल ने मार्श को आउट कर दिया। मार्श अपना शतक नही बना पाय। मार्श के आउट होने के बाद ऋषभ पंत आय जिन्होंने तेज पारी खेल कर मैच खत्म कर डाला। वार्नर नाबाद रहे और उन्होंने 41 गेंदों पर 52 रन की पारी खेली। जिसमे 5 चौके और 1 छक्का शामिल था। ऋषभ पंत ने 4 गेंदों में 2 छक्के लगाकर कुल 14 रन बनाय। इस तरह से एकदम आसान सी जीत दिल्ली को मिल गई। गेंदबाजी की बात करे तो बोल्ट ने 4 ओवर में 32 रन देकर 1 विकेट झटके। प्रसिद्ध कृष्णा ने अच्छी गेंदबाजी कराई और उन्होंने एक ओवर मेडल भी डाला। वही सबसे महंगे रहे चहल जिन्होंने 4 ओवर में 43 रन लुटा दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here