आईपीएल पर भी कोरोना का साया चल रहा और इस से सबसे ज्यादा कोई जूझ रहा है तो दिल्ली कैपिटल्स की टीम है। दिल्ली के कई स्टाफ और खिलाड़ी कोरोना पॉजीटिव पाय गए उसके बाद भी दिल्ली ने दम दिखा कर पंजाब को न सिर्फ इस सीजन के सबसे छोटे स्कोर पर रोका बल्कि उसे हराया भी। कोरोना से जूझ रही दिल्ली की टीम का हौसला जरा भी कम नहीं हुआ है। 20 अप्रैल यानी कल हुए इस मैच में पंजाब किंग्स ने पहले बैटिंग करते हुए सिर्फ 115 का स्कोर बनाया था जो इस सीजन का सबसे कम रन भी है। 115 रनों के जवाब में दिल्ली कैपिटल्स ने करीब 10 ओवर रहते ही इस लक्ष्य को हासिल किया और 9 विकेट से बड़ी जीत दर्ज की,इस जीत से दिल्ली को काफी फायदा होगा क्योंकि उसका रन रेट अच्छा हो गया होगा। दिल्ली कैपिटल्स की ओर से फॉर्म में चल रहे डेविड वॉर्नर ने बेहतरीन फिफ्टी जड़ी, साथ ही पृथ्वी शॉ ने भी 41 रनों की तेजतर्रार पारी खेली। आप सब को पता ही होगा कि इस मैच को लेकर कई तरह का सस्पेंस था, और ऐसा लग रहा था की ये मैच पूरा नहीं हो पाएगा क्योंकि बुधवार सुबह ही दिल्ली कैपिटल्स के खिलाड़ी टिम सिफर्ट कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। अब ये सब के बाद दिल्ली खुद दबाव में थी की उसके खिलाड़ी फिलहाल कोविड से जूझ रहे है और टीम मैच खेलने उतरी और एक धमाकेदार प्रदर्शन भी किया।

 

दिल्ली कैपिटल्स की पारी जो पूरी तरह से एकतरफा रही

 

इस पूरे सीजन ने दिल्ली कुछ खास नहीं खेली। दिल्ली की टीम इतने छोटे से लक्ष्य का पीछा करने उतरी और उसे किया भी सिर्फ 116 रनों का पीछा करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स ने तूफानी शुरुआत की और 10 ओवर के भीतर ही इस लक्ष्य को पूरा कर लिया। पृथ्वी शॉ ने 41 रनों की तूफानी पारी खेली और उनका साथ ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर ने दिया। 41 रन बनाकर पृथ्वी आउट हुए लेकिन वॉर्नर नहीं रुके और शानदार फिफ्टी जड़ी। वार्नर कुछ अलग ही अंदाज में इस सीजन बैटिंग कर रहे है। डेविड वॉर्नर और सरफराज़ खान ने क्रीज़ पर रहकर लक्ष्य को पाया, टीम को बड़ी जीत दिलवाई और नेट-रनरेट में ज़बदस्त फायदा पहुंचवाया। दिल्ली की टीम का सिर्फ एक ही विकेट गिरा था और वो था पृथ्वी शॉ का जिन्होंने 41 रनों की बेहतरीन पारी खेली। इस तरह से ये जीत दिल्ली के लिए बूस्टर जैसा काम करेगा।

 

पंजाब की लय बिगड़ी

 

पंजाब के खिलाफ हुए मुकाबले में टीम की शानदार बॉलिंग देखने को मिली जो अभी तक इस सीजन में नही मिला था। पंजाब में कप्तान मयंक अग्रवाल की वापसी हुई,जो पिछले मैच नही खेल पाय थे लेकिन टीम की बल्लेबाजी ने पूरी तरह दम तोड़ दिया। शिखर धवन, मयंक, लियाम, जॉनी जैसे स्टार प्लेयर्स का भी बल्ला नही चला और वो 54 रन के भीतर ही अपने कीमती विकेट खो चुके थे। जिसके बाद पंजाब की टीम वापसी ही नहीं कर पाई और लगातार अपने विकेट गंवाती रही। दिल्ली कैपिटल्स की ओर से कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, खलील अहमद ने शानदार बॉलिंग का स्पेल डाला और अपने टीम की जीत की नीव रखी जो आगे चल कर दिल्ली के काम भी आया।

 

दिल्ली के ड्रेसिंग रूम में दिखा कोरोना का खौफ

 

इस सीजन फिर कोरोना ने दस्तक दे ही दिया है उतना बचने और बचाने के बाद भी और यही खौफ दिल्ली के ड्रेसिंग रूम में भी दिखा। भले ही ये मैच दिल्ली जीत गई हो लेकिन दिल्ली कैपिटल्स के लिए ये दिन आसान नहीं रहा क्योंकि टीम के टिम सिफर्ट को कोरोना हो गया था, ऐसे में मैच होगा या नहीं होगा इस पर संकट बना हुआ था। समय ऐसा था की कभी भी कुछ भी खबर आ सकता था क्योंकि लास्ट मोमेंट तक ये चला की मैच होगा या नहीं होगा लेकिन अंत में मैच हुआ और दिल्ली ने अपना दम दिखाया। अब तो आलम ये है की दिल्ली कैपिटल्स में कुल 6 कोरोना के मामले सामने आ गए हैं और ये मामले डराने वाले है। कोरोना का खौफ ऐसा है कि पंजाब किंग्स के खिलाफ हुए मुकाबले के दौरान ड्रेसिंग रूम में भी सभी खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ मास्क पहने हुए नज़र आए। दिल्ली की टीम फिलहाल कोरोना से सामना कर रही है। दिल्ली कैपिटल्स के कोच रिकी पोंटिंग, प्रवीण आमरे, शेन वॉटसन, अजित अगारकर समेत सपोर्ट स्टाफ के अन्य सदस्य और खिलाड़ी ड्रेसिंग रूम में भी मास्क पहने हुए नज़र आए थे। जो बता रहा था की कोरोना को लेकर दिल्ली की टीम कितनी सतर्कता बरत रही है। हालांकि इस कोरोना से दिल्ली के प्रर्दशन में किसी प्रकार का गड़बड़ी देखने को नहीं मिला और दिल्ली कैपिटल्स ने इस मैच में शानदार प्रदर्शन किया और इस सीजन की सबसे बड़ी जीत दर्ज की है। मैच के बाद दिल्ली के कप्तान ने ये बात मानी भी की कोरोना के वजह से थोड़ा माहौल खराब है और उन्होंने कहा कि उनके लिए ये काफी मुश्किल था, क्योंकि सुबह ही टिम सिफर्ट को कोरोना होने का पता चला। उसके बाद पता नहीं चल रहा था कि मैच होगा या नहीं होगा, ऐसे में काफी चीज़ें कन्फ्यूज़ करने वाली थीं और थोड़ा आराम से बाहर थी,मैच के पहले तक ये पता न चलना की मैच होगा या नहीं होगा अपने आप में ही अजीब है। आप को बता दें कि दिल्ली कैपिटल्स के ग्रुप में कुल 6 कोरोना के मामले हैं। इनमें दो खिलाड़ी हैं, जो कि टिम सिफर्ट और मिचेल मार्श हैं। बाकी चार सपोर्ट स्टाफ के सदस्य हैं। अब सवाल ये है की अब मैच तो दोनो टीमों खत्म हो गया और अब अगर फिर से किसी टीम में कोरोना मिला तो दोनो ही टीमों पर संकट के बादल मंडराएंगे। जो इस सीजन को रुकवा भी सकता है।

 

दोनो टीम कुछ इस प्रकार से थी

 

दिल्ली कैपिटल्स : पृथ्वी शॉ, डेविड वॉर्नर, ऋषभ पंत (कप्तान/विकेटकीपर), रॉवमैन पावेल, ललित यादव, सरफराज खान, शार्दुल ठाकुर, अक्षर पटेल, कुलदीप यादव, मुस्तफिजुर रहमान, खलील अहमद।

 

पंजाब किंग्स : मयंक अग्रवाल (कप्तान), शिखर धवन, जॉनी बेयरस्टॉ, लियाम लिविंगस्टोन, जितेश शर्मा, शाहरुख खान, कगिसो रबाडा, नाथन इलिस, राहुल चाहर, वैभव अरोड़ा, अर्शदीप सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here