बॉलीवुड अभिनेत्री दिव्या भारती अगर आज वह जीवित होती तो 48 साल की होती । अभिनेता दिव्या भारती भले ही आज इस दुनिया में नहीं है लेकिन उनके नाम की चर्चा हमेशा होती रहती है और आने वाले समय में भी होती रहेंगी । हिंदी फिल्मों में अपने कॅरियर की शुरुआत में ही अलग छाप छोड़ चुकी दिव्या भारती के सपने उस वक्त टूट कर बिखर गए थे , जब वे अपनी बिल्डिंग के पांचवे माले से गिर गई और हमेशा के लिए इस दुनिया से रुखसत हो गई थी । उनकी इस तरह मौत लोगों के गले नहीं उतर रही थी , शायद यही कारण है कि इतने सालों बाद भी उनकी मौत को लेकर रहस्य बना हुआ है । आज के दिन ही 5 अप्रैल को अभिनेत्री दिव्या भारती निधन हुआ था । बता दें कि उनकी मौत साल 1993 में आज ही की रात यानी 5 अप्रैल के दिन रहस्यमयी तरीके से हुई थी ।

 

साल 1990 की साल से अभिनय करियर की शरुआत करने वाली अभिनेत्री दिव्या भारती ने कई व्यावसायिक प्रकार की सफल हिंदी फिल्मो में अभिनय किया था । उन्होंने हिंदी फिल्मों के साथ ही तेलुगु और तमिल जैसी साउथ की फिल्मो में भी अपने अभिनय का परिचय दिया था और उनकी फिल्में हिट भी साबित हुआ करती थी । इसके अलावा अभिनेत्री दिव्या भारती में अभिनय के अलावा एक प्रभावशाली व्यक्तित्व की छबी भी नज़र आती थी । ऐसा कहा जाता है की आज तक ऐसी कोई भी अभिनेत्री ऐसी नहीं थी की जिसकी पहले वर्ष में ही बारह फिल्म हिट रही हुई हो। उन्होंने अभिनय किये फिल्म में विविधता से उनको उसकी पीढ़ी की सबसे आकर्षक फिल्म अभिनेत्री होने का उपनाम भी मिला था।

 

ऐसे हुई थी अभिनेत्री दिव्या भारती की रहस्यमयी तरीके से मौत-

हिंदी फिल्मों में अपने कॅरियर की शुरुआत में ही अलग छाप छोड़ चुकी दिव्या के सपने उस वक्त टूट कर बिखर गए, जब वे अपनी बिल्डिंग के पांचवे माले से गिर गई और हमेशा के लिए इस दुनिया से रुखसत हो गईं। उनकी इस तरह मौत लोगों के गले नहीं उतर रही थी, शायद यही कारण है कि इतने सालों बाद भी उनकी मौत को लेकर रहस्य बना हुआ है। बता दें कि 5 अप्रैल, 1993 को महाराष्ट्र के मुंबई शहर में दिव्या भारती की अचानक मौत हुई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उसी दिन दिव्या ने मुंबई में अपने लिए 4बीएचके घर खरीदा था । इस बात को लेकर वे बहुत खुश थीं और इस बात की जानकारी उन्होंने अपने भाई को भी दी थी। लेकिन किसे पता था कि वे अपने इस सपनों के आशियाने में रह ही नहीं पाएंगी। दिव्या भारती ने उसी दिन चेन्नई से एक फिल्म की शूटिंग करके लौटी थी। उनके पैर में चोट लगी थी, इसलिए वे घर पर ही आराम करना चाहती थी । रात करीब 10 बजे वर्सोवा स्थित तुलसी अपार्टमेंट में उनकी करीबी दोस्त कॉस्ट्यूम डिजाइनर और फैशन स्टाइलिस्ट नीता लुल्ला अपने पति के साथ उनके घर पहुंची। तीनों ने लीविंग रूम में बैठकर बातें की और ड्रिंक ली।इस दौरान उनकी नौकरानी अमृता भी घर में ही थी। रात 11 बजे के आस-पास दिव्या भारती उठी और कमरे की खिड़की की तरफ चली गईं। वे खिड़की से ही अमृता से बातें कर रही थीं, वहीं नीता और उनके पति टीवी देख रहे थे। जिस खिड़की पर वे खड़ी थीं, उस पर ग्रिल नहीं थी । खिड़की पर खड़ी दिव्या जब मुड़ी और सीधे होने की कोशिश की, तब ही उनका संतुलन बिगड़ गया और वे पांचवी मंजिल से नीचे गिर गई । हालांकि उस समय ऐसा माना जा रहा था कि उनके पति साजिद नाडियादवाला ने उनके मर्डर की प्लानिंग की थी। इसी कारण जब वे मुंबई लौटी तो साजिद उनसे नहीं मिले थे ताकि पूछताछ में वह बता सके कि उनकी मुलाकात ही नहीं हुई। लोगों का मानना यह भी है कि अभिनेत्री दिव्या भारती ने खुदकुशी की, क्योंकि वे डिप्रेशन में थी । उन्होंने साजिद से शादी करने के लिए अपना धर्म बदला था, इस कारण वे अपने माता-पिता से दूर हो गई थी और यह बात उन्हें हमेशा परेशान करती थी। दूसरा साजिद के रिश्ते अंडरवर्ल्ड से थे इस कारण दिव्या काफ़ी परेशान रहती थी ।  इसके अलावा तीसरा कारण यह भी माना जा रहा था कि उस दिन अभिनेत्री दिव्या भारती ने बहुत ज्यादा ही शराब पी ली थी, इसलिए उनकी मौत सिर्फ एक एक्सीडेंट थी ।

 

अभिनेत्री नेत्री दिव्या भारती का शुरुआती जीवन, शादी और फिल्मी करियर-

अभिनेत्री दिव्या भारती का जन्म 14 फरवरी 1974 मुंबई में ही हुआ था । दिव्या भारती 90 के दशक की एक मशहूर अभिनेत्री थी । बता दें कि 90 के दशक में दिव्या भारती ने तेलुगु फिल्म दो बोब्बिली राजा से 1990 में शुरुआत की थी । और फिर वह हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में आ गई । अभिनेत्री दिव्या भारती शुरुआती दिनों से मुंबई में रहती थी । उनके पिता का नाम ओम प्रकाश भारती तथा माता का नाम मीराभारती था । अभिनेत्री के पिता ओमप्रकाश एक बीमा एजेंट थे । उनके पिता ने दो शादियां की और दिव्या भारती दूसरी शादी से हुई सबसे बड़ी लड़की थी । अभिनेत्री दिव्या भारती शुरू से ही फिल्मी दुनिया में कदम रखना चाहती थी । और उन्हें छोटी उम्र से ही फिल्मों के ऑफर आने लगे उन्होंने 14 साल की उम्र में ही फिल्मों के ऑफर आने लगे । महज 14 साल में ही दिव्या भारती ने अपना फिल्मी करियर शुरुआत कर दिया था । उन्होंने सन् 1990 में एक तेलुगू फिल्म बोब्बिली राजा से अपने करियर की शुरुआत की थी । फिर साल 1992 में फिल्म विश्वात्मा से दिव्या भारती को सफलता मिली | इस फिल्म में एक गाना था “सात समुंदर पार में तेरे पीछे पीछे आ गई” इस गाने ने बड़ा मुकाम हासिल किया और सुपरहिट रहा । इसी गाने की वजह से दिव्या भारती को सफलता की सीढ़ियों ने छूना शुरु कर दिया । इसके बाद अभिनेत्री दिव्या भारती को इंडस्ट्री में पहचान की जरूरत नहीं है । अब वह बहुत प्रसिद्ध हो गए चुकी थी । उसके बाद विभिन्न फिल्मों के ऑफर आने लगे थे । अगली फिल्म, दिव्या भारती ने गोविंदा के साथ की ” शोला और शबनम ” इस फिल्म ने रिकॉर्ड तोड़ दिया था ।फ़िल्म “शोला और शबनम” की शूटिंग चल रही थी तभी दिव्या भारती की मुलाकात साजिद नाडियावाला से हुई थी। तब वह एक मशहूर निर्देशक तथा डायरेक्टर थे और फिल्में डायरेक्ट करते थे । मुलाकात होने के बाद दिव्या भारती और साजिद नाडियावाला में नजदीकियां बढ़ने लगी और यह एक दूसरे से प्यार करने लगे थे। फिर 10 मई 1992 को दिव्या भारती ने साजिद नाडियावाला से शादी कर ली । शादी करने की वजह से दिव्या भारती को अपना नाम बदलना पड़ा उसका नाम दिव्या भारती से बदलकर सना नाडियाडवाला कर दिया गया था।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here