हमारे मानव शरीर में ब्लड प्रेशर इरेगुलेरिटीज यानी अनियमितता को कई गंभीर रोगों का कारण माना जाता रहा है । इसमें भी ब्लड प्रेशर का बढ़ जाना, ज्यादा नुकसानदायक होता है । लंबे समय कर रहने वाली हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को हृदय, आंखों के साथ शरीर के संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए गंभीर माना जाता रहा है ।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक उच्च रक्तचाप एक ऐसी स्थिति को संदर्भित करता है । लेकिन धमनियों की दीवारों के खिलाफ रक्त का दबाब बहुत अधिक बढ़ जाता है । अगर यह समस्या लंबे समय तक बनी रहती है , तो इससे हृदय रोगों का जोखिम बहुत अधिक बढ़ जाता है ।

कई अध्ययनों से पता चलता है कि हाई ब्लड प्रेशर के कारण स्ट्रोक, हार्ट अटैक जैसी गंभीर और घातक स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती है । अगर आपका ब्लड प्रेशर रीडिंग 140/90 है, तो इसे हाई ब्लड प्रेशर माना जाता है । इसका बढ़कर 180/120 तक पहुंच जाना गंभीर समस्याओं का कारण बन सकता है । इसी समस्या को कम करने के लिए स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने एक ऐसे उपाय के बारे में बताया है , जिससे कुछ ही मिनटों में ब्लड प्रेशर को कम किया जा सकता है ।

 

साइलेंट किलर है ब्लड प्रेशर

ब्लड प्रेशर को साइलेंट किलर कहा जाता है । हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित व्यक्ति के लिए यह जरूरी है कि वह अपनी डाइट और लाइफस्टाइल पर विशेष ध्यान दे । कई बार ऐसा देखा जाता है कि रक्तचाप बढ़ जाता है, लेकिन व्यक्ति को पता नहीं चलता है ।

 

सिस्टोलिक और डायस्टोलिक पैमाना

आसान शब्दों में कहें तो हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण नजर नहीं आते है । हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो सामान्य रक्तचाप 100-140 मम हजी सिस्टोलिक और 60-90 मम हजी डायस्टोलिक होता है । उच्च रक्तचाप में रीडिंग 90/140 मम हजी या इसके ऊपर रहता है । उच्च रक्तचाप से पीड़ित व्यक्ति की धमनियों में रक्त का दबाव बहुत बढ़ जाता है । रक्तचाप को सिस्टोलिक और डायस्टोलिक दो तरह से मापा जाता है । इससे यह पता चलता है कि धड़कनों के बीच तनाव या संकुचन है ।

 

इस वजह से बढ़ती है ब्लड प्रेशर की समस्या

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक जीवनशैली और आहार में उपयुक्त बदलाव करके हाई ब्लड प्रेशर से बचाव किया जा सकता है । समय के साथ अस्वास्थ्यकर आहार की आदतें और गतिहीन जीवनशैली के कारण कम उम्र में ही लोगों में इस तरह की समस्याएं तेजी से बढ़ती हुई देखी जा रही है । कम उम्र से ही अगर सावधानियां बरती जाएं तो इस गंभीर समस्या और इसके कारण होने वाली तमाम तरह की बीमारियों के खतरे से सुरक्षित रहा जा सकता है ।

 

ब्लड प्रेशर कम करने के लिए अपनाएं टिप्स

 

  • व्याायम के माध्यम से कुछ ही मिनटों में कम होगी ब्लड प्रेशर की समस्या

विशेषज्ञों के अनुसार हाई ब्लड प्रेशर को कुछ ही मिनटों में कम करने का एक सबसे असरदार तरीका है । वैज्ञानिकों ने बताया कि हाई ब्लड प्रेशर की स्थित में एक आसान से व्यायाम को करके रक्तचाप को आसानी से कम किया जा सकता है । विशेषज्ञ के अनुसार, आइसोमेट्रिक हैंडग्रिप स्ट्रॉन्गर्स व्याायम के माध्यम से कुछ ही क्षणों में रक्तचाप को नियंत्रित किया जा सकता है ।

  • संतुलित आहार पर ध्यान देना है जरूरी

ज्यादातर ऐसा देखा जाता है कि लोग बैलेंस्ड डाइट यानी संतुलित आहार पर ध्यान नहीं देती है । इससे शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की कमी होने लगती है । इससे शरीर में कई बीमारियां जन्म लेती है । खासकर, हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए पोटैशियम बहुत जरूरी है । डॉक्टर की मानें तो पोटैशियम युक्त फल और सब्जी के सेवन से हाई ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है ।

Food for High blood pressure
balanced diet, cooking, culinary and food concept – close up of vegetables, fruit and meat on wooden table; Shutterstock ID 304751963
  • हाई ब्लड प्रेशर के लिए यह उपाय है सबसे कारगर

विशेषज्ञों के मुताबिक शांत अवस्था में बैठकर आइसोमेट्रिक हैंडग्रिप स्ट्रॉन्गर्स को दबाना सिस्टोलिक दबाव को कम करने में सहायक हो सकता है । अध्ययनकर्ताओं ने पाया कि आठ सप्ताह तक रोजाना इस अभ्यास को करके रक्तचाप को 8 से 10 प्वाइंट तक कम किया जा सकता है । हालांकि इसको करने से पहले डाक्टर की सलाह अवश्य लें ।

  • इन चीजों को करें अपने भोजन में शामिल

प्रोटीन और फाइबर का बेहतरीन स्रोत होने के साथ-साथ दालों के सेवन से शरीर की कई कार्यप्रणालियों में भी सहायता होती है । दाल के सेवन से शरीर को आयरन और ज़िंक भी प्राप्त होता है । अरहर,चना, मूंग, राजमा और लोबिया जैसी बींस और दालों के सेवन से जहां शरीर को विभिन्न पोषक तत्व प्राप्त होते हैं वहीं, इसमें फैट्स की मात्रा बहुत कम होती है । दाल खाने से पेट भरता है और क्रेविंग्स कम होती है । इन सबकी मदद से दिल को बीपी लेवल्स के नुकसान से बचाना भी आसान हो पाता है ।

 

  • हरी पत्तेदार सब्जियां हाई ब्लड प्रेशर कम करने के लिए है कारगर

फोलेट, एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन के और विटामिन सी जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध होने के कारण हरी पत्तेदार सब्जियां हाई ब्लड प्रेशर लेवल्स को कंट्रोल करने में सहायता कर सकती है । यह पाचनक्रिया को भी बेहतर रखती हैं और बीपी को कंट्रोल करने का कार्य करता है ।

  • हाई ब्लड प्रेशर तंग करने के लिए वजन कम करना है आवश्यक

वजन बढ़ने के साथ अक्सर ब्लड प्रेशर भी बढ़ता है । अधिक वजन सोते समय सांस लेने में बाधा उत्पन्न करती है, जिससे ब्लड प्रेशर बढ़ता है, इसलिए ब्लड प्रेशर कम करने का एक प्रभावी तरीका वजन कम करना भी है ।

High blood pressure problem

हाई ब्लड प्रेशर में इन चीजों को करें अवॉइड

  1. जिस व्यक्ति का बी.पी. हाई हो उसे नमक कम खाना चाहिए ।
  2. कॉफी और चाय का सेवन अधिक करने से ब्लड प्रेशर बढ़ता है ।
  3. डिब्बा बंद खाद्य पदार्थों का सेवन न करें क्योकि उनमें नमक ज्यादा होता है ।
  4. बाहर की चीजें जैसे पिज्जा, बर्गर आदि का सेवन नहीं करना चाहिए ।
  5. स्मोकिंग और शराब का सेवन नहीं करना चाहिए ।
  6. चटनी, आचार, अजीनोमोटो, बेंकिंग पाउडर और सॉस खाने से बचना चाहिए ।
  7. जब हम सोते है तो हमारा बी.पी. कम होता है । यदि आप भरपूर नींद नहीं लेंगे तो ब्लड प्रेशर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है । जो लोग कम सोते हैं उनका ब्लड प्रेशर बढ़ने लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here