एक पिता के लिए वो दिन सबसे बड़ा होता है जब उसका बेटा देश के तरफ से क्रिकेट खेले। जी हां, हम बात कर रहे है उमरान मलिक की जिन्होंने अपने रफ्तार के दम पर टीम इंडिया में जगह बना ही ली। जम्मू-कश्मीर के रफ्तार किंग उमरान मलिक की मेहनत रंग लाई है। उमरान मलिक को साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए टीम इंडिया में चुना गया है। उमरान मलिक के भारतीय टीम में चुने जाने के बाद जम्मू के गुज्जर नगर में जश्न का माहौल है। लोग उमरान मलिक एवं उनकी फैमिली को बधाइयां दे रहे हैं। कई दिग्गजों ने तो सवाल भी खड़ा किया था की अभी उनको टीम में चुनना जल्दीबाजी होगी। लेकिन मलिक ने सबको गलत ठहरा कर अपनी जगह बना ली। आपको बता दे कि उमरान मलिक ने दिल्ली के खिलाफ इस आईपीएल के एक मैच में 157 kmph की रफ्तार से गेंद फेंकी जो आईपीएल के इतिहास में दूसरा सबसे तेज गेंद बन गई। और इस सीजन की सबसे तेज गेंद रही। इस सीजन में हैदराबाद की टीम का मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स की टीम के साथ हुआ और तब ये रिकॉर्ड बनाया गया मलिक द्वारा। उमरान मलिक ने आईपीएल 2022 में लगातार धूम मचाई है और अपनी रफ्तार से हर किसी को हैरान किया है। उनकी स्पीड हर मैच में बढ़ती ही जा रही हैं। ऐसा ही दिल्ली के खिलाफ वाले मैच में हुआ, जब दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ उमरान मलिक ने आखिरी ओवर डाला। इस ओवर की लगभग हर बॉल 150 से ऊपर की स्पीड की थी। उमरान अपने आखरी ओवर में और घातक दिखाई पड़ रहे थे। उन्होंने अपना आखरी ओवर इस स्पीड से फेका,पहली बॉल 153 KMPH की रफ्तार से गई उसके बाद उन्होंने दूसरी गेंद पर अपनी स्पीड थोड़ी कम की ओर 145 KMPH की रफ्तार से बॉल फेंकी, तीसरी गेंद पर फिर मलिक ने रफ्तार बढ़ाई और 154 KMPH के रफ्तार से बॉल फेंकी,चौथी गेंद पे तो रिकॉर्ड ही बन गया और आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे तेज गेंद रही चौथी बॉल,उन्होंने चौथी बॉल 157 KMPH की रफ्तार से फेंकी, वही पांचवी गेंद उन्होंने 156 KMPH की रफ्तार से फेंकी। स्पीड के बेताज बादशाह बन चुके हैं उमरान मलिक। लेकिन दिक्कत ये भी रही की उस मैच में मलिक ने रन भी खूब लुटाया, सिर्फ उसी मैच में नही बल्कि बाकी के मैचों में भी कुछ ऐसा ही हाल रहा है। लेकिन अंत भला हो तो सब अच्छा होता है वही मलिक के साथ हुआ।

 

शोएब को लगी थी मलिक के रफ्तार से मिर्ची

 

जैसा की आप सब जानते ही है कि भारतीय तेज गेंदबाज उमरान मलिक की रफ्तार का हर कोई कायल होता जा रहा है, पूरे विश्व में चर्चा है भारत के इस तेज गेंदबाज की। दुनियाभर के बड़े बड़े दिग्गज उमरान मलिक की चर्चा कर रहे हैं। कइ तो ये बोल रहे है कि अगर वह इसी तरह अपनी रफ्तार को उमरान मलिक बढ़ाते रहे तो शोएब अख्तर का वर्ल्ड रिकॉर्ड टूटने में ज्यादा दिन नहीं लगेंगे। इंडियन सनसनी के बारे में जब रावलपिंडी एक्सप्रेस शोएब अख्तर से पूछा गया तो उन्होंने पहले तो यह कहा कि उन्हें खुशी होगी कि उमरान यह रिकॉर्ड तोड़ दें, लेकिन उन्होंने ताना मारने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी। जाहिर सी बात है की शोएब एक पाकिस्तानी खिलाड़ी है कैसे वो एक भारतीय खिलाड़ी को आगे बढ़ते देख सकते हैं। शोएब अख्तर ने स्पोर्ट्सकीड़ा को अपना एक इंटरव्यू दिया जिसमे उन्होंने कहा कि, ‘मेरे वर्ल्ड रिकॉर्ड को 20 वर्ष से अधिक हो चुके हैं। लोग इस बारे में मुझसे पूछते हैं तो मैं भी सोचता हूं कि कोई तो होगा जो यह रिकॉर्ड तोड़ेगा। मुझे खुशी होगी कि उमरान मेरा रिकॉर्ड तोड़ें। हां, लेकिन मेरा रिकॉर्ड तोड़ते-तोड़ते वह अपनी हड्डियां न तुड़वा बैठें (ये बोलते हुए शोएब बहुत तेज हस रहे थे) बस मेरी यही दुआ होगी। फिर उन्होंने सफाई में ये कहा कि कहने का मतलब है कि उमरान पूरी तरह से फिट रहें।’

 

आपको बता दे कि शोएब अख्तर के नाम 161.3 kph की रफ्तार से गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। जो आज तक कोई तोड़ नही पाया है लेकिन अब उमरान मलिक से उम्मीदें जगी है की वो फेंक सकते है। उमरान मलिक इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल के इतिहास के दूसरे सबसे तेज गेंदबाज हैं। उन्होंने हाल ही में एक मुकाबले में 157 kph की रफ्तार से बॉल की थी, जो IPL की दूसरी सबसे तेज थी। पहले पर अभी भी शान टेट की फेकी हुई गेंद है। आपको जानकर ताज्जुब होगा की उमरान मलिक लगातार 155+ के स्पीड से गेंदबाजी करते है और यही वजह है की भारत के पूर्व खिलाड़ी हरभजन से लेकर रवि शास्त्री तक मलिक को टीम इंडिया में लाने की वकालत कर रहे है लेकिन कुछ का कहना है की स्पीड ही सब कुछ नही होता इस लिए अभी उमरान मलिक को अपने लाइन और लेंथ पर ध्यान देने की आवश्यकता है। अभी टीम में सिलेक्ट करना जल्दीबाजी होगी क्योंकि मलिक को इस आईपीएल में मार भी बहुत पड़ी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here