अब समय आ गया है जब टीमें अपनी टिकट प्लेऑफ के लिए कटाना शुरू कर दी हैं। इस कड़ी में पहला नाम जुड़ चुका है गुजरात टाइटन्स का,जिसने इस सीजन सबसे अच्छा प्रदर्शन किया है और अब प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन चुकी हैं। स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या इस सीजन खुद अपने टीम का बोझ अपने सर उठाया था और जब टीम को जरूरत पड़ी तब उन्होंने अपने बल्ले से रन बनाय। पांड्या की कप्तानी वाली लीग की नई टीम गुजरात टाइटंस ने कल यानी मंगलवार को आईपीएल के 15वें सीजन के प्लेऑफ का टिकट कटा लिया। गुजरात टाइटन्स ने पुणे के एमसीए स्टेडियम में खेले गए सीजन के 57वें मैच में लखनऊ सुपर जायंट्स को 62 रन से मात दी। दोनो ही टीमें इस आईपीएल की सर्वश्रेष्ठ टीमें है,दोनो में पहले स्थान को लेकर क्या गजब की लड़ाई चलती है। लेकिन जब दोनो में मैच हुआ तो गुजरात ने लखनऊ को पटखनी दे दी। इस मैच में गुजरात के तरफ से शुभमन गिल ने नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली इसके बावजूद गुजरात ने 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 144 रन बनाए जो बहुत कम स्कोर था। लेकिन गुजरात के गेंदबाजों ने इसका भी सफल बचाव कर किया। उधर लखनऊ की टीम इस छोटे से रन से पार नही पा सकी। और लखनऊ सुपर जायंट्स की टीम 13.5 ओवर में मात्र 82 रन पर ही सिमट गई। गुजरात टाइटन्स की टीम ने अभी तक 12 मैच खेले है जिसमे ये उसकी 9वीं जीत थी जो गुजरात की टीम के फॉर्म को दर्शाता है। गुजरात के पास अभी 18 अंक है और वो पहले स्थान पर है। अब प्लेऑफ के लिए बाकी टीमों की लड़ाई है गुजरात प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन चुकी है।

 

गुजरात टाइटन्स की पारी

 

इस मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी गुजरात की शुरुआत बहुत धीमी रही है और जल्दी उसने अपना पहला विकेट गवा दिया। रिद्धिमान शाहा और शुभमन गिल ने पारी का आगाज किया था। लेकिन जब टीम का स्कोर 8 था तब शाहा मात्र 5 रन बनाकर आउट हो गए। उन्होंने 5 रन बनाने के लिए 11 गेंदे खेली। रिद्धिमान शाहा को मोहसिन खान ने आवेश खान के हाथो कैच आउट कराया। फिर उसके बाद 24 रन के स्कोर पर गुजरात को दूसरा झटका लगा और मैथ्यू वेड मात्र 10 रन बनाकर आउट हो गए। वेड को आवेश खान ने विकेटकीपर के हाथो कैच कराया। इस तरह से लखनऊ ने मैच में अपनी पकड़ मजबूत कर ली थी लेकिन वही दूसरे तरफ गील टीक कर खेल रहे थे। वेड के जाने के बाद कप्तान हार्दिक पांड्या उतरे लेकिन ज्यादा वो भी कुछ नहीं कर पाय और 13 गेंदों में 11 रन बनाकर आउट हो गए जिसमे एक भी बाउंड्री नही था। इस तरह से गुजरात की टीम लड़खड़ाती नजर आ रही थी और उसके विकेट छोटे अंतराल पर गिर रहे थे। उधर लखनऊ के गेंदबाजों ने गुजरात पे लगातार दबाव बनाया हुआ था। मिलर और तेवतिया ने छोटी छोटी पारी खेली जो बहुत जरूरी था। लेकिन शुभमन गिल अच्छे बैटिंग का नजारा पेश करते हुए 49 गेंदों में 63 रन की पारी खेली जिसमे 7 चौके शामिल थे। अगर बात करे लखनऊ के गेंदबजो की तो उन्होंने अपना काम कर दिया था। आवेश खान ने अपने 4 ओवर के कोटे से 26 रन खर्च कर के 2 महत्वपूर्ण विकेट निकाले। मोहसिन खान ने अपने 4 ओवर में 18 रन खर्च करके 1 विकेट लिए। लखनऊ के तरफ से सबसे महंगे होल्डर रहे जिन्होंने अपने 4 ओवर में 41 रन दे डाले और मात्र 1 विकेट निकाला।

 

लखनऊ की पारी

 

145 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी लखनऊ की टीम के तरफ से ओपनिंग करने उतरे क्विंटन डि कॉक और कप्तान केएल राहुल। लेकिन शुरुआत बहुत खराब रही और टीम का स्कोर जब 19 रन था तभी क्विंटन डि कॉक आउट हो जाते है,उन्होंने जाने से पहले 10 रन बनाय थे जिसमे एक शानदार छक्का भी शामिल था। उन्हे यश दयाल ने अपना शिकार बनाया। फिर अभी स्कोर में 5 ही रन जाड़ा था की कप्तान केएल राहुल खुद आउट हो गए। उन्होंने जाने से पहले बहुत धीमी पारी खेली और 16 गेंदों में मात्र 8 रन बनाय। उन्हे शमी ने रिद्धिमान शाहा के हाथो कैच कराया। फिर अगले ही ओवर में करन शर्मा भी आउट हो कर चले गए उन्होंने मात्र 4 रन बनाय। इस तरह से लखनऊ की टीम की स्थिति बिगड़ चुकी थी। छोटे से लक्ष्य का पीछा करने उतरी लखनऊ की स्थिति बेहद खराब हो चुकी थी बस दीपक हुडा लगातार क्रीज पर टिके हुए थे और सबसे ज्यादा 27 रन अपने टीम के लिए बनाय। बाकी के बल्लेबाज कोई भी टिक कर नही खेल सका और जल्दी जल्दी आउट होते चले गए। उधर गुजरात की टीम के तरफ से राशिद खान ने अपने गेंदों से सबको परेशान किया। उन्होंने 24 रन देकर 4 विकेट झटके। फिर साई किशोर ने 2 ओवर के 7 रन देकर 2 विकेट लिए। यश दयाल थोड़ा सा महंगे साबित हुए लेकिन उन्होंने 2 विकेट निकाले। इस तरह से गुजरात ने अपने ऑलराउंड प्रदर्शन से लखनऊ की टीम को पटखनी दे दी। और सबसे पहले प्लेऑफ में पहुंचने वाली टीम बनी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here