लखीमपुर कांड के बाद पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि दुष्कर्म के बाद घटना को कुल छह लोगों ने अंजाम दिया । सभी छह आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए है । आरोपियों की पहचान छोटू, सुहेल, जुनैद ,हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन, आरिफ के रूप में हुई है ।

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के तमोलीन गांव के बाहर एक पेड़ से दो सगी दलित बहनों की पेड़ से लटकती हुई लाश मिलने के बाद पूरे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है । लड़कियों की मां का आरोप है कि बुधवार की दोपहर तीन युवक आए और मेरी बेटियां मेरे साथ बाहर बैठी थीं । जब तक हम कुछ समझ पाते तबतक बाइक सवार युवक आए और वे मेरी दोनों बेटियों को उठाकर ले गए । दोनों के साथ रेप के बाद हत्या कर दी और शव को पेड़ से लटका दिया । इस घटना के बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ छापेमारी कर छह आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है ।

लखीमपुर खीरी में दो बहनों की हत्या मामले में गुरुवार को पुलिस ने नया खुलासा किया है । पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि दुष्कर्म के बाद घटना को कुल छह लोगों ने अंजाम दिया है । नामजद छोटू सहित छह अभियुक्त गिरफ्तार किए गए है । आरोपियों की पहचान छोटू, सुहेल, जुनैद ,हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन, आरिफ के रूप में हुई है । घटना में शामिल सभी आरोपी गिरफ्तार हो गए है । पुलिस ने एक अभियुक्त जुनैद को झंडी चौकी क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है, जुनैद के पैर में गोली लगी है । दोनों लड़कियों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है । पुलिस ने पॉक्सो और संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है । जानकारी के मुताबिक पुलिस ने चारों आरोपियों को हिरासत में लिया है ।

लखीमपुर खीरी में पेड़ पर लटके मिले थे दोनों बहनों के शव

लखीमपुर खीरी के जिले के निघासन थाना इलाके के एक गांव में बुधवार शाम करीब छह बजे अनुसूचित जाति की दो सगी बहनों के शव पेड़ से लटके मिले थे । मां का कहना है कि शाम करीब पांच बजे उनके सामने ही एक पड़ोसी और तीन अन्य लोग दोनों बेटियों को अगवा कर ले गए थे । घटना से गुस्साए परिजनों ने ग्रामीणों के साथ सदर चौराहे पर जाम लगा दिया ।

लखीमपुर खीरी कांड

लखीमपुर कांड में बाइक पर लड़कियों को जबरन उठा ले गए थे आरोपी 

 

लखीमपुर खीरी कांड मामले में देर शाम आईजी लक्ष्मी सिंह ने आरोपियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब जाकर जाम समाप्त हुआ । आशंका जताई जा रही था कि तीन आरोपी दूसरे समुदाय के है । मां के मुताबिक दोनों नाबालिग बेटियां घर के बाहर लगी मशीन पर चारा काटने गईं थी । शाम करीब पांच बजे पड़ोसी गांव के तीन युवक बाइक पर सवार होकर आए और दोनों को जबरन बाइक पर बैठाकर भागने लगे । मां ने शोर मचाते हुए बाइक सवारों का पीछा किया, लेकिन वे उन्हें धक्का देकर भाग निकले । शोर सुनकर गांव वाले भी इकट्ठा हो गए और आरोपियों की तलाश शुरू की । करीब एक घंटे बाद गांव के ही एक व्यक्ति के खेत में उनका शव खैर के पेड़ से लटका मिला ।

 

लखीमपुर खीरी कांड मामले में नहीं लगाई गई अपहरण की धारा

लखीमपुर खीरी कांड मामले में एफआईआर में घर में घुसकर मारपीट, दुष्कर्म, हत्या और पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है । बताया जा रहा है कि मामले में आरोपियों पर अपहरण की धारा नहीं लगाई गई है ।

लखीमपुर खीरी कांड मामले में जैसे ही ये घटना सामने आई स्थानीय ग्रामीणों ने निघासन चौराहे पर रास्ता जाम कर प्रदर्शन किया । लड़कियों की मां ने पड़ोस के गांव के रहने वाले तीन युवकों पर उसकी बेटियों को अगवा कर उनकी हत्या करने का आरोप लगाया है । समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने इस मुद्दे को लेकर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए है ।

लखीमपुर खीरी कांड मामले में पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि बुधवार की शाम निघासन कोतवाली क्षेत्र के एक गांव से कुछ दूरी पर गन्ने के खेत में पेड़ पर फंदे से लटकते दो लड़कियों के शव मिले । दोनों लड़कियां दलित समुदाय की है । एसपी संजीव सुमन और एडिश्नल एसपी अरुण कुमार सिंह बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और नाराज ग्रामीणों को कार्रवाई का भरोसा दिया ।

लखीमपुर खीरी कांड मामले में सूत्रों ने बताया कि मृत लड़कियों की मां का आरोप है कि पड़ोस के गांव के रहने वाले तीन युवकों ने उसकी बेटियों को उनकी झोपड़ी के पास से अगवा करने के बाद उनकी हत्या कर दी । उन्होंने बताया कि शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजे गए है और मौत का वास्तविक कारण पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से ही पता लग सकेगा. पुलिस मामले की जांच में जुटी है‌ ।

 

लखीमपुर के निघासन थाना इलाके के तमोलीन पुरवा गांव में दो सगी बहनों के शव बुधवार शाम पेड़ पर लटके मिले । मृतक लड़कियों की मां ने बताया कि बड़ी बेटी 17 और छोटी 15 साल की थी । दोनों घर के बाहर बैठी हुई थीं, इस बीच जब वह घर के अंदर गई । तभी बाइक सवार 3 युवक पहुंच गए । उन तीनों मे से 2 लड़कों ने बेटियों को घसीटकर बाइक पर बैठा लिया और फरार हो गए । उसके बाद दोनों बेटियों के शव पेड़ पर लटके मिले ।

लखीमपुर खीरी कांड में आरोपी हैं आपस में दोस्त

लखीमपुर में दो दलित बहनों, जिनकी उम्र 17 और 15 साल की थी, को एक पेड़ से लटके पाए जाने के कुछ घंटे बाद, छह युवकों को उनके बलात्कार और हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है । पुलिस ने कहा कि लड़कियों की हत्या चार लोगों ने की थी । लखीमपुर खीरी जिले के निघासन में बुधवार शाम एक खेत में दो सगी बहनों के शव पेड़ पर फंदे से लटकते पाए गए. दोनों लड़कियां दलित समुदाय की थी । इस मामले में मुख्य आरोपी छोटू समेत 6 लोगों को गिरफ्तार में लिया गया है । ये सभी आपस में दोस्त है । इन पर पॉक्सो एक्ट के तहत रेप और हत्या की धाराएं लगाई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here