अंग्रेजी में एक बहुत ही मशहूर कहावत है “हेल्थ इज वेल्थ” यानी कि हमारा स्वास्थ्य ही हमारा सच्चा धन है । एक अच्छा और स्वस्थ शरीर आज के समय में किस का सपना नहीं है । एक स्वस्थ व्यक्ति इस दुनिया में अपने सारे इच्छाओं को पूरा कर सकता है । शरीर को स्वस्थ और फिट बनाए रखने के लिए दिनचर्या की आदतों को स्वस्थ और व्यवस्थित रखना आवश्यक माना जाता है । हम क्या खाते है, किस तरह से दिन व्यतीत करते है , इसका सीधा असर हमारी सेहत को प्रभावित करता है । हमारे स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने के लिए सभी उम्र के लोगों को नियमित रूप से योग-व्यायाम करने की सलाह दी जाती है । व्यायाम न सिर्फ हमें फिट रखने में सहायक होते है , साथ ही ऊर्जा के संचार को बढ़ाने और मानसिक स्वास्थ्य को भी ठीक रखने में मदद करते है ।

 

आज तक इस पूरे दुनिया में छोटे-बड़े जितने प्रकार के भी कार्य हुए है वह स्वस्थ शरीर, स्वस्थ मन-मस्तिष्क वाले सबल व्यक्तियों द्वारा ही किए गए है । कहावत प्रसिद्ध है कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन-मस्तिष्क और आत्मा का निवास हुआ करता है । जिसका सार यह है कि एक स्वस्थ मन वाला व्यक्ति ही उन्नति करने , ऊंचा उठने की कल्पनांए कर या विचार बना सकता है । हमें स्वस्थ रखने के लिए हमारे जीवन में जितना सही समय पर सोना- उठना और खाना- पीना जरूरी है उतना ही जरूरी व्यायाम भी है । यहां तक कि हाल ही में हुए अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि जो लोग नियमित रूप से व्यायाम करते है , उनमें कैंसर होने का खतरा , अन्य लोगों की तुलना में कम होता है । इसलिए दैनिक जीवन में स्वस्थ रहने के लिए सही खान पान के साथ-साथ व्यायाम भी बहुत आवश्यक है ।

 

नियमित रूप से व्यायाम कैसे करेगा कैंसर से होने का खतरों को दुर –

एक अध्ययन में वैज्ञानिकों के टीम ने यह दावा किया है कि दैनिक रूप से व्यायाम करने वाले लोगों में अन्य लोगों की तुलना में कैंसर होने का खतरा कम पाया गया है । वैज्ञानिकों का मानना है कि व्यायाम करने की आदत आंत के कैंसर से हो रहे जोखिमों को कम कर देती है । वैज्ञानिकों का यह मानना है कि दिनचर्या की यह रोजाना व्यायाम करने की एक आदत संपूर्ण शरीर के लिए कई प्रकार से लाभदायक हो सकती है । इसे अब तक शारीरिक-मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जा रहा था , लेकिन हाल ही में हुए इस अध्ययन में इसके कैंसर रोधी प्रभावों के बारे में भी पता चलता है ।

 

रोजाना व्यायाम से रिलीज होता है एंटी कैंसर प्रोटीन-

हाल ही में हुए अध्ययन मैं वैज्ञानिकों ने व्यायाम से रिलीज होने वाले एंटी कैंसर प्रोटीन की जानकारी दी अध्ययन के दौरान वैज्ञानिकों ने पाया कि शारीरिक गतिविधि, स्वाभाविक रूप से रक्तप्रवाह में एंटीकैंसर प्रोटीन, इंटरल्यूकिन-6 (IL-6) रिलीज करती है । यह प्रोटीन डैमेज कोशिकाओं को ठीक करने और उनमें कैंसर के विकास को रोकने में सहायक है । शोध में वैज्ञानिकों ने कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों के खिलाफ लड़ाई में व्यायाम के महत्व पर रोशनी डालते हुए इसे संभावित रूप से भविष्य में उपचार विकसित करने में मदद करने वाला बताया है । रोजाना शारीरिक गतिविधि व्यायाम करने से हमारा सारा शरीर पूर्ण रूप से स्वस्थ बनाए रखने में सहायक है । बता दें की वैज्ञानिकों के इस अध्ययन में वैज्ञानिकों ने अध्ययन के लिए 50-80 की आयु वाले 16 लोगों को शामिल किया । इस आयु के लोगों में अधिक वजन या मोटापा और शारीरिक रूप से सक्रियता की कमी जैसे लाइफस्टाइल से संबंधित जोखिम कारक था, जो आंत के कैंसर का कारण बन सकते था । अध्ययन की शुरुआत में ब्लड सैंपल लेने के बाद सभी लोगों के लिए रोजाना 30 मिनट के लिए इनडोर व्यायाम का रूटीन बनाया गया । इस शोध के दौरान ही एक अंतराल पर लोगों के ब्लड सैंपल लेकर उसमें इंटरल्यूकिन-6 की मात्रा को मापा गया । इस अध्ययन के अंत में पाया गया कि सभी लोगों के रक्त में इंटरल्यूकिन-6 के स्तर में बेहतर सुधार हुआ है , जिससे उनके कैंसर विकसित होने का जोखिम पहले की तुलना में कम हो गया । वैज्ञानिकों ने प्रयोगशाला अध्ययन में पाया कि व्यायाम के तुरंत बाद लिए ब्लड सैंपल में कैंसर के विकास को कम करने वाली प्रकृति अधिक पाई गई ।

 

वैज्ञानिकों ने बताया अध्ययन का निष्कर्ष –

अध्ययनकर्ताओं का मानना है कि शोध इस बात की भी पुष्टि करते है कि अगर आपमें आनुवंशिक रूप से स्थिर सेल्स की समस्या है तो भी शारीरिक गतिविधि से यह काफी हद तक ठीक हो सकता है । इसके अलावा नियमित रूप से मध्यम स्तरीय व्यायाम का अभ्यास कई तरह के डीएनए डैमेज को ठीक करने में भी मददगार हो सकता है । सभी लोगों को नियमित रूप से दिनचर्या में व्यायाम को जरूर शामिल करना चाहिए । इस अध्ययन के निष्कर्ष में वैज्ञानिक बताते है कि आंत के कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए व्यायाम करना सबसे बेहतर विकल्प है । रोजाना अपने स्तर का अभ्यास जरूर करना चाहिए । व्यायाम लाइफस्टाइल को सुधारने और कैंसर का कारण बनने वाले जोखिमों को कम करने में आपकी मदद कर सकते है । वैज्ञानिकों ने व्यायाम से रिलीज होने वाले एंटी कैंसर प्रोटीन की जानकारी दी अध्ययन के दौरान वैज्ञानिकों ने पाया कि शारीरिक गतिविधि, स्वाभाविक रूप से रक्तप्रवाह में एंटीकैंसर प्रोटीन, इंटरल्यूकिन-6 (IL-6) रिलीज करती है । वैश्विक स्तर पर बढ़ते कैंसर के जोखिम से बचाव के लिए यह सबसे आसान और कारगर उपाय हो सकता है ।

रोजाना व्यायाम के अन्य फायदे –

  • नियमित रूप से रोजाना व्यायाम करना हमारे शरीर के लिए उतना ही जरूरी है, जितना कि भोजन करना या पानी पीना है । नियमित व्यायाम से हम न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी व्यक्ति फिट रहता है ।
  • नियमित रूप से रोजाना व्यायाम करने से मांसपेशियां तो स्वस्थ रहती ही है , साथ ही शरीर में खून का बहाव भी बेहतर ढंग से होता है । रोजाना व्यायाम करने से मस्तिष्क की कोशिकाओं को भी सक्रिय होने में काफी मदद मिलती है ।
  • नियमित रूप से व्यायाम करने से रक्तचाप से जुड़ी समस्याएं बहुत कम हो जाती है । कुछ डॉक्टरों का मानना है जो महिलाएं रोज एक्सरसाइज करती है , उन्हें उच्च रक्तचाप होने का खतरा 75 प्रतिशत तक कम हो जाता है । विभिन्न शोधों में नियमित हल्के-फुलके व्यायाम के अलावा एरोबिक्स को भी रक्तचाप नियंत्रित करने में भी उपयोगी पाया गया है ।
  • नियमित रूप से व्यायाम शरीर ही नहीं बल्कि दिमाग को भी तेज़ रखने में उपयोगी साबित होता है । तनाव, सिर दर्द और अवसाद जैसी कई समस्याओं को नियमित व्यायाम की मदद से कम या ठीक किया जा सकता है । डॉक्टर्स का मानना है कि नियमित व्यायाम दिमाग के लिए एंटीडिप्रेशन दवा की तरह काम करता है ।
  • नियमित व्यायाम करने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी सामान्य किया जा सकता है । व्यायाम करने से शरीर में हानिकारक कोलेस्ट्रॉल की मात्रा घट जाती है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है । इससे दिल की सेहत भी दुरुस्त रहती है और हम अधिक मात्रा में ऑक्सीजन ले पाते है । इस वजह से व्यक्ति को हार्ट अटैक और दिल से संबंधित अन्य बीमारियां होने का खतरा काफी कम हो जाता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here