जैसे जैसे आईपीएल अपने अंतकी ओर बढ़ रहा है वैसे वैसे कई टीमों का प्लेऑफ में पहुंचने का सपना भी टूटता जा रहा है। ठीक यही सनराइजर्स हैदराबाद के साथ भी हुआ है कल यानी शनिवार के मैच में। हैदराबाद का इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल 2022 के प्लेऑफ में पहुंचने का सपना लगभग अब खत्म हो चुका है। अब यहां से हैदराबाद को प्लेऑफ तक पहुंचना कोई चमत्कार ही होगा। पहले मुंबई इंडियंस फिर चेन्नई सुपर किंग्स और अब सनराइजर्स हैदराबाद। आपको बता दे कि कोलकाता नाइट राइडर्स ने शनिवार शाम को हुए मैच में हैदराबाद को करारी शिकस्त दी और अपने प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद को भी ज़िंदा रखा है। एक समय था जब मुंबई और चेन्नई के बाद केकेआर को ही बताया जा रहा था की वो प्लेऑफ में नही पहुचेंगे लेकिन अभी फिलहाल तो कोलकाता ने अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है प्लेऑफ में पहुंचने के लिए। स्थिति बाकी टीमों के लिए ऐसी बनी हुई है की आगे आने वाले मैच दिलचस्प होने वाले हैं, क्योंकि प्लेऑफ की जगह पर कई टीमों की नज़र है जो अभी प्लेऑफ के लिए बनी हुई है।
कोलकाता नाइट राइडर्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 54 रनों के बड़े अंतर से हराया है, ऐसे में उसके नेट-रनरेट में ज़बरदस्त इजाफा हुआ है। इस जीत के साथ कोलकाता नाइट राइडर्स प्वाइंट टेबल में छठे नंबर पर पहुंच गई है। 13 मैच में केकेआर के 12 प्वाइंट हो गए हैं, कोलकाता को अभी अपना आखरी मैच खेलना बाकी है। अगर टीम वह भी बड़े अंतर से जीतती है, तो 14 प्वाइंट हो जाएंगे और अंत में नेट-रनरेट कुछ कमाल कर सकता है। फिर टीम सीधे प्लेऑफ में दिखेगी लेकिन इतना आसान भी नहीं होगा क्योंकि बाकी टीमें भी सबकुछ देखते हुए आगे बढ़ रही हैं। आपको बता दे कि प्लेऑफ के लिए अभी सिर्फ गुजरात टाइटन्स ने ही क्वालिफाइ कर पाई है और लखनऊ का पहुंचना लगभग तय ही है। इन दो टीमों के अलावा राजस्थान रॉयल्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु भी रेस में हैं। लेकिन दिल्ली, कोलकाता और पंजाब की टीम भी चमत्कार की आस लगाए बैठे हैं। क्योंकि सभी के पॉइंट्स लगभग सेम चल रहे है अभी और हो सकता है की आखिर में रन रेट के आधार पर ये डिसाइड हो की कौन सी टीम प्लेऑफ खेलेगी और कौन सी टीम घर लौटेगी।

 

हैदराबाद की पारी

 

178 रनों का पीछा करने उतरी हैदराबाद की शुरुआत एकदम बेकार रही। टीम का स्कोर जब 30 रन था तभी कप्तान केन विलियमसन 9 रन बनाकर आउट हो गए। विलियमसन ने 9 रन बनाने के लिए 17 गेंद खेले जो टीम के रन रेट को नीचे ले गया। विलियमसन के जाने के बाद राहुल त्रिपाठी आय जिनसे काफी उम्मीदें लगी हुई थी, त्रिपाठी भी कुछ ज्यादा नही कर पाय और 12 गेंदों पर 9 रनों की पारी खेलकर चलते बने। उसके बाद एडेन मकरम ने अच्छी बल्लेबाजी दिखाई लेकिन जब वो अच्छा खेल रहे थे तो दूसरे छोर पे डटे अभिषेक शर्मा आउट हो गए। अभिषेक ने जाने के पहले बेहतरीन पारी खेली और वो एकमात्र बल्लेबाज भी रहे जिन्होंने टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाय। अभिषेक वर्मा ने आउट होने के पहले 28 गेंदों पर 43 रन बनाय जिसमे चार चौके और 2 शानदार छक्के शामिल थे। अभिषेक शर्मा ने इस सीजन सबसे ज्यादा रन बनाया है अपने टीम हैदराबाद के लिए बाकी के प्लेयर फ्लॉप रहे है और इसी वजह से आज हैदराबाद बाहर होने के दहलीज पर खड़ी है। केकेआर के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया और उन्होंने अपने दिए हुए लक्ष्य को डिफेंड भी किया और शानदार 54 रनों से जीत दर्ज की। केकेआर के तरफ से रसेल ने सबसे अच्छी गेंदबाजी की उन्होंने अपने 4 ओवर के कोटे से 22 रन खर्च किए और 3 महत्वपूर्ण विकेट भी अपने नाम किया। वही टीम साउदी ने भी 2 विकेट झटके। उमेश यादव,वरुण चक्रवर्ती और सुनील नरेन को 1-1 विकेट मिले। केकेआर ने हैदराबाद को कसी हुई गेंदबाजी की जिस से लगातार अंतराल पर विकेट गिरता रहा और टीम का कोई भी खिलाड़ी पाव नही जमा सका।

 

केकेआर की पारी

 

कोलकाता नाइट राइडर्स की शुरुआत भी कुछ खास नहीं रही थी और उसका पहला ही विकेट 2 ओवर के आखरी गेंद पर वेंकटेश के रूप में गिर चुका था। वेंकटेश इस पूरे आईपीएल में फ्लॉप रहे है बल्कि उन्हें तो कई मैच में बाहर भी बैठाया गया था इसी फॉर्म के वजह से लेकिन अभी भी कुछ सुधार नहीं हो पाया है। वेंकटेश के जाने के बाद रहाणे और नीतीश के बीच एक छोटी सी साझेदारी पनपी लेकिन उसे उमरान मलिक ने तोड़ दिया और नीतीश राणा आउट होकर लौट गए। जाने के पहले उन्होंने 16 गेंदों में 26 रन बनाय जिसमे एक चौका और 3 शानदार छक्के शामिल थे। नीतीश के जाने के बाद कप्तान खुद क्रीज पर आय तब तक रहाणे आउट होकर वापस लौट गए, उन्होंने 24 गेंदों पर 28 रन बनाय जिसमे सिर्फ 3 छक्के ही शामिल थे। फिर कप्तान अय्यर ज्यादा देर तक नही टिक पाय और 9 गेंदों पर 15 रन बनाकर उमरान मलिक के शिकार हो गए। अब टीम का स्कोर 83 पर 4 विकेट था जिसे बड़े स्कोर में तब्दील करना मुश्किल था क्योंकि केकेआर के महत्वपूर्ण विकेट गिर चुके थे। रिंकू सिंह भी आय और चले गए। लेकिन उसके बाद रसेल नाम का तूफान आया जिसने हैदराबाद के गेंदबाजों की अच्छे से खबर ली। रसेल ने 28 गेंदों पर धुंआधार 49 रन बनाय। जिसमे 4 छक्के और 3 चौके शामिल थे जिसके दम पर केकेआर की टीम 178 रन का लक्ष्य दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here