आरसीबी की टीम बीच में लड़खड़ा सी गई थी और उसे लगातार 2-3 मैचों में हार का सामना करना पड़ा था लेकिन वही टीम अब जीत के साथ प्लेऑफ की ओर कदम बढ़ाने लगी है। आरसीबी की टीम के साथ एक टैग जुड़ा हुआ है की ये टीम स्टार खिलाड़ी भरे होने के बाद भी अच्छा नही खेल पाती। लेकिन आरसीबी की टीम इस सीजन में अच्छा प्रदर्शन कर रही है और वो जीत भी सकती है। क्योंकि इस बार कप्तानी फाफ डुप्लेसी कर रहे है जो महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी में खेला करते थे। आरसीबी की टीम जिस रफ्तार से आगे बढ़ रही है उस से बाकी की टीमों को सोचना होगा क्योंकि सबने ये सोच रखा था की शायद आरसीबी अच्छा नही कर पाएगी लेकिन लगातार आरसीबी अच्छा खेल रही है।

 

आरसीबी की पारी

 

आरसीबी की टीम जब बैटिंग करने उतरी तो आज वो ग्रीन कपड़े में थी और ओपन करने उतरे थे टीम के कप्तान फाफ डुप्लेसी और किंग कोहली लेकिन शुरुआत बिल्कुल खराब रही। इस सीजन में खराब फॉर्म से जूझ रहे किंग कोहली डक पर आउट हो गए। इस बार भी कोहली से बहुत उम्मीदें थी लेकिन कुछ नही हो पाया। टीम का स्कोर अभी शून्य ही था और पहली ही गेंद पर कोहली आउट हो गए। कोहली के बाद बैटिंग करने आय रजत पाटीदार ने सामने वाली टीम की अच्छे से खबर ली। एक छोर से कप्तान डुपलेसी आग उगल रहे थे तो दूसरे छोर से पाटीदार भी पीछे नहीं थे। दोनो ने देखते ही देखते 100 रनों की बड़ी साझेदारी कर डाली। दोनो ने मिल कर 105 रनों की साझेदारी की जो आगे चल कर टीम के लिए फायदेमंद साबित हुआ क्योंकि आरसीबी का पहला विकेट जल्दी ही गिर गया था। लेकिन रजत पाटीदार 48 के स्कोर पर आउट हो गए जो आरसीबी को लगने वाला दूसरा झटका था। उन्होंने 48 रन बनाने के लिए 38 गेंदों का सामना किया जिसमे 4 चौके और 2 छक्के शामिल थे। मैक्सवेल जिस काम के लिए जाने जाते है वो आते ही शुरू हो गए और उन्होंने 24 गेंदों में 33 रन ठोक दिए जिसमे 3 बेहतरीन चौके और 2 शानदार छक्के शामिल थे। अंत के ओवरों में खेलने उतरे दिनेश कार्तिक ने तो गजब ही कर दिया। उन्होंने आते ही मारना शुरू कर दिया,कार्तिक ने 30 रन बनाने के लिए मात्र 8 गेंदों का सामना किया जिसमे 4 छक्के शामिल थे। अब इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है की कार्तिक कितने प्रचंड फॉर्म में हैं। सबकी मदद से आरसीबी ने हैदराबाद को 193 रनों का पहाड़ जैसा टारगेट दिया। उधर हैदराबाद की ओर से लगभग सारे गेंदबाजी की पिटाई एक बराबर हुई। बस सूचित ने अपने 4 ओवर के कोटे से 30 रन देकर 2 विकेट निकाले वही भुनेश्वर कुमार को एक भी विकेट नही मिला।

 

सनराइजर्स हैदराबाद

 

पहाड़ जैसे लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद की शुरुआत एकदम खराब रही और उसका पहला विकेट ही शून्य पर गिर गया और कप्तान पहली ही गेंद पर लौट गए। फिर एक रन पर हैदराबाद का दूसरा विकेट भी चला गया। इस आईपीएल में अपने बल्ले से धमाल मचाने वाले अभिषेक शर्मा भी जल्दी ही आउट होकर वापस लौट गए। अब हैदराबाद की टीम में संकट में थी और जिम्मेदारी थी मरकरम और राहुल त्रिपाठी पर और दोनो ने मिल कर हद तक टीम को संभाला और 2 विकेट जाने के बाद टीम को 50 रन के पार पहुंचाया। फिर अचानक मरकरम 50 की साझेदारी करने के बाद आउट हो कर लौट गए। उसके बाद कोई भी बल्लेबाज टिक कर नही खेल पाया और आया और चला गया। इस तरह से हैदराबाद की टीम को बहुत बड़ी हार झेलनी पड़ी। और ये हार उसके रनरेट का खेल आगे चल कर बिगाड़ सकता है। उधर अगर आरसीबी की बॉलिंग की बात करे तो हसरंगा ने क्या गजब की बॉलिंग की। उन्होंने अपने 4 ओवर में 1 मेडन देकर 18 रन खर्च किये और 5 विकेट अपने नाम कर लिया। ये पांच का ही कमाल था की आरसीबी को इतनी बड़ी जीत मिली। हसरंगा के अलावा हेजलवुड ने भी शानदार गेंदबाजी कराई और 4 ओवर में 17 रन देकर 2 महत्वपूर्ण विकेट निकाले।

 

दिनेश कार्तिक का जलवा

 

इस मैच से पहले भी कार्तिक अच्छी पारियां खेल चुके है और वो पूरी तरह से आरसीबी के लिए फिनिशर का रोल निभा रहे हैं। कार्तिक ने महज 8 गेंदों पर चार शानदार छक्के एवं एक चौके की मदद से नाबाद 30 रन बना डाले। जो अंत के ओवर के लिए काफी था। अपनी पारी के दौरान दिनेश कार्तिक ने अफगानी गेंदबाज फजलहक फारूकी को जमकर निशाने पर लिया और अच्छे से धोया। आरसीबी की पारी के आखिरी ओवर में फारूकी को दिनेश कार्तिक ने आखिरी चार गेंदों पर कुल 22 रन बनाए। जो आखरी ओवर के दृष्टिकोण से बहुत ज्यादा था। कार्तिक ने उस ओवर की तीसरी, चौथी एवं पांचवीं गेंद पर छक्का लगाया, वहीं आखिरी गेंद पर उन्होंने चौका जड़ दिया। फजल हक फारूकी के उस ओवर में कुल 25 रन आए और आरसीबी के लिए वो बड़ा ओवर भी साबित हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here