अगर टी20 की कामयाब टीमों की गिनती होती है तो उसमे से टीम इंडिया का पहला नाम निकल कर आता है। जब टी20 शुरू हुआ था तब पहला वर्ल्ड कप 2007 में ही टीम इंडिया ने विश्व को संदेश दे दिया था की वो किसी से कम नही है। अब मंच सज चुका है और टीम इंडिया फिर से तैयार है साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीम से भिड़ने के लिए। लेकिन आपको बता दे की अगर भारतीय टीम अपना पहला टी20 जीत लेती है तो फिर उसके नाम एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज हो जाएगा जिसके करीब कोई टीम जल्दी पहुंच ही नहीं सकती। 9 जून को खेला जाने वाला मैच ऐतिहासिक मैच बन जाएगा जब भारतीय टीम जीत जाएगी तो क्योंकि टी20 क्रिकेट में लगातार 13 मैच जीतने वाली पहली टीम बनेगी। ऐसा पहले कभी नही हुआ है, अभी भारतीय टीम 12 टी20 लगातार जीतते आ रही है और ये रिकॉर्ड अपने नाम करने के लिए उसे थोड़ा मेहनत और करना होगा और पहले मैच में साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीम को हराना होगा। अभी 12 टी
20 लगातार जीतने का नाम अफगानिस्तान और रोमानिया जैसी टीमों के नाम दर्ज है। अगर भारतीय टीम जीतती है तो वो इन दोनो को पछाड़ कर पहले पर होगी और एक इतिहास भी रचा जाएगा।

 

केएल राहुल की कप्तानी रही है असफल

 

टीम के साथ एक दिक्कत ये भी है की टीम के एक्सपीरियंस खिलाड़ियों को इस सीरीज के लिए आराम दिया गया है और जिन खिलाड़ियों ने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया था उन्हें साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेलने का मौका दिया गया है। केएल राहुल ने अभी तक खुद कप्तानी करते हुए एक भी मैच नहीं जीता है,जो उनके लिए और टीम के लिए शर्मनाक रिकॉर्ड है और वो इसे जरूर साउथ अफ्रीका के खिलाफ बदलना चाहेंगे। राहुल ने 4 मैचों में भारतीय टीम की कप्तानी की है और चारों हारे है। खास बात ये भी है कि केएल राहुल की कप्तानी में टीम इंडिया ने ये सारे में साउथ अफ्रीका के खिलाफ ही खेले हैं और हारे हैं। लेकिन इस सीरीज में क्या होता है वो तो अब 9 जून को ही पता चलेगा। वैसे देखा जाए तो जिस तरह से राहुल ने आईपीएल में लखनऊ की टीम को संभाला था वो काबिले तारीफ था और कई दिग्गजों ने तारीफ भी की थी, इन सब से केएल राहुल से उम्मीदें और बढ़ जाती हैं।

 

इन खिलाड़ियों पे होगी नजर

 

केएल राहुल:- केएल राहुल को रोहित शर्मा के गैरमौजूदगी में कप्तान भी बनाया गया है टीम इंडिया का और आईपीएल खेल कर अभी अभी आय है राहुल। राहुल का फॉर्म कैसा था आईपीएल में ये किसी से छुपा नहीं है, वो लखनऊ के टीम को अपने दम पर प्लेऑफ तक पहुंचाया था और उम्मीद यही लगाया जा सकता है की वो साउथ अफ्रीका के खिलाफ भी अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

 

ईशान किशन:- किशन का प्रदर्शन मुंबई के लिए मिला जुला रहा था कही न कही उनपर सबसे महंगा बिका जाना हावी था। किशन विकेट कीपर भी है ऋषभ पंत के बाद लेकिन मौका किसको मिलेगा ये देखने वाली बात होगी क्योंकि ऋषभ का भी कुछ खास प्रदर्शन नही रहा था। ईशान से लोगो की उम्मीदें बंधी हुई है की वो अच्छा करे साउथ अफ्रीका के खिलाफ।

 

दिनेश कार्तिक:- लंबे अर्से बाद टीम इंडिया में वापसी कर रहे दिनेश कार्तिक से लोगो को काफी उम्मीदें है। क्योंकि कार्तिक का प्रदर्शन अपने टीम आरसीबी के लिए बेहतरीन था। उन्होंने अपनी टीम के लिए फिनिशिंग का काम किया था और अभी टीम इंडिया में भी धोनी के जाने के बाद से अच्छा फिनिशर नही मिल पाया है। लोगो को उम्मीदें है की दिनेश कार्तिक वो काम करके दिखाएंगे।

 

दीपक हुड्डा:- हुड्डा का प्रदर्शन अपने टीम लखनऊ के लिए बेहतरीन रहा है इस सीजन में और इसी का इनाम उनको टीम इंडिया में लाकर दिया गया है। अब अगर हुड्डा को मौका मिलता है तो देखना होगा की वो कितना खरा उतर पाते है।

 

हार्दिक पांड्या:- काफी समय बाद पांड्या की टीम में वापसी हो रही है। क्योंकि आईपीएल से पहले उनका ऑपरेशन भी हुआ था और वो उसके पहले फॉर्म में नही थे इस लिए उन्हें टीम से ड्रॉप भी किया गया था। लेकिन पांड्या ने क्या शानदार वापसी की है अपने टीम को आईपीएल जीता कर। पांड्या ने आईपीएल में अपने गेंद और बल्ले दोनो से कमाल किया और उसी का गिफ्ट उन्हे मिला टीम इंडिया में वापसी के मौके के रूप में।

 

उमरान मलिक:- मलिक अब किसी नाम के मोहताज नहीं है। अब उन्हें पूरा विश्व रफ्तार किंग के नाम से जानने लगा है। मलिक ने इस आईपीएल सीजन में अपने गेंदबाजी के रफ्तार से बल्लेबाजों के अंदर डर बैठा दिया था वही डर अफ्रीका के बैटरो को भी डराएगा। मलिक ने इस सीजन में 14 मैचों में 22 विकेट लिए थे और वो विकेट लेने वालों की सूची में तीसरे नंबर पर थे। कही न कही उमरान मलिक से साउथ अफ्रीका के खिलाड़ी डरेंगे क्योंकि उनकी रफ्तार के आगे सब नतमस्तक हैं। इसी लिए उम्मीदें उमरान मलिक से और भी बढ़ जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here