सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ आज गोरखपुर दौरे पर थे और 40 साल पुरानी परंपरा को निभाते हुए गोरखपुर में एक दलित के घर पर खिचड़ी खाई। सीएम योगी आदित्यनाथ एक तरफ प्रदेश के सीएम होने के नाते अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन करते है। बल्कि गोरक्षपीठाधीश्‍वर के तौर पर गोरक्षपीठ की परंपराओं का पालन करने से भी कभी नहीं चूकते। और आज इसी का पालन करते हुए गोरखनाथ मंदिर की परंपराओं को निभाया जोकि 40 साल पुरानी है। जिसमे पीठ की गद्दी पर बैठने से पहले प्रत्येक महंत को मकर संक्रांति के अवसर पर दलित के घर खिचड़ी खाना होता है। और इस परंपरा को आगे बढ़ाते हुए योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के मानबेला के पीरू शहीद मुहल्ले में रहने वाले अमृत लाल भारती के घर पर उनके घर की बनी खिचड़ी खाई। अमृतलाल भारती नगर निगम कर्मचारी है। शुक्रवार को जब सीएम योगी आदित्यनाथ दलित बस्ती में पहुंचे तो उनकी एक झलक पाने और मिलने के लिए लोगो की काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। उनके आने की खुशी में लोगो में काफी उत्साह रहा, जब तक योगी मुहल्ले में रहे तब तक लोगो के छतों पर जमघट लगा रहा। अमृत लाल भारती के घर सीएम योगी आदित्यनाथ के आने का कार्यक्रम पहले से था तो सुबह से ही सारी तैयारियां चल रही थी। गांव को अच्छे तरीके से साफ सुथरा किया गया था और अमृत लाल भारती के घर पहले से ही खिचड़ी, पूड़ी, सब्जी, बना रखा हुआ था। अमृत लाल के बारे में बताए तो वो काफी पहले से ही भारतीय जनता पार्टी और गोरक्षनाथ मंदिर से जुड़े हुए है।

 

क्या है 40 साल पुरानी परंपरा?

 

बताया जा रहा दलित के घर खिचड़ी खाने वाली परंपरा लगभग 40 साल पुरानी है। इस परंपता को हर गोरक्षपीठाधीश्वर महंत निभाता है। और बताया जा रहा की योगी आदित्यनाथ इससे पहले भी इस परंपरा को निभाते आ रहे है।खुद मुख्यमंत्री ने अपनी इस परंपरा को निभाने की जानकारी ट्विटर पर शेयर करके दी। उन्होंंने लिखा सामाजिक समरसता का ध्येय लिए सतत बढ़ते जाना है। आज गोरखपुर स्थित झुंगिया में श्री अमृत लाल भारती के घर खिचड़ी का प्रसाद ग्रहण करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। भारती जी का आभार एवं हार्दिक धन्यवाद!

 

नेपाल राज परिवार की भी चढ़ेगी खिचड़ी।

 

14 जनवरी को भी सीएम गोरखनाथ मंदिर में ही रहेंगे और मकर संक्रांति पर्व पर श्रद्धालुओं की सुख सुविधा का ख्याल रखेंगे। 15 जनवरी की सुबह विशेष पूजन कर गुरु गोरक्षनाथ को मंदिर की ओर से प्रथम खिचड़ी चढ़ाएंगे। इसके बाद नेपाल राज परिवार की खिचड़ी चढ़ाई जाएगी। इस दिन भी सीएम योगी आदित्यनाथ मंदिर परिसर में ही रहेंगे।

 

समाजवादी पार्टी पर साधा निशाना।

 

पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, ”जो लोग गरीबों का हक छीनते थे, डकैती डालते थे, पेशेवर अपराधियों को अपना शार्गिद बनाते थे, जब वह पेशेवर माफिया और अपराधी प्रदेश के अंदर गरीबों के मकानों पर कब्जा करते थे, दलितों की बस्तियों पर कब्जा करते थे, बुलडोजर चलाते थे, उनकी जमीनों को जबरदस्ती हड़पने का काम करते थे तब इन लोगों के मुंह से आवाज नहीं निकलती थी।

 

43 गरीबों और दलितों के लिए बने घर।

 

इस मौके पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में और हमारे देश के प्रधानमंत्री जी के सानिध्य से पिछले 5 सालो में हमने बिना किसी भेद भाव के प्रदेश के हर गरीब, असहाय, महिला और नौजवानों के लिए तरह तरह की योजनाएं लेकर आए है। और उन्होंने कहा कि प्रदेश में 43 लाख गरीबों के एक-एक लाख आवास बनें है। 2.61 करोड़ गरीबों के घर में शौचालय बन गए हैं।

 

माफिया अतीक अहमद के अवैध जमीन पर बन रहा दलितों के लिए मकान

 

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार भू माफिया और गुंडों के द्वारा अवैध रूप से कब्जे वाली जमीन पर दलितों के लिए मकान बनाने के लिए आदेश दिया है। बता दें बीते वर्ष ही अतीक अहमद की अवैध तरीके से कब्जे वाली जमीन पर कार्रवाई करते हुए योगी सरकार ने दलितों के लिए घर बनाने का आदेश दिया है। और जिसके शिलान्यास के लिए स्वयं सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ प्रयागराज आए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here