शुरुआती दो मुकाबला हारने के बाद जिस तरह से भारतीय टीम ने वापसी की है वो वाकई में काबिले तारीफ है। दो मैच लगातार हारने के बाद ऐसा लग रहा था की भारत जल्दी ही सीरीज हार जाएगा लेकिन भारत ने पहले तीसरे मैच में साउथ अफ्रीका को हराया और फिर शुक्रवार को खेले गए मुकाबले में अफ्रीका को पटकनी दी। भारत ने अफ्रीका को 82 रनों से हराया, जो की एक बड़ा स्कोर है और ये एक बुरी हार है अफ्रीका की टीम के लिए। इस मैच में भी ऋषभ पंत बाकी मैचों की तरह टॉस हार गए और भारत को पहले बल्लेबाजी करने का निमंत्रण मिला। भारतीय टीम इस मैच में भी बिना किसी बदलाव के उतरी। जैसा की उम्मीद लगाया जा रहा था की शायद आवेश को हटा कर उमरान मलिक को मौका दिया जाए वो नही हुआ, और वही टीम खेली जो पिछले तीन मैचों से खेलते आ रही है। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 169 रनों का साधारण सा स्कोर खड़ा किया जो बहुत बड़ा नही था साउथ अफ्रीका के लिए। लेकिन अफ्रीका की टीम इसे पीछा करने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई और मात्र 87 रन पर ही पूरी टीम आउट हो गई। ये साउथ अफ्रीका की सबसे बड़ी हार है भारत के खिलाफ।

 

भारत की पारी

 

टॉस हार कर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत कुछ अच्छा नही रहा, और पिछले मैच में अपने बल्ले से शोर मचाने वाले ऋतुराज जल्दी ही वापस लौट गए। दूसरे ओवर की आखरी गेंद पर जब टीम का स्कोर 13 रन था तभी नगीडी ने ऋतुराज को डिकॉक के हाथों कैच आउट करा कर वापस भेज दिया। ऋतुराज ने 7 गेंदों में मात्र पांच रन बनाय एक चौके की मदद से। उसके बाद बैटिंग करने उतरे श्रेयस अय्यर भी ज्यादा कुछ नही कर पाय और 2 गेंदों में 4 रन की पारी खेल कर चलते बने। अब यहां से टीम इंडिया कही न कही दबाव में आ चुकी थी क्योंकि उसके दो इनफॉर्म बैटर आउट हो चुके थे। लेकिन एक राहत की बात ये थी की ईशान किशन अभी भी क्रीज पर टिके हुए थे और वो शानदार फॉर्म में भी थे लेकिन वो भी अपनी पारी को लंबी नही खीच पाय और 26 गेंदों में 27 रन बनाकर आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी के दौरान 3 चौके और 1 छक्के लगाए। अब टीम इंडिया का स्कोर 3 विकेट के नुकसान पर 6 ओवर में 40 रन थे जो ठीक ठाक स्कोर थे लेकिन 3 महत्वपूर्ण विकेट गिर चुके थे। इनके जाने के बाद ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या में एक छोटी साझेदारी पनपी जो बहुत जरूरी था। लेकिन जैसे पंत पूरी सीरीज में फ्लॉप रहे है वैसे ही इस मैच में भी रहे। पंत ने धीमी पारी खेलते हुए 23 गेंदों में 17 रन बनाय जिसमे उन्होंने 2 चौके लगाए लेकिन दूसरी तरफ खतरनाक फॉर्म में चल रहे हार्दिक पांड्या टिके रहे और उन्होंने आउट होने से पहले 31 गेंदों में 46 रन बनाय जिसमे 3 चौके और 3 छक्के लगाए जो टीम के लिए बहुत जरूरी था।शुरुआती दो मुकाबला हारने के बाद जिस तरह से भारतीय टीम ने वापसी की है वो वाकई में काबिले तारीफ है। दो मैच लगातार हारने के बाद ऐसा लग रहा था की भारत जल्दी ही सीरीज हार जाएगा लेकिन भारत ने पहले तीसरे मैच में साउथ अफ्रीका को हराया और फिर शुक्रवार को खेले गए मुकाबले में अफ्रीका को पटकनी दी। भारत ने अफ्रीका को 82 रनों से हराया, जो की एक बड़ा स्कोर है और ये एक बुरी हार है अफ्रीका की टीम के लिए। इस मैच में भी ऋषभ पंत बाकी मैचों की तरह टॉस हार गए और भारत को पहले बल्लेबाजी करने का निमंत्रण मिला। भारतीय टीम इस मैच में भी बिना किसी बदलाव के उतरी। जैसा की उम्मीद लगाया जा रहा था की शायद आवेश को हटा कर उमरान मलिक को मौका दिया जाए वो नही हुआ, और वही टीम खेली जो पिछले तीन मैचों से खेलते आ रही है। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट खोकर 169 रनों का साधारण सा स्कोर खड़ा किया जो बहुत बड़ा नही था साउथ अफ्रीका के लिए। लेकिन अफ्रीका की टीम इसे पीछा करने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई और मात्र 87 रन पर ही पूरी टीम आउट हो गई। ये साउथ अफ्रीका की सबसे बड़ी हार है भारत के खिलाफ।

 

भारतीय गेंदबाजों के सामने अफ्रीका का सरेंडर

 

170 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी साउथ अफ्रीका की टीम भारतीय गेंदबाजों के सामने एकदम से बेबस नजर आई। टीम इतनी बेबस दिखी की 87 के स्कोर पर ही ऑल आउट हो गई। भुनेश्वर ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा और उन्होंने 2 ओवर में मात्र 8 रन दिए। हार्दिक पांड्या थोड़े से महंगे जरूर रहे, उन्होंने अपने 1 ओवर में ही 12 रन लूटा दिए। वही आवेश खान ने शानदार गेंदबाजी की और अपने कोटे के 4 ओवर से 18 रन खर्च करके 4 विकेट झटक लिए। हर्षल पटेल ने तो अफ्रीकी बैटरो को रन के लिए तरसा दिया। उन्होंने 2 ओवर में मात्र 3 रन दिए और 1 विकेट अपने नाम किया। आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करने वाले युजवेंद्र चहल ने फिर से अपना लोहा मनवाया और उन्होंने 4 ओवर में 21 रन देकर 2 विकेट निकाल लिए। इस मैच में अक्षर पटेल भी शानदार फॉर्म में दिखे और उन्होंने 3.5 ओवर में 19 रन खर्च करके 1 विकेट अपने नाम किया इस तरह से पूरी अफ्रीका की टीम भारतीय गेंदबाजों के सामने 87 रन पर ही घुटने टेक दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here