अक्सर यह देखा जाता है कि सभी महिलाएं ब्रा पहनती है , जिससे उनके स्तन सुरक्षित रहे । हालांकि कई महिलाएं इसे पहनना पसंद नहीं करती है क्योंकि यह काफी टाइट होती है । लेकिन क्या आपने जानने की कोशिश की है कि वास्तव में इसे न पहनने से महिलाओं के सेहत पर असर पड़ सकता है ? बड़े लम्बे समय से यह बहस देखने को मिलती है कि ब्रा पहनना ज़रूरी है या नहीं…..इस मुद्दे पर काफी समय से बहस जारी है । दुनिया भर की बहुत-सी महिलाओं को ब्रा पहनने से चिढ़ होती है । इसमें कोई दो राय नहीं है कि यह सबसे आरामदायक कपड़ा नहीं होती , इसलिए ज्यादातर महिलाएं इसे पहनना ज़रूरी नहीं समझती है । वही, ऐसी भी महिलाएं है, जो ब्रा के बिना घर से बाहर निकलने के बारे में सोच भी नहीं सकती है । यही नहीं वह घर के अंदर भी इसे पहनना बेहतर समझती है ।

 

क्यों महिलाएं हर समय ब्रा पहनाना पसंद नहीं करती है?

ज्यादातर महिलाओं का यह मानना है कि वह हर समय ब्रा पहनने से उन्हें बहुत परेशान हो जाती है । उनकी शिकायत इस बात को लेकर होती है कि हर वक्त ब्रा पहनने से उन्हें कसा और टाइट महसूस होता है । यह बात सच भी है कि हर वक्त ब्रा पहने रहने से बहुत कसा हुआ महसूस होता है । इसके अलावा टाइट ब्रा आपकी त्वचा को भी नुकसान पहुंचाती है । यही कारण है कि बहुत-सी महिलाएं रात में सोते समय ब्रा उतार देती है , जिससे उन्हें बेहतर नींद आती है और रीलीफ भी महसूस होता है ।

 

ब्रा से जुड़े कुछ मिथक जिसे जानना महिलाओं के लिए आवश्यक है-

लेकिन इसके साथ ही ऐसी भी मान्यता है कि लंबे समय तक ब्रा न पहनने से ब्रेस्ट ढीले पड़ जाते है या लटक जाते है , शेप बिगड़ जाता है । वही ऐस्पर्टस का मानना है कि ब्रा पहनने या इसे न पहनने से सेहत पर किसी तरह का असर नहीं पड़ता है । यह सिर्फ एक फैशन स्टेटमेंट है । उनका मानना है कि ब्रा पहनना या न पहनना एक व्यक्तिगत पसंद है । कुछ लोगों को ब्रा के साथ अपना शरीर पसंद आता है, तो कुछ इसके बिना स्पोर्ट्स खेलने में असमर्थ होती है । वही डॉक्टरों का भी यही कहना है कि अगर किसी को इसे पहनने से कम्फर्ट महसूस होता है , तो वह ऐसा करने के लिए आज़ाद है । इसी तरह अगर कई महिलाएं ब्रा नहीं पहनना चाहतीं, तो वे भी आज़ाद है । अगर आप ब्रा नहीं पहनेंगी तो आपके स्तन का आकार या सेहत पर किसी तरह का प्रभाव नहीं पड़ेगा । अंडरवायर्ड ब्रा या फिर पैडेड ब्रा पहनने से कैंसर नहीं होता । यह सिर्फ आपकी अपनी पसंद है । ज्यादातर महिलाएं ब्रा इसलिए पहनती है , क्योंकि इससे उनके स्तनों को आकार मिलता है । लेकिन महिलाओं को यह सुनिश्चित ज़रूर करना चाहिए कि आप जब भी ब्रा खरीदने जाएं तो आप खराब ब्रा का चयन नहीं करना चाहिए । इसकी क्वालिटी पर जरूर ध्यान देना चाहिए । कुछ अध्ययनों के अनुसार, महिलाओं को हमेशा ब्रा पहनना जरूरी नहीं है । हालांकि, एक आरामदायक ब्रा का चयन करना चाहिए, क्योंकि खराब ब्रा जैसे कि अगर किसी ब्रा का कपड़ा खराब निकलता है तो इससे आपकी त्वचा खराब हो सकती है ।

 

रात में सोते समय ब्रा क्यों नहीं पहनना चाहिए?

महिलाएं अंडरगार्मेंट्स में ब्रा अक्सर पहनती है । ब्रा पहनने से जो भी वह ड्रेस पहनती है , उसका सही शेप आता है और ओवरऑल लुक आकर्षक दिखता है । हालांकि, कुछ महिलाएं घर पर ब्रा कम ही पहनती है । दरअसल आजकल मार्केट में तरह-तरह के डिजाइनर और फैब्रिक वाले सस्ते से लेकर महंगे ब्रा मिलने लगे है । लेकिन ऑफिस से लेकर घर में लगातार ब्रा पहनना भी सेहत के लिए ठीक नहीं होता है । कई शोध में भी यह बात सामने आई है कि रात में सोते समय अंडरगार्मेंट्स उतार कर सोना चाहिए । ऐसा करने से त्वचा खुलकर सांस ले पाती है । स्तनों पर अधिक दबाव नहीं पड़ता । मांसपेशियां रिलैक्स होती है । ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है । जब आप देर तक टाइट ब्रा पहनी रहती है , तो ब्रेस्ट के आसपास मौजूद लिम्फ वेसल्स पर दबाव पड़ता है । इससे उस भाग में टॉक्सिक कम्पाउंड जमने लगता है । रात में ब्रा पहनकर सोने से नसों , ब्लड वेसेल्स पर भी दबाव पड़ता है ।जब महिलाएं सारा दिन टाइट ब्रा पहने रहती है , तो ब्लड सर्कुलेशन रुक जाता है । जिससे मांसपेशियों पर दबाव पड़ता है । रात में जब महिलाएं ब्रा के बिना सोती है , तो मांसपेशियों को आराम मिलता है और आपको चैन की नींद भी आती है । 24 घंटे में जब घर से बाहर हों तो ही ब्रा पहनें बाकि समय महिलाओं को ढीले-ढाले कपड़ों में रहना चाहिए । कुछ महिलाएं इसलिए भी ब्रा पहनी रहती है , क्योंकि उनका मानना है कि ब्रा पहनने से स्तनों का साइज बढ़ता है । हालांकि ब्रेस्ट साइज को बड़ा और आकर्षक दिखाने के लिए बेशक डिजाइनर पैडेड ब्रा पहनाना चाहिए, लेकिन इससे सही में स्तनों का आकार नहीं बढ़ता है । ब्रेस्ट का आकार एक उम्र तक बढ़ता है , जो एक नेचुरल प्रक्रिया है । ब्रेस्ट की पेक्टोरल मसल्स के कारण स्तनों का साइज बढ़ता है ना कि ब्रा पहने रहने से । उन्हें लगता है कि बिना ब्रा के उनके ब्रेस्ट लटक जाएंगे । शेप और साइज बिगड़ जाता है । आपको बता दें कि ब्रा नहीं पहनने से ऐसा कुछ नहीं होता है । क्या आप जानती है कि लगातार ब्रा पहने रहने से चेस्ट मसल्स कमजोर होने लगते है और यही कारण है ब्रेस्ट के ढीले होना का भी । लगातार ब्रा पहने रहने से ब्लड सर्कुलेशन रुकता है । ब्रा का संबंध हार्ट डिजीज से भी है । ब्रा पहनने से नसों, ब्लड वेसल्स पर दबाव पड़ता है, जिससे ऑक्सीजन सही तरह से प्रवाहित नहीं हो पाता है । बहुत-सी महिलाओं को छाती के पास या पीठ के क्षेत्र में दर्द का एहसास होता है । लेकिन अगर आप ब्रा नहीं पहनेंगे तो आपका ये दर्द कम हो सकता है । दरअसल जब हम ब्रा पहनते है तो इसका इसका दबाव हमारी छाती, गर्दन और कमर के हिस्से पर पड़ सकता है । जिससे हमारे इन क्षेत्रों में दर्द हो सकता है । लेकिन अगर आप ब्रा नहीं पहनेंगे तो आपका ये दर्द कम ज़रूर होगा । हालांकि, कुछ अध्ययनों में यह भी कहा गया है कि जिन महिलाओं के स्तन भारी होते हैं उन्हें ब्रा पहननी चाहिए ।

 

महिलाओं के लिए ब्रा का यह है विकल्प

अक्सर महिलाएं अपने वजन को नियंत्रित करने के लिए कई तरह के वर्कआउट और जिम जाना पसंद करती है । ऐसी महिलाओं को सामान्य ब्रा की जगह स्पोर्ट्स ब्रा को पहनना चाहिए ताकि स्तनों में खिंचाव न हो व आराम मिल सके। केवल वर्कआउट के लिए बल्कि सामान्य ब्रा की जगह स्पॉट्स ब्रा को पहनना बेहतर विकल्प है । दरअसल, व्यायाम और वर्कआउट के दौरान स्पोर्ट्स ब्रा पहनना अच्छा होता है । स्तन के आकार को बनाए रखने में स्पॉट्स ब्रा महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है । अगर बहुत तेज गति से व्यायाम करते है तो स्तनों में खिंचाव आ सकते है । ऐसी स्तिथि स्तन के लटकने और झूलने का कारण बनती है । यही कारण है स्प्रौट्स ब्रा पहनकर सभी गतिविधिया करने से स्तनों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है । महिलाएं स्प्रौट्स ब्रा पहनकर आराम से अपना वर्कऑउट कर सकती है । आजकल केवल स्प्रौट्स वर्कआउट के लिए उपयोगी नहीं है , बल्कि रोजाना के ब्रा पहनने के जगह स्पॉट्स ब्रा पहनना एक अच्छा विकल्प है । इस ब्रा से त्वचा पर किसी तरह निशान नहीं पड़ता है और खुजली जैसी समस्या भी नहीं होती है‌ । इसलिए सामान्य ब्रा की जगह स्पोर्ट्स ब्रा पहनना चाहिए । आजकल केवल स्प्रौट्स वर्कआउट के लिए उपयोगी नहीं है बल्कि रोजाना के ब्रा पहनने के जगह स्पॉट्स ब्रा पहनना एक अच्छा विकल्प है । इस ब्रा से त्वचा पर किसी तरह निशान नहीं पड़ता है और खुजली जैसी समस्या भी नहीं होती है‌ । इसलिए सामान्य ब्रा की जगह स्पोर्ट्स ब्रा पहनना चाहिए ।स्पोर्ट्स ब्रा स्तन के लिए बहुत आरामदायक माना जाता है । जैसा की आपको पता है रोजाना के ब्रा और स्पोर्ट्स ब्रा में बहुत अंतर होता है । स्पोर्ट्स ब्रा में हुक और तार नहीं होते है इस वजह से स्तन को बहुत आराम मिलता है । सामान्य ब्रा में हुक और तार होता है जो स्तनों में चुभते है और रक्त परिसंचरण में बाधा बनते है । यही वजह है की सामान्य ब्रा आरामदायक नहीं होते है इसलिए स्पोर्ट्स ब्रा का चयन करना चाहिए ।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here