पाकिस्तान टीम के विवादित खिलाड़ी रहे शाहिद अफरीदी और पाकिस्तान के पूर्व हिंदू गेंदबाज दानिश कनेरिया के बीच अब तीखा हमला कम नहीं हो रहा है। आपको बता दे कि शाहिद अफरीदी एक इंटरव्यू में भारत को अपना दुश्मन बताया था। ये वही खिलाड़ी है जो हमेसा विवादों के बीच घिरा रहता है और अब भारत को अपना दुश्मन बता रहा है। ये वही खिलाड़ी है जो हमेसा से कश्मीर को लेकर भारत पे तीखा हमला करता रहता है और अब इसने भारत को ही अपना दुश्मन करार दिया है। लेकिन अफरीदी का जवाब उन्ही के देश के खिलाड़ी ने दिया है। दानिश कनेरिया ने ट्वीट करते हुए कहा है कि “भारत हमारा दुश्‍मन नहीं है। हमारे दुश्‍मन वो हैं जो धर्म के नाम पर लोगों को बांटते हैं। अगर आपको लगता है कि भारत हमारा दुश्‍मन है तो भविष्‍य में किसी भी भारतीय मीडिया चैनल पर मत जाना। जब मैंने जबरन धर्म परिवर्तन का विरोध किया तो मुझे करियर बर्बाद करने की धमकियां दी गई।”

 

 

पहले से दोनो में अनबन

 

आपको बता दे की इस से पहले भी दोनो के बीच तीखी बहस हो चुकी है। शाहिद अफरीदी ने दानिश कनेरिया पे ढेरो आरोप लगाय थे। कनेरिया के आरोप लगाने के बाद अब इस मामले पर शाहिद अफरीदी का भी बयान आया है। अफरीदी ने सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया और साथ ही उल्टे कनेरिया पर ही आरोप मढ़ दिए,अफरीदी ऐसे खारिज कर रहे है जैसे विश्व को उनके बारे में पता ही नही है की वो कितने गिरे हुए खिलाड़ी हैं। दानिश पे आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि दानिश हमेशा ही उन्हें नीचा दिखाने की कोशिश करते रहे है। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान अफरीदी एकदम से बौखलाए हुवे है दानिश कनेरिया पर और उन्होंने कनेरिया को लेकर कहा की, ‘वह सस्ती शोहरत और पैसा कमाने के लिए इस तरह के आरोप लगा रहे हैं।’ अफरीदी आगे कहते है कि कनेरिया उनके लिए भाई जैसे थे और उन्होंने हमेशा उनका साथ दिया। उन्होंने कहा, ‘वह अब मुझ पर आरोप क्यों लगा रहे हैं? उन्होंने उस समय मेरे प्रति मेरे व्यवहार के बारे में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और हबीब बैंक लिमिटेड से शिकायत क्यों नहीं की? उनसे यह बताना चाहिए। हर कोई दानिश के चरित्र के बारे में जानता है। यहां अफरीदी का इशारा दानिश के फिक्सिंग मामले की ओर था।

 

उन्होंने आगे कहा, ‘कनेरिया ने इंग्लैंड में स्पॉट फिक्सिंग की थी और वहां उन्हें दोषी ठहराया गया था। वह हमारे प्रतिद्वंद्वी देश (भारत) को साक्षात्कार दे रहे हैं और धार्मिक भावनाओं को भड़का रहे हैं।’ उल्लेखनीय है कि दानिश ने जब इस बात का खुलासा किया था तो उनके साथी शोएब अख्तर ने भी स्वीकार किया था कि कुछ लोग टीम में उनके साथ ऐसा व्यवहार करते थे। हालांकि, शोएब ने नाम नहीं लिया और बाद में अपने जवाब को गोल-मोल कर गए थे क्योंकि बात हिंदू धर्म की था और ये सब ठहरे मुस्लिम। कई बार तो दानिश कनेरिया को प्लेइंग 11 में खेलने का मौका नहीं मिलता था क्योंकि वो एक हिंदू खिलाड़ी थे।

 

दानिश कनेरिया ने अफरीदी को दिया करारा जवाब

 

अफरीदी का जवाब देते हुए दानिश कनेरिया ने कहा था, ‘मैं और अफरीदी एक ही विभाग के लिए खेलते थे। इसलिए वह मुझे बेंच पर रखते थे। टीम में इंजमाम-उल-हक, शोएब अख्तर, मोइन खान, राशिद लतीफ और यूनिस खान जैसे वरिष्ठ खिलाड़ी थे, लेकिन उन्हें केवल अफरीदी के साथ समस्या थी।’ कनेरिया ने यूनिस खान की तारीफ करते हुए कहा था, ‘अफरीदी मेरे विभाग के कप्तान थे और मुझे बेंच पर बैठा दिया करते थे। हालांकि, जब यूनिस खान कप्तान बने तो उन्होंने मुझे सभी प्लेइंग इलेवन में शामिल किया।’ ये सब बताता है की अफरीदी को प्रोब्लम थी क्योंकि अगर हर खिलाड़ी द्वारा कनेरिया को सताया गया रहता तो कनेरिया और भी खिलाड़ियों का नाम लेते लेकिन उन्होंने शाहिद अफरीदी के अलावा किसी भी खिलाड़ी का नाम नहीं लिया। शाहिद अफरीदी के बारे में सब जानते है की वो कैसे है, वो किसी भी खिलाड़ी से बे मतलब का भीड़ जाते है। उनको चाहिए होता है की कैमरा उन्ही पर रहे। लेकिन जब से कनेरिया ने उनपे आरोप लगाया है तब से वो अपनी छवि बचाने में लगे हुए है। अब देखना ये होगा की ये मामला आगे कहा तक जाता है। अफरीदी को हिंदू से भारतीयों से बहुत प्रोब्लम रही है तभी तो वो कश्मीर को पाकिस्तान का हिस्सा बताते है और पीओके पहुंच कर भारत के खिलाफ आग उगलते है। जिस देश की जनता महंगाई के वजह से मर रही हो,जिस देश की जनता कोरोना के वजह से परेशान है उस देश का खिलाड़ी सिर्फ बकवास कर रहा है। यही हाल रहा तो अफरीदी की स्थिति लोगो की नजरो में और बेकार होने वाली है। अफरीदी को शर्म आनी चाहिए की उन्ही का देश का खिलाड़ी पूरे विश्व पटल पर उनकी खिंचाई कर रहा है और फिर भी वो अपने उल्टे सीधे बयानों से बाज नहीं आ रहे हैं। अफरीदी एक ऐसा खिलाड़ी है जिसे लाइम लाइट में रहना बहुत पसंद है इसी लिए जब वो क्रिकेट खेलता था तब खिलाड़ियों की स्लेजिंग करता था,खिलाड़ियों से जानबूझ कर लड़ता था। अफरीदी की शुरू से यही आदत रही है और अब कही लाइम लाइट नहीं मिल रहा है तो अब वो भारत की बुराई करके लाइम लाइट में आना चाहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here