पापुलर रियलिटी शो बिग बॉस के 15 अपने फिनाले के करीब है जिसमें कंटेस्टेंट्स लगातार एड़ी चोटी का दम लगाते दिख रहे है। शो का फिनाले जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे-वैसे ही कंटेस्टेंट्स के बीच जीतने का जूनून बढ़ता जा रहा है। शो के आखिरी दिनों में बड़ा टर्न लाते हुए बिग बॉस में एक बार फिर घर में वाइल्ड कार्ड एंट्री कराई है। लेकिन इस बार वाइल्ड कार्ड कोई और नहीं बल्कि घर से बेघर हुए शो के कंटेस्टेंट राजीव अदातिया की शो में फिर वापसी कराई गई है।

बिग बॉस के 15 के फिनाले में अब कुछ ही दिन बचे रह गए है।फिनाले वीक में सदस्यों के पहुंचने के बाद भी उतार-चढ़ाव लगा है शो में नया ट्विस्ट लाते हुए बिग बॉस ने घर से नॉमिनेट हो चुके सदस्य राजीव अदातिया को वाइल्डकार्ड बनाकर फिर से शो में एंट्री दी है। उनके आने के बाद ही घरवालों को यह बताया गया कि वह अपने घर वालों से वीडियो कॉल के जरिए बातचीत कर सकेंगे। इस घोषणा के बाद ही घरवाले बहुत खुश नज़र आए। हालांकि सबसे ज्यादा एक्साइटेड करण कुंद्रा और तेजस्वी प्रकाश थे क्योंकि पहली बार देखने उन्हें अपने रिश्ते के बाद घरवालों से मिलने वाले थे। सबसे पहले करण कुंद्रा को अपने परिवार से बात करने का मौका मिला और उन्होंने बात की तभी उनकी मां ने सबको खेल खत्म होने के बाद घर पर खाने का इनविटेशन भेजा। वहीं घर के‌ बाकी सदस्य भी खेल को अलग करके करण के माता-पिता से बात करने लगे। इसके बाद करण ने अपने माता-पिता को तेजस्वी से मिलाया।

तेजस्वी को देखते ही करण के पापा ने कह दिया कि वह हार्ट ऑफ द फैमिली है।अपने पिता के मुंह से तेजस्वी प्रकाश के लिए यह बात सुन करण खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने वीडियो कॉल खत्म होने के बाद तेजस्वी को यह भी बताया कि उनके पापा ने आज तक ऐसा किसी भी लड़की को नहीं कहा और वह बहुत खुश दिखाई दिए।सभी घरवाले तेजस्वी और करण को रिश्ता पक्का हुआ कहकर चिढ़ाते लगते है। इस बात को सुनकर तेजस्वी प्रकाश शर्माने लगती है। हालांकि करण भी खुशी से स्माइल करते हुए दिखाई दिए। इसके बाद तेजस्वी ने अपने माता-पिता से मिलवाने को लेकर एक्साइटेड थी जिसपर करण ने भी निशांत और तेजस्वी से मराठी में बात करना सीखा।

लेकिन जब तेजस्वी को वीडियो कॉल का मौका मिला तो तेजस्वी प्रकाश के भाई ने उनसे बात की। इसी दौरान तेजस्वी प्रकाश ने अपने भाई प्रतीक से पूछा कि करण उन्हें कैसा लगता है, इस पर प्रतीक जवाब आता है कि वह पसंद करते है और यह भी बताते है कि उनके माता-पिता भी करण को पसंद करते है। इसके बाद करण और तेजस्वी के भाई प्रतीक ने आपस में एक दूसरे-तीसरे से ओपेनली बात करते है साथ ही दोनों ने मिलकर तेजस्वी की खिंचाई भी करते है। कॉल करने के बाद करण तेजस्वी के भाई को क्यूट बताते है और दोनों ही बहुत खुश दिखाई पड़ते है।

 

टिकट टू फिनाले के लिए आपस में छीनाझपटी नज़र आए तेजस्वी और अभिजीत –

 

बुधवार प्रसारित एपिसोड में एक बार फिर नॉन वीआईपी सदस्यों को फिनाले वीक में अपनी जगह बनाने के लिए आपस में लड़ते नज़र आए है। बता दें कि बिग बॉस के दिए टास्क के चलते घर वालों में से किसी एक सदस्य को घोड़ा बनना था, जिसके ऊपर बैठकर राजीव को गेंदें तोड़नी थी।टास्क में तेजस्वी प्रकाश ने अभिजीत बिचुकले और निशांत भट्ट आपस में मुकाबला करते दिखाई दिए। हालांकि टास्क में राजीव द्वारा तोड़ी गई बड़ी बॉल में से निकली छोटी गेंदों को तीनों सदस्यों के बैग में कनेक्ट करनी थी। जिस भी सदस्य के पास अधिक गेंद होगी, वह इस टास्क का विजेता घोषित किया जाएगा।ऐसे में टास्क करते समय गेंद इकट्ठी करने के अलावा टास्क कर रहे कंटेस्टेंट्स एक- दूसरे से गेंदें छीनते भी नज़र आ रहे थे। इसी दौरान ही अभिजीत बिचकुले भी तेजस्वी प्रकाश से उसका बैग छीनते दिखाई दिए। जिस वज़ह से दोनों के बीच बहुत छीना झपटी हुई। यहां तक की अपने बैग को बचाने की कोशिश कर रही तेजस्वी को अभिजीत ने बैग सहित खींच कर नीचे गिरा दिया था।इसी छीना झपटी में तेजस्वी का बैग फट गया और उनकी सारी गेंदे ज़मीन पर फैल गई।इसके बाद निशांत और अभिजीत उनकी गेंदों को खुद के बैंग में डालते नज़र आए।

अभिजीत की इस हरकत से नाराज़ तेजस्वी प्रकाश ने उन्हें गुस्से में गेंद से खींचकर मार दिया। जिस पर अभिजीत ने विरोध किया और घर के अन्य सदस्यों को भी तेजस्वी को समझाते हुए नज़र आए और इस टास्क में वह अभिजीत गेंद से ना मारे।जिसके बाद तेजस्वी अपनी गेंदों को दोबारा इकट्ठा करती हूई नज़र भी आईं। लेकिन इससे पहले ही निशांत और अभिजीत उनकी ज्यादातर गेंदे अपने बैंग में डाल लिए थे। ऐसे में अपनी मेहनत को बर्बाद होता देख तेजस्वी अकेले जाकर निराश होकर रोती लगीं। इस टास्क का कोई नतीज़ा अभी सामने नहीं आया है और यह देखना बहुत ही दिलचस्प होगा कि कौन सा सदस्य जीत अपने नाम करता है।

 

 

देवोलीना भट्टाचार्जी ने ‌‌अभिजीत के परिवार से मिलने से किया इंकार-

 

बिग बॉस 15 शो में बीते कई दिनों से लगातार देवोलीना भट्टाचार्जी और अभिजीत बिचुकले की लड़ाई देखने को मिल रही है।दोनों को अक्सर ही एक- दूसरे से लड़ते -झगड़ते और फिर एक होते दिखाई देते है। ऐसे में दोनों के बीच नोकझोंक का दौर चल ही रहा था कि यह रिश्ता दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करता है। वही शो के पिछले एपिसोड में बिग बॉस ने सभी सदस्यों को अपने घर वालों से वीडियो कॉल करके बातचीत करने का मौका दिया। इसी दौरान अभिजीत बिचुकले ने वीडियो कॉल से उनकी मां, पत्नी और बच्चों ने बातचीत किया। अभिजीत बिचकुले से बात करते हुए उनकी पत्नी ने सभी से कहा कि अभिजीत एक अच्छे इंसान बताया जो कभी भी किसी से भी बदतमीजी नहीं करते और दिल का साफ इंसान बताया। उन्होंने यहा तक कह दिया कि वह किसी भी औरत को कभी बुरी नज़र से नहीं देखते है।इस बातचीत के दौरान बातचीत ही अभिजीत ने अपने घरवालों से देवोलीना को मिलाने की इच्छा भी जाहिर की। तभी प्रतीक देवोलीना को बुलाने अंदर भी जाते है लेकिन घर के अंदर तैयार हो रही देवोलीना ने अभिजीत बिचकुले के घरवालों से मिलने से साफ इनकार कर दिया। हालांकि रश्मि देसाई भी देवोलीना भट्टाचार्य से कहती है कि वह एक बार उनके फैमिली और बच्चों से मिल लें लेकिन देवोलीना साफ इंकार कर देती है और बताती है कि वह उनके फैमिली से बिल्कुल नहीं मिलना चाहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here