इस सीजन आईपीएल में रोमांच की कोई कमी नही है। आप अगर कोई भी मैच देखेंगे तो शायद ही वो मैच एकतरफा हो। ठीक वैसे ही रविवार के मैच में हुआ जो दिल्ली और लखनऊ के बीच खेला जा रहा था। रविवार को हुए इस मैच में भरपूर रोमांच देखने को मिला। आखिरी ओवर तक गए दिल्ली कैपिटल्स और लखनऊ सुपर जायंट्स के रोमांचक मैच में आखिर में केएल राहुल की लखनऊ की जीत हुई। दिल्ली को आखिरी ओवर में 21 रन चाहिए थे, टीम के बल्लेबाज़ों ने भरपूर प्रयास भी किया और दो बेहतरीन छक्के भी लगाए लेकिन जीत नहीं दिला सके अपनी टीम को। दिल्ली की टीम की अगर यही फॉर्म जारी रहा तो उसे प्लेऑफ से बाहर होने में कोई नही रोक पाएगा। इस मैच में लखनऊ के कप्तान केएल राहुल ने सबको तब चौका दिया जब उन्होंने टॉस जीत कर खुद बैटिंग चुनी क्योंकि इस पूरे टूर्नामेंट में ऐसा कम ही देखने को मिला है जब कोई कप्तान टॉस जीत कर बैटिंग लिया हो। केएल राहुल के इस डिसीजन को उनकी टीम के बल्लेबाज़ों ने सही भी साबित करके दिखाया। केएल राहुल के शानदार 77 रनों के दमपर लखनऊ ने 195 रन का बड़ा सा स्कोर खड़ा किया। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स की टीम 189 रन ही बना सकी और जीत से मात्र 6 रन दूर रह गई। दिल्ली कैपिटल्स को इस रोमांचक मुकाबले के आखिरी ओवर में 21 रनों की जरूरत थी और क्रीज पर थी कुलदीप यादव और अक्षर पटेल की जोड़ी जो थोड़ी बहुत बैटिंग के लिए भी जाने जाते है बल्कि अक्षर तो ऑलराउंडर भी है। उधर कप्तान केएल राहुल ने मार्कस स्टोइनिस को आखिरी ओवर की ज़िम्मेदारी सौप दी। दूसरो ओर कुलदीप यादव ने पहली ही गेंद को 6 रन घुमा दिया और जीत का फासला कम किया अपने टीम का। पहली गेंद पर छक्का लगने के बाद मार्कस स्टोइनिस प्रेशर में आ गए और उन्होंने दूसरी गेंद को वाइड फेंक दिया। लेकिन उसके बाद दूसरी गेंद पर 1 रन आए और लखनऊ ने मैच पर अपनी पकड़ मजबूत की। उसके बाद तीसरी,चौथी, और पांचवी बॉल पर कोई रन नही है और आखरी बॉल पर छक्का लग गया। इस तरह से मैच दिल्ली हार गई।

 

दिल्ली कैपिटल्स की पारी

 

बड़े से लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऋषभ पंत की दिल्ली की शुरुआत वैसी नहीं रही जिसके लिए दिल्ली की टीम जानी जाती है क्योंकि दो धाकड़ खिलाड़ी दिल्ली के तरफ से ओपनिंग करते है। लेकिन रविवार को दोनो के दोनो ही नही चले। जहा पृथ्वी 5 रन बनाकर आउट हुए वही डेविड वार्नर भी ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और मात्र 3 रन बनाकर चलते बनते। 13 ही रन पर दिल्ली अपना 2 महत्वपूर्ण विकेट गवा चुका था और टीम को चाहिए थी एक बड़ी साझेदारी। थोड़ी बहुत पारी को मिचेल मार्श ने संभाला और उन्होंने 37 रन की पारी खेली वही ललित यादव ने मात्र 3 रन बनाय। ऋषभ पंत ने अपने कप्तान होने का जिम्मेदारी उठाया और 44 रन बना डाले लेकिन वो भी अपनी पारी को लंबा नही खीच पाय। रॉवमैन पावेल ने भी तेजतर्रार 35 रनों का योगदान दिया तो वही ठाकुर मात्र 1 रन बनाकर चलते बने। इसके बाद जो भी रन बना वो अक्षर पटेल और कुलदीप यादव द्वारा बना लेकिन इतना नही बन पाया की टीम को जीत मिल जाए।

 

लखनऊ सुपर जायंट्स की पारी

 

लखनऊ सुपर जायंट्स, गुजरात के बाद सबसे सफल टीम है इस आईपीएल के सीजन में। और सबसे बड़ी बात की ये दोनो टीमें अपना पहला टूर्नामेंट खेल रही हैं और इतना अच्छा खेल रही हैं। सबसे बड़ी बात दोनो टीमों की ये है की उनके कप्तान भी अच्छे फॉर्म में चल रहे है। अब कल यानी रविवार के मैच की बात कर ली जाए तो केएल राहुल के बल्लेबाजी के वजह से ही मैच जीते है। लखनऊ के कप्तान केएल राहुल की शानदार फॉर्म जारी रहा रविवार के दिन भी। और इसी का नज़ारा रविवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ भी दिखा राहुल ने 77 रनों की जबरदस्त पारी खेली, जिसमें उन्होंने 4 चौके और 5 शानदार छक्के जमाए। राहुल के अलावा दीपक हुड्डा ने भी बेहतरीन पारी खेलते हुए फिफ्टी जमाई, दोनों के बीच 61 बॉल में 95 रनों की बड़ी साझेदारी भी हुई। इन्हीं के कमाल के दमपर लखनऊ ने 195 का बड़ा स्कोर बनाया है। इस मैच के डिकॉक ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और 23 रन बनाकर जल्दी आउट हो गए। लखनऊ इस मैच को जीतने के बाद अंकतालिका में दूसरे स्थान पर है पहले स्थान पर अभी भी गुजरात टाइटन्स की टीम बनी हुई है। जहा लखनऊ ने 10 मैच खेले है और 7 जीते है वही गुजरात टाइटंस 9 में से 8 जीती है और पॉइंट्स टेबल पर एक नंबर पे है।

 

दोनो टीमें कुछ इस प्रकार से हैं

 

लखनऊ सुपर जायंट्स : क्विंटन डि कॉक, केएल राहुल (कप्तान), दीपक हुड्डा, मार्कस स्टोइनिस, आयुष बदोनी, क्रुणाल पंड्या, के. गौतम, जेसन होल्डर, दुष्मंथा चमीरा, मोहसिन खान, रवि बिश्नोई।

 

दिल्ली कैपिटल्स की : पृथ्वी शॉ, डेविड वॉर्नर, मिचेल मार्श, ऋषभ पंत (कप्तान), ललित यादव, रॉवमैन पावेल, अक्षर पटेल, शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव, मुस्तफिजुर रहमान, चेतन सकारिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here