साउथ के सुपरस्टार अभिनेता महेश बाबू ने बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री पर‌ एक ऐसा बयान दे दिया है जिसको सुनकर दंग रह है । अभिनेता महेश बाबू एक भारतीय अभिनेता होने के साथ ही मशहूर निर्माता, मीडिया स्टार और फिलांथ्रोपिस्ट है । अभिनेता महेश बाबू तेलुगु सिनेमा में अभिनय करते है । उनका एक खुद का प्रोडक्शन हाउस भी है जिसका नाम जी. महेश बाबू एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड है । वह तेलुगु अभिनेता कृष्णा के छोटे बेटे है । उन्होंने सबसे पहले एक बालकलाकार के रूप में काम किया फिल्म नीदा साल 1979 में उस समय ये मात्र 4 वर्ष के थे । दरअसल हाल ही में बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री पर‌ उन्होंने कहा कि ,” मुझे लगता है कि बॉलीवुड मुझे अफोर्ड नहीं कर सकता । इसलिए मैं वहां अपना समय बर्बाद नहीं करना चाहता । ” बता दें कि यह बयान साउथ के सुपरस्टार महेश बाबू ने सोमवार को अपने प्रोडक्शन वेंचर ” मेजर ” के ट्रेलर लॉन्च कार्यक्रम में कही है । उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि पूरे देश में तेलुगू फिल्मों के ब्लॉकबस्टर प्रदर्शन के साथ ही भारतीय सिनेमा के मायने बदल गए है ।

 

बतौर अभिनेता पहली हिंदी फिल्म पर अभिनेता महेश का बड़ा बयान-

साउथ के सुपरस्टार महेश बाबू की बतौर निर्माता पहली हिंदी फ़िल्म “मेजर” है । अभिनेता अदिवि शेष की हिंदी और तेलुगू में बनी यह फिल्म का हैदराबाद में ट्रेलर लॉन्च हुआ था और इस मौके पर तेलुगू फिल्मों के अभिनेता महेश बाबू अपने ख़ास अंदाज़ में दिखाई दिए । पूरे समारोह में और उसके बाद अलग से हुए प्रेस कांफ्रेंस में भी वह या तो तेलुगू में बोले या अंग्रेजी भाषा में बोलते दिखाई दिए । हिंदी का एक भी शब्द उनके मुंह से नहीं निकला था । उनसे इस इन्टरव्यू में पूछा गया कि हिंदीभाषी दर्शकों के लिए बतौर निर्माता तो उन्होंने फिल्म बना ली , अब वह बतौर अभिनेता पहली हिंदी फिल्म कब बनाएंगे , इस सवाल का जवाब उन्होंने तेलुगू भाषा में दिया और बताया कि फिल्में तो वह तेलुगू में ही करेंगे , हिंदी वाले चाहें तो उसे डब करके देख लें । एक और सवाल के जवाब में उन्होंने यहां तक कहा कि हिंदी सिनेमा बनाने वालों के भीतर उनसे काम करवा पाने की कूवत नहीं है । हालांकि तेलुगू में हिट होने के बाद भी अभिनेता विजय देवराकोंडा अपनी पहली हिंदी फिल्म पूरी कर चुके है । अभिनेता राम चरण की भी संजय लीला भंसाली के साथ हिंदी फिल्म करने की खबरें आती रही है । बता दें कि अभिनेता महेश बाबू ने पहले स्थानीय पत्रकारों से थिएटर में बात की । फिर मुंबई, दिल्ली से आए हिंदी पत्रकारों के लिए अलग से सवाल जवाब का सत्र रखा गया , लेकिन उनके फैंस वहां भी घुस आए और लगातार शोर मचाते रहे । हैरानी की बात ये रही कि हिंदी पत्रकारों के लिए अलग से रखी गई इस प्रेस कांफ्रेंस में भी महेश बाबू हिंदी का एक शब्द नहीं बोले । उनसे हिंदी सिनेमा को लेकर उनसे बार बार सवाल हुए । वह सलमान खान को अपनी पत्नी नम्रता शिरोडकर का मित्र बताते रहे थे ।

 

अभिनेता महेश बाबू का निजी जीवन-

अभिनेता महेश बाबू का जन्म 9 अगस्त1975 को चेन्नई, तमिलनाडु में हुआ था । उनका वास्तविक नाम महेश घट्टामनेनी‎ है । उन्हे नानी, प्रिंस और नवताराम सुपरस्टार के नाम से भी जाना जाता है । उनके पिता का नाम कृष्णा घट्टामनेनी‎ है और उनकी माता का नाम इंदिरा देवी है । उनके भाईओं का नाम रमेश बाबू, नरेश, और बहने पद्मावती, मंजुला और प्रियदर्शिनी हैं। तेलुगु अभिनेत्री और फिल्म निर्माता विजया निर्मला महेश की सौतेली माँ है , और अभिनेता नरेश उनके सौतेले भाई है । महेश की बड़ी बहन पद्मावती का विवाह उद्योगपति और भारतीय संसद के सदस्य गल्ला जयदेव से हुआ, जो वर्तमान में तेलुगु देशम पार्टी के साथ गठबंधन कर रहे है । अभिनेता महेश बाबू की छोटी बहन प्रियदर्शिनी की शादी सुधीर बाबू से हुई, जिन्होंने बाद में तेलुगु सिनेमा में एक अभिनेता के रूप में अपनी शुरुआत की । उन्होंने 10 फरवरी 2005 को नम्रता शिरोडकर के साथ विवाह किया। उनके बच्चो के नाम सितारा घट्टामनेनी‎ (बेटी) और गौतम कृष्णा घट्टामनेनी‎ (बेटा) है ।

 

अभिनेता महेश बाबू का बड़ा बयान कहा, “बॉलीवुड कान्ट अफोर्ड मी”-

अभिनेता महेश बाबू का हैदराबाद में अपनी फिल्म प्रोडक्शन कंपनी की फिल्म ” मेजर ” का ट्रेलर लॉन्च उनके ही मल्टीप्लेक्स में हुआ । हैदराबाद के अलावा बेंगलुरू, मुंबई और दिल्ली व अन्य शहरों से पत्रकारों को बुलाया गया । जैसा कि हैदराबाद की परंपरा है , यहां के सितारों के कार्यक्रम में उनके फैंस भर भर कर बुलाए जाते है । वह चीखते है , चिल्लाते है और ये जाहिर करने की कोशिश करते है कि उनके पसंदीदा सितारे जैसा दूसरा सितारा कोई नहीं । फ़िल्म ” मेजर ” के ट्रेलर रिलीज पर भी यही हुआ । अदिवि शेष ने फिल्म में शहीद संदीप उन्नीकृष्णन का रोल निभाने से लेकर इस फ़िल्म को बनाने के लिए संदीप के माता पिता की अनुमति लेने तक के किस्से सुनाए । साई मांजरेकर ने इसे अपने लिए अहम मौका बताया । फिल्म के निर्माता निर्देशक ने भी फिल्म की खूब बड़ाई की । इसी बीच इंटरव्यू के दौरान अभिनेता महेश बाबू उनके इस पुराने बयान पर जब उनकी राय पूछी गई कि वह पैन इंडिया स्टार कहलाने की बजाय तेलुगू सुपरस्टार कहलाना ज्यादा पसंद करते है , महेश बाबू ने अपने बयान में इस बार थोड़ा सुधार किया । उन्होंने कहा, ” मैंने ये कभी नहीं कहा कि मैं पैन इंडिया स्टार वाली या पूरे देश में पसंद की जाने वाली फिल्में नहीं करूंगा । मेरा तब भी यही कहना था और आज भी यही कहना है कि मैं सिर्फ तेलुगू फिल्में करूंगा । बॉलीवुड सिनेमा मैं नहीं करूंगा । बॉलीवुड सिनेमा के बस का भी नहीं है कि वे मेरे साथ फिल्में कर सकें (बॉलीवुड कान्ट अफोर्ड मी) । ” बता दें कि अभिनेता महेश बाबू एक भारतीय अभिनेता होने के साथ ही मशहूर निर्माता, मीडिया स्टार और फिलांथ्रोपिस्ट है । अभिनेता महेश बाबू तेलुगु सिनेमा में अभिनय करते है । उनका एक खुद का प्रोडक्शन हाउस भी है जिसका नाम जी. महेश बाबू एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड है । वह तेलुगु अभिनेता कृष्णा के छोटे बेटे है । उन्होंने सबसे पहले एक बालकलाकार के रूप में काम किया फिल्म नीदा साल 1979 में उस समय ये मात्र 4 वर्ष के थे ।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here