आईपीएल 2022 का सीजन मुंबई और चेन्नई के लिए अभी तक तो एकदम से बेकार रहा है। दोनो ही टीमों को लगातार 4 हार झेलना पड़ा है। शनिवार शाम यानी कल शाम को खेले गए मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की धमाकेदार जीत हुई है। बेंगलुरु की ये चार मैचों में तीसरी जीत है वही मुंबई की चार मैचों में चौथी हार है। 152 रनों की पीछा करने उतरी आरसीबी ने आखिरी में जाकर मुंबई इंडियंस को मात दी। अंत में दिनेश कार्तिक, ग्लेन मैक्सवेल ने अपनी टीम के लिए मैच को फिनिश किया और 7 विकेट से बड़ी जीत दर्ज की। जैसा की सबको पता है की दिनेश कार्तिक कितने प्रचंड फॉर्म में चल रहे है,वो एक फिनिशर के योगदान में दिख रहे है इस साल। पांच बार की चैम्पियन मुंबई इंडियंस अभी भी इस सीजन में अपनी पहली जीत का इंतज़ार कर रही है। इस साल मुंबई के प्लेयर्स भी कुछ दूसरी टीमों में गए हुए है जैसे डीकॉक हुए और पांड्या ब्रदर्स। लेकिन फिर भी मुंबई के पास अच्छे प्लेयर्स की कमी नहीं है। खुद कप्तान रोहित शर्मा ही अभी फॉर्म में नही दिख रहे।

 

दोनो टीम कुछ इस प्रकार से थी

 

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम: फाफ डु प्लेसिस (कैप्टन), अनुज रावत, विराट कोहली, ग्लेन मैक्सवेल, शहबाज़ अहमद, दिनेश कार्तिक, डेविड विली, वानिंदु हसारंगा, हर्षल पटेल, आकाशदीप, मोहम्मद सिराज

मुंबई इंडियंस की टीम : रोहित शर्मा (कैप्टन), ईशान किशन, डेवाल्ड ब्रेविस, सूर्यकुमार यादव, तिलक वर्मा, कायरन पोलार्ड, रमनदीप सिंह, मुरुगन अश्विन, जयदेव उनादकट, जसप्रीत बुमराह, बसिल थाम्पी

 

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की अच्छी शुरुआत

 

बेंगलुरु की टीम के पास फाफ डुप्लेसी है जो पिछले बार चेन्नई को कप जीता कर बेंगलुरु में आए हुए है। बेंगलुरु की टीम को शानदार शुरुआत मिली और फाफ-अनुज रावत ने टीम को 50 के पार पहुंचाया। जो की किसी भी लक्ष्य का पीछे करने के लिए महत्वपूर्ण था। फाफ डु प्लेसिस का विकेट गिरने के बाद अनुज रावत का साथ देने के लिए विराट कोहली आए, जिनका एक अलग ही अंदाज देखने को मिला इस मैच में,विराट एक अच्छे टच में दिखे और बॉलर की अच्छे से खबर ली। बेंगलुरु के लिए सबसे खास पारी अनुज रावत की रही, जिन्होंने 47 बॉल में 66 रनों की पारी खेली। वहीं पूर्व कप्तान विराट कोहली भी 36 बॉल में 48 रन बनाकर अपने अर्धशतक से चूक गए। आखिर में दिनेश कार्तिक और ग्लेन मैक्सवेल ने आसानी से अपनी टीम को जीत दिला दी। इस तरह से इस सीजन में बेंगलूरू की ये तीसरी जीत थी। इससे पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस अपने पहले जीत की तलाश में थी लेकिन शुरुआत उस हिसाब से नही हुई। रोहित शर्मा ने तूफानी अंदाज़ में पारी को शुरू तो किया, लेकिन एक बार फिर वह बड़ा स्कोर बनाने से चूक गए। रोहित शर्मा 26 रन बनाकर आउट हुए लेकिन उसके बाद मुंबई की हालत खराब होती चली गई। लगातार अंतराल पर विकेट गिरते रहें। मुंबई ने अपने अगले चार विकेट सिर्फ 11 बॉल के अंदर गंवा दिए। जो मुंबई जैसी टीम के लिए बिल्कुल शर्मनाक रिकॉर्ड है। 50 पर पहला विकेट गिरा और 62 के स्कोर पर आधी टीम आउट हो गई थी। लेकिन एक बार फिर सूर्यकुमार यादव टीम के लिए संकटमोचक बनकर उभरे, पहले उन्होंने पारी को संभाला और बाद में ताबड़तोड़ रन बरसाकर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। अभी तक इस सीजन में सूर्यकुमार यादव के बल्ले से ही रन निकला है मुंबई के तरफ से,अब समय आ गया है की मुंबई का हर खिलाड़ी अच्छा खेले क्योंकि मुंबई अगर 1 या 2 मुकाबला और हार जाती है तो वो करो या मरो के स्थिति में पहुंच जाएगी। एक बात और है मुंबई की टीम अपने शुरू के मुकाबले हारती है लेकिन बाद के मुकाबले जीत कर वो कप तक ले आते है। अभी तत्काल में मुंबई और चेन्नई दोनो पिछले साल टेबल टॉपर रही थी लेकिन इस साल दोनो टीम नीचे से 9 और 10 पर है। ये बताता है की क्रिकेट अनिश्चित खेल है यहा कभी भी कुछ भी हो सकता है। अब जो टीम आज से 6 महीने पहले कप जीती थी वो टीम आज अंक तालिका में सबसे नीचे है।

 

मैच से पहले का विराट का गुस्से वाला वीडियो वायरल

 

जैसा की सबको पता है की विराट कोहली कितने एग्रेसिव खिलाड़ी है अगर वो 100 रन भी बना कर आउट होते है तो वो फील्ड पर उतना ही गुस्सा करते है जब वो जीरो पर आउट होकर किए होते है। इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें विराट कोहली एमसीए स्टेडियम में नेट्स प्रैक्टिस के बल्लेबाजी के दौरान गुस्सा करते नजर आए। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि कोहली अभ्यास के दौरान लेग स्पिनर द्वारा फेंकी गई गेंद को कट करने के प्रयास में बोल्ड हो जाते है। खराब शॉट्स खेलने के बाद कोहली बेहद गुस्से में दिखाई दिए और उन्होंने बैट से स्टंप्स को मारने की कोशिश की। लेकिन उन्होंने मारा नही,बल्कि बैट को उठाया और वहा पटक दिया।

इस खिलाड़ी में इतनी आग है रन बनाने की, कि वो साफ साफ नजर आ जाता है। विराट अभी उतने अच्छे फॉर्म में नही है लेकिन फिर भी वो आईपीएल के सबसे सफल बैटर है। कोहली ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले से पहले तक 210 मैचों में 37.30 की एवरेज से 6341 रन बनाए थे। इस दौरान उनके बल्ले से 42 अर्धशतक और 5 शतक निकले। कोहली ने आरसीबी के लिए 140 आईपीएल मुकाबलों में कप्तानी भी की है। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने अब तक एक भी आईपीएल खिताब नहीं जीता है। हालांकि, वह तीन बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही है। साल 2017 और 2019 के सीजन में तो यह टीम अंकतालिका में सबसे निचले स्थान पर रही। पिछले दो सीजन में टीम ने प्लेऑफ का सफर तय तो किया, लेकिन वह ट्रॉफी जीतने में सफल नहीं हुई। जबकि इस टीम में एक से बढ़ कर एक सितारे है लेकिन अंत तक जाते जाते इस टीम का कॉन्फिडेंस गिर जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here