जी हां, जिसका इंतजार था वो समय आ गया। वो चार टीमें तय हो चुकी हैं जो आईपीएल का प्लेऑफ खेलेंगी। वो चार टीमें है गुजरात, लखनऊ, राजस्थान और आरसीबी। मुंबई इंडियंस की टीम ने शनिवार को हुए एक रोमांचक मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स को पांच विकेट से हरा दिया और दिल्ली का इस सीजन प्लेऑफ खेलने का सपना अधूरा रह गयाऔर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के प्लेऑफ में पहुंचने वाली चौथी टीम बन गई है। अब लखनऊ सुपर जायंट्स, गुजरात टाइटन्स, राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच प्लेऑफ मुकाबले खेले जाएंगे। यानी इन्हीं चार टीमों में से आईपीएल 2022 का चैम्पियन मिलेगा। इस सीजन 2 नई टीमों ने हिस्सा लिया था जिसमे गुजरात टाइटन्स और लखनऊ सुपर जायंट्स की टीम है और दोनो ही टीमें प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं। अब आईपीएल 2022 प्लेऑफ का क्वालीफायर 1, 24 मई को गुजरात टाइटन्स बनाम राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबला होगा और इस में से जो टीम जीतेगी वो सीधे फाइनल के जाएगी और जो टीम हारेगी उसे एक और मौका मिलेगा। वही दूसरा एलिमिनेटर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु बनाम लखनऊ सुपर जायंट्स 25 मई को खेला जाएगा और इसमें से जो टीम जीतेगी वो क्वालीफायर 1 की हारी हुई टीम से भिड़ेगी वही एलिमिनेटर राउंड में हारी हुई टीम बाहर हो जाएगी। अगर कल शुक्रवार के मैच की बात करे तो मुंबई की टीम ने रोमांचक मुकाबले में दिल्ली की टीम को हारा कर उसका सफर खत्म कर दिया।

 

दिल्ली कैपिटल्स की पारी

 

दिल्ली की टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरी और ओपनिंग करने उतरे फॉर्म के चल रहे डेविड वार्नर और पृथ्वी शॉ। दोनो से इस मैच में काफी उम्मीदें थी लेकिन वो खरे नहीं उतर पाय। दिल्ली का स्कोर जब 21 रन था तभी डेविड वार्नर आउट हो कर वापस लौट गए। वार्नर ने जाने से पहले 6 गेंदों पर 5 रन बनाय। इसके बाद प्रचंड फॉर्म में चल रहे मार्श भी पहली ही गेंद पर आउट हो गए। बुमराह ने उन्हें रोहित के हाथों कैच करा कर वापस पवेलियन भेज दिया। इस तरह से दिल्ली के 2 विकेट जल्दी जल्दी निकल गए और टीम पूरी तरह से प्रेशर में आ चुकी थी। अब समय था संभल कर खेलने का लेकिन ऐसा नहीं हो पाया,इस मैच में अच्छे टच में दिख रहे ओपनर बल्लेबाज पृथ्वी शॉ भी आउट हो गए। दिल्ली का स्कोर जब 31 रन था तब उनका विकेट दिल्ली ने गवा दिया। पृथ्वी ने 23 गेंदों पर 24 रन बनाय जिसमे 2 चौके और 1 छक्का शामिल था। अब सरफराज और कप्तान पंत पर पूरी जिम्मेदारी आ चुकी थी,दोनो ने कोशिश भी की साझेदारी करने की लेकिन वो साझेदारी लंबी नही चली और सरफराज खान 10 रन बनाकर आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी में मात्र एक छक्का लगाया। सरफराज के जाने के बाद पावेल और ऋषभ के बीच बेहतरीन साझेदारी पनपी। दोनो ने फील्ड के हर तरफ शॉट लगाए। दोनो ने मिलकर 75 रनों की साझेदारी की,जो टीम के लिए काफी मददगार साबित हुई। लेकिन रमनदीप सिंह ने इस जोड़ी को तोड़ी और ऋषभ पंत को चलता किया। पंत आउट होने के पहले छोटी ही सही लेकिन अपनी टीम के लिए एक महत्वपूर्ण पारी खेली। उन्होंने आउट होने से पहले 33 गेंदों पर 39 रन बनाय जिसमे चार बेहतरीन चौके और 1 छक्का शामिल था। पंत के आउट होने के बाद टीम फिर से लड़खड़ा गई और फिर विकेट गिरने का क्रम शुरू हो गया लेकिन पावेल ने एक छोर संभाले रखा और उन्होंने बेहतरीन 34 गेंदों पर 43 रनों की पारी खेली जिसमे मात्र 1 चौका और 4 शानदार छक्के शामिल थे। बुमराह ने पावेल को अपना शिकार बनाया। अक्षर पटेल ने अंत में 10 गेंदों पर 2 छक्के की मदद से 19 रन बनाय। वही अगर मुंबई की गेंदबाजी की बात करे तो शानदार रही। जसप्रीत बुमराह ने सबसे अच्छी गेंदबाजी की और उन्होंने अपने 4 ओवर के कोटे से 25 रन खर्च करके 3 विकेट झटके। वही डेनियल और मारकंडे को 1-1 विकेट मिला। रमनदीप सिंह थोड़े महंगे जरूर साबित हुए लेकिन उन्होंने भी 2 विकेट अपने नाम किया। उन्होंने अपने 2 ओवर में 29 रन खर्च कर दिए। वही रितिक शौकीन को एक भी सफलता नहीं मिली।

 

मुंबई गिर कर संभली

 

160 रनों का पीछा करने उतरी मुंबई की शुरुआत खराब रही, एक तो मुंबई ने धीमी शुरुआत करी और जल्दी ही रोहित शर्मा का विकेट भी गवा दिया। जब टीम का स्कोर 25 रन था तब रोहित को नोर्त्जे ने आउट करके पहली सफलता दिला दी दिल्ली को। रोहित ने आउट होने से पहले 13 गेंदों पर मात्र 2 रन बनाय। रोहित के बाद ब्रेविश बैटिंग करने उतरे उन्होंने आते ही ईशान के साथ मिलकर अपना काम शुरू कर दिया और 50 से अधिक की साझेदारी कर डाली। लेकिन फिर ईशान किशन कुलदीप की गेंद पर चकमा खा गए और वार्नर को अपना कैच थमा बैठे। ईशान ने भी शानदार पारी खेली लेकिन एक बार फिर वो अर्धशतक बनाने से चूक गए। उन्होंने 35 गेंदों पर 48 रनों की पारी खेली जिसमे 3 चौके और 4 छक्के शामिल थे। ईशान के जाने के बाद ब्रेविस का साथ देने तिलक वर्मा उतरे जिन्होंने इस सीजन में मुंबई के लिए खूब रन बनाय है। दोनो के बीच एक अच्छी साझेदारी भी बननी शुरू हुई लेकिन ठाकुर ने ब्रेवीस को आउट करके मुंबई को एक और झटका दे दिया। ब्रेविस ने जाने से पहले 33 गेंदों पर 37 रन बनाय जिसमे 1 चौका और 3 बेहतरीन छक्के शामिल थे। बाकी जब मुंबई की स्थिति थोड़ी खराब लगने लगी थी तब टीम डेविड ने आकर सारा खेल दिल्ली का बिगाड़ दिया,उन्होंने मात्र 11 गेंदों पर 34 रन की पारी खेल डाली जिसमे 2 चौके और 4 छक्के शामिल थे। इस तरह से उन्होंने दिल्ली से जीत छीन लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here