आखिरकार सनराइजर्स हैदराबाद ने गुजरात टाइटंस के विजय रथ पर ब्रेक लगा ही दिया। वो भी 8 विकेटो से हराया। इस आईपीएल में गुजरात टाइटन्स को पहली हार का सामना करना पड़ा है। वो अभी तक एक भी मुकाबला नहीं हरे थे। लेकिन सोमवार को खेले गए मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद ने गुजरात को आठ विकेट से मात दी और आसानी से 163 के लक्ष्य को हासिल कर लिया। गुजरात ने लगातार तीन मैच जीतने के बाद कोई मैच गंवाया है। गुजरात के एक अच्छी टीम है इसमें कोई शक नही लेकिन वो सोमवार को उस तरह से नही खेली जैसे पिछले तीन मुकाबले में उसने खेला था। जिसका आलम ये रहा की 8 विकेटों से उसने अपना मैच गवा दिया। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए गुजरात टाइटन्स ने 162 रन बनाए थे, जिसमें कप्तान हार्दिक पंड्या के 50 रन की बेहतरीन पारी भी शामिल थी। पांड्या की ये पारी तब आई जब टीम को ज़रूरत थी क्योंकि गुजरात के खिलाड़ी एक के बाद एक आउट होते चले जा रहे थे। जवाब में सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने भी बेहतरीन बल्लेबाजी की और 57 रन बनाए। अंत में निकोलस पूरन ने अपनी टीम को छक्का मारकर मैच जिता दिया। जो उसकी दूसरी जीत है इस आईपीएल में।

 

गुजरात टाइटन्स ने बनाए 162 रन

 

गुजरात के लिए पिछले मैच में हीरो रहने वाले शुभमन गिल इस बार पूरी तरह से फेल रहे। शुभमन गिल सिर्फ सात रन बनाकर आउट हो गए जो टीम के लिए बहुत बड़ा झटका था। गुजरात के बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में नहीं बदल पाए और टीम के 64 रन के अंदर ही 3 महत्वपूर्ण विकेट गिर गए थे। अब यहां से गुजरात की टीम फसती चली जा रही थी लेकिन एक बार फिर कप्तान हार्दिक पंड्या ने टीम के लिए कमाल किया और 50 रन बनाए। ये पारी तब आई जब टीम को सबसे ज्यादा जरूरत थी। हार्दिक पंड्या ने इस दौरान आईपीएल में अपने 100 छक्के भी पूरे किए। जो अपने आप में बहुत बड़ा रिकॉर्ड है। दूसरी ओर अभिनव मनोहर ने ताबड़तोड़ 35 रनों की पारी खेल कर गुजरात टाइटन्स को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। वही अगर दूसरी तरफ सनराइजर्स हैदराबाद की बात करें तो टीम की ओर से भुवनेश्वर कुमार ने किफायती बॉलिंग करते हुए दो विकेट लिए और टी. नटराजन ने भी शानदार गेंदबाजी कर दो महत्वपूर्ण विकेट चटकाय। दोनो के अलावा बाकी गेंदबाजों ने भी अच्छी गेंदबाजी कर गुजरात टाइटन्स को कम स्कोर पर रोक दिया।

 

सनराइजर्स हैदराबाद ने गुजरात टाइटन्स को 8 विकेट से हराया

 

गुजरात टाइटंस के दिए हुए 162 रनों का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद की टीम की शुरूआत अच्छी रही। अभिषेक शर्मा जो अच्छे फॉर्म में चल रहे और केन विलियमसन ने पहले विकेट के लिए 64 रन जोड़ दिए। अभिषेक शर्मा ने 32 बॉल में तेजतर्रार 42 रनों की शानदार पारी खेली। लेकिन हैदराबाद के लिए बढ़िया खबर यह रही कि कप्तान केन विलियमसन ज़बरदस्त फॉर्म में लौटे। और उन्होंने एक अच्छी पारी भी खेली अपने टीम के लिए। कप्तान विलियमसन ने 57 रनों की पारी खेली और अपनी इनिंग में 4 गगनचुंबी छक्के उड़ाए। आखिर में जाकर गुजरात के कप्तान हार्दिक पंड्या ने केन विलियमसन को कैच आउट करवाया। लेकिन तबतक काफी देर हो चुकी थी और केन ने लगभग अपना काम पूरा कर दिया था। उसके बाद आए निकोलस पूरन ने तूफानी पारी खेल कर अपनी टीम को जीत दिला दी। निकोलस ने 18 बॉल में 34 रन बनाए और आखिर में छक्का मार अपनी टीम को जीत दिलाई। इस तरह से गुजरात इस सीजन के अपना एकमात्र मुकाबला हारा है।

 

दोनो टीमें कुछ इस प्रकार थी

 

गुजरात टाइटन्स : मैथ्यू वेड, शुभमन गिल, साई सुदर्शन, हार्दिक पंड्या (कप्तान), डेविड मिलर, राहुल तेवतिया, अभिनव मनोहर, राशिद खान, लॉकी फर्ग्युसन, मोहम्मद शमी, दर्शन नालकंदे

सनराइजर्स हैदराबाद : अभिषेक शर्मा, केन विलियमसन (कप्तान), राहुल त्रिपाठी, निकोलस पूरन, एडन मर्करम, शशांक सिंह, वाशिंगटन सुंदर, भुवनेश्वर कुमार, मार्को येनसन, उमरान मलिक, टी. नटराजन

 

इस मैच का विशेष समय

 

सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से गेंदबाजी की शुरुआत तेज गेंदबाज भुवनेश्वर ने किया, जो उनके लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा। दरअसल, भुवनेश्वर के उस ओवर में 17 रन आए, जिसमें 11 रन वाइड से आए। ओवर की पहली गेंद पर मैथ्यू वेड ने शानदार चौका जड़ा और बता दिया की वो बक्सने वाले नही है। इसके बाद अगली गेंद भुवी ने लेग स्टंप से बाहर फेंकी जो, विकेटकीपर को छकाते हुए चौके के लिए चली गई। वो बाल ऐसी थी की विकेटकीपर भी उसे सही से पकड़ नही पाए। अब बारी आई ओवर की पांचवीं गेंद की जो भुवनेश्वर ने लेग स्टंप से बाहर डाली थी, जिसपर कुल 5 रन अतिरिक्त के खाते में गए थे। भुवनेश्वर ने हालांकि मजबूत वापसी करते हुए फॉर्म में चल रहे दूसरे ओवर में शुभमन गिल का बड़ा विकेट अपने नाम किया। लेकिन वो पहले ओवर में काफी महंगे साबित हुए। भुवनेश्वर कुमार ने एक अनचाहा रिकॉर्ड बना डाला 17 रन देकर। आपको बता दे की भुवनेश्वर कुमार को आईपीएल 2022 की नीलामी में सनराइजर्स हैदराबाद ने 4.20 करोड़ रुपये खर्च करके खरीदा था। मेगा नीलामी में भुवनेश्वर कुमार का बेस प्राइस दो करोड़ रुपए था। भुवनेश्वर कुमार 2014-21 के दौरान भी इस फ्रेंचाइजी का ही हिस्सा थे

इस मैच में एक समय ऐसा भी आया जब सबकी सांसे थम गई। हुआ ये की उमरान मलिक की एक बाउंसर आकर सीधे हार्दिक पंड्या के हेलमेट पर लगी और फिर पांड्या थोड़ा लढ़खड़ाते दिखे। जैसे ही हार्दिक को बॉल लगी, तुरंत ड्रेसिंग रूम से फिजियो दौड़े हुए आए। ये देख कर लगा की मामला गंभीर है, लेकिन सब ठीक था। फिजियो का तुरंत मैदान पर आना भी एक रीजन था क्योंकि अब अब नियम बन गया है कि अगर किसी बल्लेबाज के हेल्मेट पर बॉल लगती है तो फिजियो उसका छोटा-सा टेस्ट ज़रूर लेगा। ताकि अगर किसी तरह की दिक्कत हो तो बल्लेबाज को तुरंत बाहर ले जाया जा सके। हार्दिक पंड्या के साथ जब ऐसा हुआ तब उनकी वाइफ नताशा भी स्टैंड्स में ही मौजूद थीं। नताशा एक दम हैरानी से ग्राउंड में देखने लगीं और अपने पति के हाल को जाना। हालांकि, हार्दिक पंड्या कुछ मिनट बाद ही फिट हुए और लगातार बैटिंग की। जो उनके टीम के लिए अच्छी बात रही क्योंकि अगर वो घायल हो जाते तो गुजरात की टीम के लिए दिक्कत हो जाती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here