प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पहली वर्चुअल रैली ‘जन चौपाल’ को संबोधित किया। पहले चरण के मतदान के लिए 21 विधानसभा क्षेत्रों की जनता को वर्चुअल माध्यम से संबोधित किया और भारतीय जनता पार्टी के लिए मतदान करने के लिए अपील किया। जन चौपाल के माध्यम से उत्तर प्रदेश के शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, सहारनपुर और गौतमबुद्ध नगर, की जनता को संबोधित किया। इस वर्चुअल रैली के माध्यम से 21 विधानसभा क्षेत्रों में 98 स्थानों पर एलईडी स्क्रीन के जरिए पीएम के भाषण को लाइव लोगो तक दिखाया गया। भाजपा के प्रदेश मंत्री ने बताया था की इन जिलों के 7,878 बूथों पर शक्ति केंद्र प्रभारी, बूथ अध्यक्ष, पन्ना प्रमुख, लाभार्थी और आम जन भी टीवी पर मोदी जी को सुनेगे। हालंकि निर्वाचन आयोग के प्रोटोकॉल के तहत एक जगह पर लगभग 500 लोग हो बैठ सकते है। और इस तरह से कुल 98 स्थानों पर 49,000 लोग पीएम मोदी को लाइव सुना।

 

क्या कहा पीएम मोदी ने?

 

पीएम ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा की पहली वर्चुअल रैली है। इतने कम समय में टेक्नोलॉजी को माध्यम बनाकर इतने ज्यादा लोगो को एक साथ जोड़ना ये भाजपा कार्यकर्ताओं की दिन रात के मेहनत का नतीजा है। आज इस संबोधन के लिए हजारों कार्यकर्ताओं ने मुझे सुझाव भी भेजे हैं। ये बीजेपी के सक्रिय कार्यकर्ता का जीता जागता उदाहरण है। मोदी ने कहा की पश्चिमी उत्तर प्रदेश की ये वो धरती है जिसने 1857 की क्रांति में देश को एकजुटता का संदेश दिया। उन्होंने कहा अगर हम एकजुट रहेंगे तो हमे कोई परास्त नही कर पायेगा। कहा आज से पांच साल पहले जब मैं पश्चिमी उत्तर प्रदेश आया था तो कहा था की यूपी के विकास के लिए हम कोई कसर नही छोड़ेंगे और इन पांच वर्षो में योगी जी की नेतृत्व में पूरी ईमानदारी और निष्ठा से आपकी सेवा करने का प्रयास किया है।

 

पांच साल पहले दबंग और दंगाई ही कानून थे – मोदी

 

मोदी जी ने कहा की आज से पहले की सरकारों में दबंग और दंगाई ही कानून थे। उन्ही का शासन था और माफिया सरकारी संरक्षण में खुले आम घूमते थे, बेटी सुरक्षित नही थी। पश्चिमी यूपी के लोग ये कभी नही भूल सकते की जब लोग यहां दंगे झेल रहे थे तो पहले वाली सरकार उत्सव मना रही थी। पांच साल पहले गरीब, दलित, वंचित, के दुकानों पर अवैध कब्जा ये समाजवाद का प्रतीक था। लोगो के पलायन की आए दिन खबर आती थी, अपरहण, रंगदारी, फिरौती, मध्यमवर्ग और व्यापारियों को तबाह कर के रख दिया। लेकिन पांच साल में योगी सरकार उत्तर प्रदेश को इन हालातो से बाहर निकाल कर लाई है, ये कोई मामूली काम नही हैं। लेकिन आज यूपी का व्यापारी हो बहन बेटियों की सुरक्षा, और सम्मान मिल रहा है। ये जो माफिया और गुंडे खुद को कानून से ऊपर मानते थे आज भाजपा सरकार ने उन्हें कानून का मतलब समझा दिया।

 

ये सत्ता में बदलाव नहीं बदला लेने के नियत से आना चाहते है।

 

मोदी ने आगे कहा कि पूर्व की सरकारों में सिर्फ गुंडे और मवालियो की जगह है। और ये इस चुनाव में भी अपनी पूरी कोशिश कर रहे है, वापस आने के लिए आपने देखा होगा ये लोग ऐसे लोगो को पार्टी में टिकट दिया है जिसकी छवि ही माफिया, गुंडा, और लोगो पर अत्याचार करना है। इसलिए वो सत्ता में आके आपसे बदला लेना चाहते है। लेकिन उत्तर प्रदेश के लोग ये दंगाई सोच रखने वाले लोगो से बहुत सावधान और सतर्क है। क्योंकि यूपी की जनता वो पुराने दिन नही चाहती है। क्योंकि ये बदला लेने वाले लोगो के इरादों को देख कर यूपी के लोगो ने ठान लिया है की पहले से भी ज्यादा मतों से बीजेपी को विजयी बनायेगे।

 

फर्स्टटाइम वोटरों से भी की अपील।

 

मोदी जी ने कहा की जो फर्स्ट टाइम वोटर है जो पहली बार मतदान करने जा रहे है। उनके अंदर भी काफी उत्साह और ऊर्जा है। और वो खुल कर भारतीय जनता पार्टी के साथ है। आज के युवा भी ये जानते है की यूपी को फिर से गुंडों और दंगाई के हाथ में नहीं सौपना है। और इसलिए वो भाजपा के साथ है।

 

इत्र वाले मित्र गरीबों का पैसा हड़प कर जाते थे – योगी

 

इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने कहा पहले होता था की ये जो इत्र वाले मित्र है ये गरीबों का पैसा हड़प जाते थे। राशन हड़प जाते थे। और समाजवादी पार्टी का सिर्फ एक ही विकास दिखता है, वह केवल कब्रिस्तान की बाउंड्री वॉल पर दिखाई देता है। पहले की सरकार औरंगजेब जैसे दुर्दात के नाम पर परियोजनाओं का नाम रखती थी। और वही जो लोग एक समय पर वैक्सीन का विरोध कर रहे थे लोगो को गुमराह कर रहे थे उन्होंने भी वैक्सीन ली, लेकिन ऐसे लोगो की जमानत जब्त करने का समय आ गया है और जनता जवाब देगी। क्योंकि जो लोग बेटियो के साथ खिलवाड़ कर रहे थे, दंगा करा रहे थे, जमीन पर कब्जा करते थे। ऐसे लोगो को इस बार के चुनाव में सबक सिखाना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here