सोशल मीडिया पर आए दिन शादी से जुड़ी अजीबोगरीब खबरें और विडियोज वायरस होती रहती है । लेकिन गुजरात से आई 24 वर्षीय क्षमा बिंदु के शादी की ख़बरें आपको सोचने पर‌ मजबूर कर देंगी । दरअसल, गुजरात के वडोदरा की रहने वाली 24 वर्षीय क्षमा बिंदु का खुद के शादी पर कहना है कि शायद गुजरात में यह पहली सेल्फ मैरिज जिसे अंग्रेजी में सोलोगैमी करते है ऐसा पहली बार होगा और आखिरकार अब खुद से किया अपना वादा निभाया और शादी के खास कार्यक्रम में वैवाहिक बंधन में बंध गई । शादी के दौरान हल्दी , मेहंदी की रस्में हुई , क्षमा बिन्दु ने फेरे भी लिए । वडोदरा के गोत्री में स्थित अपने घर में क्षमा ने रीति रिवाजों के साथ शादी की । हालांकि, इस शादी में न दूल्हा था और न ही पंडित ।

 

विवादों के चलते क्षमा बिन्दु ने बदली अपनी शादी की तारीक –

अपने फैसले पर युवती ने कहा “शायद मैं आत्म-प्रेम का एक उदाहरण स्थापित करने वाली हूं ” । गुजरात में रहने वाली क्षमा बिन्दु कहती है कि वह दूसरी लड़कियों की तरह दुल्हन बनने का सपना देखती है लेकिन वह किसी से शादी नहीं करना चाहती है । इसलिए क्षमा बिन्दु ने बिन दूल्हे के शादी रचाने के बारे में सोचा है और अब इसे पूरा भी कर‌ लिया है । क्षमा बिन्दु इसे आत्मनिर्भरता और खुद से प्रेम की ओर एक कदम मानती है । गुजरात की क्षमा बिन्दु ने बताया कि , ” मैं कभी शादी नहीं करना चाहती थी । लेकिन मैं दुल्हन बनना चाहती थी । इसलिए मैंने खुद से शादी करने का फैसला किया । ” उसने यह पता लगाने के लिए कुछ ऑनलाइन शोध किया कि क्या देश में किसी महिला ने खुद से शादी की है , लेकिन उसे कोई नहीं मिला । उसने कहा , “शायद मैं अपने देश में आत्म-प्रेम का एक उदाहरण स्थापित करने वाली पहली लड़की हूं । ” बता दें कि भारत में इस तरह की पहली शादी है । क्षमा बिन्दु ने पहले 11 जून को खुद से शादी का ऐलान किया था । इसके बाद से उनके घर पर लगातार लोगों का आना जाना होने लगा था । इसे लेकर उनके पड़ोसियों ने विरोध जताया था । टीओआई के मुताबिक, क्षमा बिन्दु ने बताया कि उन्होंने तय तारीख से पहले शादी इसलिए करने का फैसला किया , क्योंकि उन्हें डर था कि कहीं 11 जून को उनके घर आकर कोई विवाद न खड़ा कर दे । क्षमा बिन्दु ने कहा कि वे अपना स्पेशल दिन बर्बाद नहीं करना चाहती थी । इसलिए उन्होंने बुधवार को ही शादी कर ली ।

 

क्षमा बिन्दु का शादी करवाने से पंडित ने किया इंकार , तो ऐसे की शादी-

गुजरात के वडोदरा में अनोखी शादी करने वाली क्षमा बिंदु काफी समय से चर्चा का विषय बनी हुई है । उन्होंने खुद से ही शादी रचा ली है । मतलब इस शादी में न दूल्हा आया, न बारात आई और न ही डोली उठी । भारत में इस तरह की यह पहली शादी है । खुद से शादी जितनी अनोखी लग रही है , उतना ही इस शादी करने जा रही मुश्किलें भी क्षमा बिंदु के सामने आई । पहले समाज का विरोध, फिर भाजपा नेता का विरोध और फिर इस शादी करवाने वाले पंडित जी ने भी इंकार कर दिया । शादी करवा रहे पंडित जी का कहना था कि वह इस विवाह को नहीं करा सकते है । हालांकि पहले इस पंडित जी ने शादी कराने पर सहमति भी दी थी । हालांकि, अब क्षमा बिंदु का कहना है कि जिन पंडित जी ने इस विवाह को संपन्न कराने की बात कही थी, अब वह इससे हट गए । इतनी सारी अड़चनों के बाद भी क्षमा बिंदु इस तरह की शादी से पीछे हटने का नाम नहीं लिया । वह जिद पर अड़ी थी कि वह खुद से शादी करके ही रहेंगी । अब उन्होंने कहा है , पंडित जी ने भले ही शादी कराने से इंकार कर दिया हो, लेकिन वह टेप पर शादी के मंत्र चलाकर इस विवाह को पूरा करेंगी यानी कि उन्होंने टेप पर मंत्र चलें और क्षमा फेरे ली । शादी पर वह कहती है , पहले एक बार मैं पारंपरिक तरीके से इस शादी को पूरा कर लूं फिर इसकी कानूनी मान्यता भी लूंगी । यानी विवाह का पंजीकरण । वह कहती है , यह पंजीकरण भी सामान्य पंजीकरण की तरह होगा । हालांकि, भारत में एकल विवाह सोलोगामी को लेकर कोई कानून नहीं है । ऐसे में क्षमा का कहना है कि सच यह भी है कि खुद से शादी करना अवैध भी नहीं है ।

 

क्षमा बिंदु ने कहा कि वह कभी भी शादी नहीं करना चाहती थी , मगर दुल्हन बनने का सपना था , इसलिए उसने खुद से शादी का फैसला किया है । जब निर्णय किया तो सवाल आया कि क्या देश में ऐसी शादी पहले कभी हुई है ? इस पर बिंदु ने ऑनलाइन सर्च किया । खूब तलाश करने पर भी बिंदु को ऐसा कोई केस नहीं मिला । क्षमा ने कहा कि वह सोलो या एकल विवाह करने वाली देश की संभवत: पहली लड़की होगी । उनका कहना है कि यह शादी देश में मिसाल बनेगी । क्षमा बिन्दु ने बताया कि शादी के लिए उसने महंगा लहंगा खरीदा और पार्लर से लेकर ज्वेलरी तक सब का इंतजाम कर लिया । क्षमा बिन्दु ने इस तरह की शादी के अपने मकसद का भी विस्तार से खुलासा किया । उन्होंने कहा कि खुद से खुद की शादी करना स्वयं से बिना शर्त प्यार होने का संदेश है । यह आत्म-स्वीकृति है । आमतौर पर लोग जिससे प्यार करते है , उससे शादी करते है , लेकिन वह खुद से प्यार करती है, इसलिए खुद से शादी करने जा रही है । इसे समाज के कुछ लोग अप्रासंगिक मान सकते है , लेकिन मैं यह संदेश देना चाहती हूं कि महिला होना मायने रखता है ।गुजरात के वडोदरा की रहने वाली 24 वर्षीय क्षमा बिंदु का खुद के शादी पर कहना है कि शायद गुजरात में यह पहली सेल्फ मैरिज जिसे अंग्रेजी में सोलोगैमी करते है ऐसा पहली बार होगा और आखिरकार अब खुद से किया अपना वादा निभाया और शादी के खास कार्यक्रम में वैवाहिक बंधन में बंध गई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here