बॉलीवुड के इस मशहूर अभिनेता और दीपिका पादुकोण के पति रणवीर सिंह के न्यूड फोटोशूट का विवाद दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है । अभिनेता रणवीर सिंह के खिलाफ मुंबई में एफआईआर दर्ज कर लिया गया है । अभिनेता पर महिलाओं के गरिमा पर ठेस पहुंचाना और उनके भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया गया है । उनके खिलाफ आईपीसी की 3 और आईटी एक्ट की एक धारा के तहत केस दर्ज किया गया है । दरअसल मशहूर अभिनेता रणवीर सिंह है, जो अपने बोल्ड फोटोशूट को लेकर लगातार सुर्खियों में है । अभिनेता रणवीर सिंह ने जबसे अपना यह फोटोशूट कराया है , जिस पर लोगों और फिल्मी सितारों की अलग-अलग प्रतिक्रिया सामने आ रही है । इसी बीच अब खबर सामने आ रही है कि न्यूड फोटोशूट के लिए अभिनेता रणवीर सिंह के खिलाफ शिकायत की गई है । अभिनेता की न्यूड तस्वीरें सामने आने के बाद से ही उन्हें ट्रोल किया जा रहा था । इतना ही नहीं उन पर कई तरह के मीम्स भी सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे थे । लेकिन अब इस मामले में सोमवार को मुंबई पुलिस के पास एक आवेदन दायर कर प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की गई है ।

 

अभिनेता रणवीर सिंह के खिलाफ हुआ शिकायत दर्ज

मीडिया रिपोर्ट के जानकारी के मुताबिक अभिनेता रणवीर सिंह के खिलाफ हुई शिकायत में रणवीर सिंह पर ” महिलाओं की भावनाओं को आहत करने ” का आरोप लगाया गया है । एक गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) के एक पदाधिकारी ने चेंबूर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है । शिकायतकर्ता ने अभिनेता के खिलाफ सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है ।

 

रणवीर सिंह के न्यूड फोटो शूट पर शर्लिन चोपड़ा के तीखे तेवर

दरअसल अपने न्यूड फोटो शूट के बाद अभिनेता रणवीर सिंह लगातार विवादों से घिरे हुए हैं एक तरफ जहां उन्हें सेलेब्स और फैंस का सपोर्ट मिल रहा है, तो दूसरी ओर उन्हें काफी ट्रोल भी किया जा रहा है, रणवीर के खिलाफ एफआईआर तक दर्ज हो चुकी है, इस बीच एक बार फिर एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा ने इन तस्वीरों पर रिएक्ट किया है, इससे पहले भी शर्लिन चोपड़ा ने ट्वीट करते हुए रणवीर के साथ ही दीपिका पादुकोण पर निशाना साधा था । दरअसल शर्लिन चोपड़ा ने इंटरनेशनल मैग्जीन के लिये बोल्ड फोटोशूट कराया था , जिस पर सोसाइटी ने उन्हें काफी भला-बुरा कहा था । बता दें कि कैरेक्टरलेस के साथ ही काफी कुछ बुरा कहा था, लेकिन अब ये डबल स्टैंडर्ड क्यों, ये दोगलापन क्यों, जब मैंने शूट किया था, तो मेरे बदन पर कीड़े थे, आपको बता दें कि शर्लिन भी एक मैग्जीन के लिये बिना कपड़ों के फोटोशूट करवा चुकी है ।

 

शर्लिन चोपड़ा ने दीपिका पादुकोण पर साधा निशाना

शर्लिन चोपड़ा ने रणबीर सिंह के न्यूड फोटो शूट हमला करते हुए आगे कहा कि मत बोलिये कि ये तो चलता है, इट्स ओके, हम क्यों इसे एक इश्यू बना रहे है , ये तो नॉन इश्यू है, जिस तरह से दीपिका पादुकोण ने मुझे देखा मैं देखना चाहती हूं कैमरे में वो लुक कैसा था, ऐसे ऊपर से नीचे तक, कि इतना छोटा सा टॉप, गनीमत है कि कुछ तो था शरीर पर, आपके पति देव के शरीर पर क्या है मैडम, मालूम हो कि शर्लिन ने इंटरनेशनल मैग्जीन प्लेब्वॉय के लिये बिना कपड़ों के फोटोशूट्स करवाये थे, जो खूब वायरल हुए थे ।

 

रणवीर सिंह के न्यूड फोटोशूट पर रियक्टर करते हुए शर्लिन ने किया था ट्वीट

इससे पहले शर्लिन ने रणवीर सिंह के फोटोशूट पर एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होने लिखा था, हमने एक इंटरनेशनल मैग्जीन के लिये बोल्ड शूट किया, तो लोगों ने और मीडिया ने हमें चरित्रहीन, जलील और बेआबरू जब ये जनाब बोल्ड शूट करते है, तो मीडिया इनकी इस कलाकारी की सराहना करने में मसरुफ है, अरे भाई हमारे जिस्म पर कीड़े पड़े थे क्या, ये दोबरा रवैया क्यों ।

 

आइए जानते है इन चारों धाराओं के तहत अभिनेता को क्या सजा हो सकती है 

 

आईपीसी की धारा 292

इस धारा के प्रावधान में अश्लीलता को परिभाषित किया गया है । इसके तहत अगर किसी किताब, पेपर, पैम्फलेट, मैग्जीन, लेख, ड्रॉइंग या किसी भी ऐसी चीज को अश्लील माना जाएगा, जो कामुक है या कामुक बनाती है या फिर जिसे देखकर, सुनकर या पढ़कर लोगों भ्रष्ट हो सकते है । इसमें पहली बार दोषी पाए जाने 2 साल कैद और 2 हजार रुपये के जुर्माने की सजा हो सकती है । दूसरी बार दोषी पाए जाने पर 5 साल कैद और 5 हजार रुपये तक के जुर्माने की सजा है । ये जमानती अपराध है ।

 

आइपीसी की धारा 293

इस धारा के प्रावधान में अगर कोई व्यक्ति 20 साल से कम उम्र के किसी व्यक्ति को ऐसी अश्लील सामग्री बेचता है या दिखाता है या प्रदर्शित करता है या बांटता है या इसकी कोशिश भी करता है, तो इस धारा के तहत केस दर्ज होता है । इसमें पहली बार दोषी पाए जाने पर 3 साल कैद और 2 हजार रुपये की जुर्माने की सजा होती है । दूसरी बार दोषी पाए जाने पर 7 साल तक की कैद और 5 हजार रुपये तक की जुर्माने की सजा हो सकती है । ये भी जमानती अपराध है ।

 

आईपीसी की धारा 509

इस धारा के प्रावधान में अगर कोई व्यक्ति किसी स्त्री की लज्जा का अनादर करने के मकसद से कोई शब्द कहता है या आवाज निकालता है या शरीर को छूता है या किसी ऐसी वस्तु को दिखाता है जिससे स्त्री की गरिमा का अपमान हो, तो इस धारा के तहत केस दर्ज होता है । इस धारा के तहत दोषी पाए जाने पर तीन साल तक की कैद हो सकती है । साथ ही जुर्माना भी लगाया जा सकता है । ये भी एक जमानती अपराध होता है‌ ।

 

आईटी एक्ट की धारा 67(A)

इस धारा के प्रावधान में अगर कोई व्यक्ति इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से किसी ऐसी सामग्री का प्रकाशन करता है, जो कामुक हो, तो ये धारा लगाई जाती है । इस धारा में यौन कृत्य वाली सामग्री का प्रकाशन या प्रसारण करने के लिए सजा का प्रावधान है‌ । ये एक गैर-जमानती अपराध है‌ । इसके तहत पहली बार दोषी पाए जाने पर 5 साल की कैद और 10 लाख रुपये तक का जुर्माना लग सकता है । जबकि, दूसरी बार दोषी पाए जाने पर 7 साल की कैद और 10 लाख रुपये तक के जुर्माने की सजा हो सकती है ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here