बुलडोजर का क्रेज दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। उत्तर प्रदेश में बाबा के बुल्डोजर अपराधियों के सीने पर जमकर गरजता है। अब चाहे मध्य प्रदेश हो या गुजरात बुलडोजर हर गुंडे और अपराधी के अवैध संपति को रौद रहा है। इसी तरह गुजरात राज्य प्रशासन ने सिराज उर्फ ‘सिरो डॉन’ उर्फ ‘डॉन हुसैन खलयानी बोटादवाला’ अवैध संपत्ति को ध्वस्त कर दिया है। बुलडोजर से अवैध संपत्ति को ध्वस्त करने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। सिराज को पुलिस ने 8 मई को गिरफ्तार किया था। सिराज ने 5 मई को ‘विश्व हिन्दू परिषद (VHP)’ के नेता एवं कारोबारी महेन्द्रभाई लालजीभाई माली उर्फ मुन्नाभाई माली को धमकी दी थी। मुन्नाभाई को जान से मारने की धमकी देते हुए सिराज डॉन ने कहा था, “तुम्हें भी किशन भारवाड़ जैसा परिणाम भुगतना होगा।” इस संबंध में मुन्नाभाई माली ने 7 मई 2022 को बोटाद पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी। आरोपित सिरो डॉन का एक लंबा आपराधिक इतिहास है और उसके खिलाफ अतीत में कई अपराधों के खिलाफ शिकायतें दर्ज की गई हैं। आरोपित ने मुन्नाभाई माली को धमकी देते हुए कहा था, “गाँव में तुमने हनुमान जी के मंदिर पर एक लाउडस्पीकर लगा रखा है। उस लाउडस्पीकर को जल्द से जल्द उतरवा लो, वरना तुम्हारा वही हाल होगा जो किशन भरवाड़ का हुआ था। आखिर तुम हमारा क्या कर लोगे? अगर मैं तुम्हें कार में खींच लूँ और तुम्हारा अपहरण कर लूँ, तुम कुछ नहीं कर पाओगे।” गुंडे सिराज ने कारोबारी को धमकी देते हुए आगे कहा, “हमलोग तुम सब पर नजर रख रहे हैं। अपनी हद में रहो, वरना मैं तुम्हारी हत्या कर दूँगा।” इसके बाद उसने सड़क पर ही चिल्लाते हुए कारोबारी मुन्नाभाई माली को फिर से मार डालने की धमकी दी। बता दें कि सिराज डॉन के खिलाफ अवैध जुआ और हत्या के प्रयास सहित 34 मामले दर्ज हैं। यहाँ याद दिला दें कि किशन भरवाड़ की हत्या 25 जनवरी, 2022 को कर दी गई थी। 2 बाइक सवारों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया। हत्या की वजह सोशल मीडिया पर मोहम्मद पैगम्बर को ले कर डाली गई एक पोस्ट थी जिसे हत्यारोपितों ने ईशनिंदा माना था। ये मामला संसद में भी गूँजा था। ATS ने पाया था कि मौलाना शब्बीर ने किशन की हत्या करने वाले आरोपितों को 11 लोगों की हत्या करने का ठेका दिया था। मौलाना अय्यूब को अहमदाबाद के जमालपुर से आरोपितों को हथियार उपलब्ध करवाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

 

आज दिल्ली के मंगोलपुरी में चला बुलडोजर।

 

अवैध निर्माण और अतिक्रमण पर कार्रवाई के लिए जहांगीरपुरी से शुरू हुआ बुलडोजर आज मंगोलपुरी और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी तक जा पहुंचा। इस कार्रवाई के लिए नगर निगमों ने पहले से ही पूरी तैयारी कर ली थी। दोनों ही जगहों पर स्थानीय लोगों के संभावित विरोध को काबू भारी संख्या में पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स को तैनात किया गया है। जानकारी के अनुसार, शाहीन बाग के बाद मंगलवार को उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा दिल्ली के मंगोलपुरी में अतिक्रमण विरोधी विध्वंस अभियान चलाया जा रहा है। भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच यह अभियान चलाया जा रहा है। कार्रवाई की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक मुकेश अहलावत ने इसे रोकने की कोशिश की, जिन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। विधायक मुकेश अहलावत ने कहा कि जब लोगों ने क्षेत्र खाली कर दिया है, तो नॉर्थ एमसीडी उन्हें घेरकर बुलडोजर का इस्तेमाल कर असुविधा क्यों पैदा कर रहे हैं। हम इसके खिलाफ हैं और इसे रोका जाना चाहिए। उन्हें पहले यह साबित करना होगा कि वहां अतिक्रमण है। इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। मंगोलपुरी में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान पर लाइसेंस इंस्पेक्टर दीपक कुमार ने बताया कि लगभग 50 छोटी दुकानें थी, उन्हें हटा दिया गया है। जिन्होंने रोड पर कब्ज़ा कर रखा था। कोर्ट में मामला चल रहा है, कोर्ट के आदेश पर ही ये कार्रवाई चल रही है। डीसीपी समीर शर्मा ने बताया कि अभी यहां पर अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है और स्थानीय विधायक MLA मुकेश अहलावत भी आए थे, जिन्हें समझाया गया है और हमने उन्हें कुछ समय के लिए हिरासत में लिया गया है ताकि कार्रवाई में किसी तरह की कोई बाधा नहीं हो। वहीं, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) ने न्यू फ्रेडंस कॉलोनी में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है। एसडीएमसी दक्षिण दिल्ली के कई हिस्सों में 4 मई से 13 मई तक अतिक्रमण अभियान का पहला चरण चला रही है। इसे देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम पुख्ता किए गए हैं। एसडीएमसी सेंट्रल जोन अध्यक्ष राजपाल सिंह ने आज न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में चल रहे डेमोलिशन ड्राइव पर बोलते हुए कहा कि गुरुद्वारा से अशोक पार्क के बीच सड़क पर कुछ बैरिकेड्स लगा दिए गए हैं। आज यह सड़क साफ हो जाएगी। राजपाल सिंह ने आज कहा कि लोग कह रहे हैं कि हम धर्म विशेष के लोगों के साथ भेदभाव करने के लिए अतिक्रमण हटाने का अभियान चला रहे हैं। ऐसा नहीं है। हम यह काम उनकी भलाई के लिए कर रहे हैं। जनता के जो अधिकार हैं वो उन्हें मिलने चाहिए ताकि, सार्वजनिक सड़कें हों साफ और स्कूल बसें, एंबुलेंस, दमकल की गाड़ियां पार करने में सक्षम हों।

 

आप विधयाक को हिरासत में लिया गया 

 

दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में अतिक्रमण हटाने के लिए सोमवार को बुलडोजरों के पहुंचने पर विवाद शुरू हो गया था। बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए थे और इसके चलते बुलडोजरों को हटाना पड़ा था। अब मंगलवार को एक बार फिर से दिल्ली के मंगोलपुरी और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में अतिक्रमण को हटाने के लिए बुलडोजर पहुंचे हैं। इस दौरान भी बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है। यही नहीं अतिक्रमण की कार्रवाई का विरोध करने पहुंचे आम आदमी पार्टी के विधायक मुकेश अहलावत को पुलिस ने हिरासत में लिया है। मुकेश अहलावत ने कहा, ‘जब लोगों ने खुद ही इलाके को खाली कर लिया था तो फिर उत्तरी एमसीडी की ओर से बुलडोजरों का इस्तेमाल क्यों किया जा रहा है? हम इस कार्रवाई के खिलाफ हैं और इसे रोका जाना चाहिए। उन्हें पहले यह साबित करना चाहिए कि यह अतिक्रमण है।’ दिल्ली के डीसीपी समीर शर्मा ने कहा कि अतिक्रमण की कार्रवाई न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में शांतिपूर्ण तरीके से चल रही है और हालात पूरी तरह से कंट्रोल में हैं। लोग भी इस कार्रवाई में हमारा सहयोग कर रहे हैं। विधायक अहलावत को हिरासत में लिए जाने को लेकर उन्होंने कहा, ‘अतिक्रमण को तेजी के साथ हटाने का काम चल रहा है। आप के विधायक मुकेश अहलावत यहां पहुंचे और कहा कि आखिर जेसीबी का इस्तेमाल करने की क्या जरूरत है। व्यवस्था को बनाए रखने के लिए हमने उन्हें हिरासत में लिया है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here