भारत और साउथ अफ्रीका के बीच कटक में खेला गया दूसरा टी 20 मैच साउथ अफ्रीका ने जीत लिया। और इसी के साथ वो सीरीज में 2-0 से भारत पर बढ़त बना लिए है। आईपीएल के शेर साउथ अफ्रीका के खिलाफ पूरी तरह से बेवस नजर आए। पहले मैच में तो बल्लेबाजी चल गई थी लेकिन इस मैच में बल्लेबाजी भी नही चली। टीम इंडिया के लिए ये शर्मनाक हार है क्योंकि वो अपने घर में ही हार रहे है। सीरीज हारने से भारत बस एक कदम दूर है। आज जो भारत के तरफ से मैच खेल रहे वही खिलाड़ी आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन आज जब देश के लिए खेल रहे है तो पूरी तरह से कही न कही फ्लॉप साबित हो रहे है। टीम से लेकर टीम का कप्तान तक युवा है लेकिन वो नहीं देखने को मिल पा रहा जो आईपीएल के मैचों में देखने को मिल रहा था। अब वक्त आ गया है जब टीम मैनेजमेंट कुछ खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता दिखाएं और दूसरे को मौका दे। अगर यही टीम खेली तो फिर सीरीज हारना तय है भारत का।

 

इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका

 

दूसरे मैच में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत की बैटिंग के साथ साथ गेंदबाजी भी पूरी तरह से फ्लॉप साबित हुई यहां तक की आईपीएल में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले चहल का हाल भी बुरा रहा और महंगे साबित हुए लेकिन चहल को टीम से बाहर रखना इतना आसान नहीं है क्योंकि एक मैच खराब होने से किसी के फॉर्म का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। वही अक्षर पटेल की स्थिति बहुत बुरी रही और उनको खूब मार पड़ी, हो सकता है अक्षर को बाहर बैठा के टीम मैनेजमेंट रवि बिश्नोई को मौका दे। बिश्नोई ने आईपीएल में भी अच्छा प्रदर्शन किया था। बिश्नोई के अलावा अय्यर भी टीम में आ सकते है। जब टी 20 सीरीज शुरू होने वाला था तब ऐसा लग रहा था भारत आसानी से अपने सीनियर खिलाड़ियों के बिना भी साउथ अफ्रीका को पटकनी दे सकता है लेकिन जब पहले मैच का रिजल्ट आया तो ठीक उल्टा आया। भारत पहले ही मैच में साउथ अफ्रीका से हार गया। भारतीय टीम मैच से पहले मजबूत इस लिए लग रही थी क्योंकि सारे खिलाड़ी आईपीएल में अच्छा खेल कर आय थे और उन्हे इसी लिए टीम इंडिया में एंट्री भी मिली थी। ऐसा नहीं है की भारत ने अच्छा नही खेला बल्कि टीम ने बैटिंग में भी खराब प्रदर्शन किया। ईशान किशन और ऋतुराज ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलवाने में पूरी तरह से असफल रहे लेकिन श्रेयस अय्यर ने मिडिल ऑर्डर में आकर छोटी ही सही लेकिन बेहतरीन पारी खेली, वही अंत में कप्तान पंत और हार्दिक पांड्या की जोड़ी भी कुछ नही कर पाई, ये टीम की बैटिंग पहले टी20 में जितनी अच्छी रही थी उतनी ही खराब रही दूसरे टी 20 में। एक भी बल्लेबाज 50 से अधिक रन नही बना पाया। उधर गेंदबाजों में आवेश खान जो आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करके टीम में आय थे वो पूरी तरह से फ्लॉप साबित हुए वही युजवेंद्र चहल जिन्होंने आईपीएल के सबसे ज्यादा विकेट चटकाए थे वो भी पहले और दूसरे मैच में कही न कही फेल नजर आए। आईपीएल में अपने गेंद से मैच जिताने वाले पांड्या भी बहुत महंगे साबित हुए नतीजा ये रहा की टीम इंडिया ये मैच 4 विकेट से हार गई। अब उम्मीद लगाई जा रही की जिन खिलाड़ियों ने पहले और दूसरे मैच में अच्छा प्रदर्शन नही किए है उनको बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है। तीसरे टी20 में ये संभव है की आवेश को बाहर निकालकर उमरान मलिक या फिर अशरदीप को लाया जाए। दोनो गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है आईपीएल में।

 

इन खिलाड़ियों पर फिर होगी नजर

 

ईशान किशन:- किशन का प्रदर्शन मुंबई के लिए मिला जुला रहा था कही न कही उनपर सबसे महंगा बिका जाना हावी था। किशन विकेट कीपर भी है ऋषभ पंत के बाद लेकिन मौका किसको मिलेगा ये देखने वाली बात होगी क्योंकि ऋषभ का भी कुछ खास प्रदर्शन नही रहा था। ईशान से लोगो की उम्मीदें बंधी हुई है की वो अच्छा करे साउथ अफ्रीका के खिलाफ। किशन ने जिस तरह से पहले मैच में रन बरसाए है उस से और उम्मीदे बढ़ गई है। लेकिन दूसरे मैच में किशन फ्लॉप साबित हुए थे तो ईशान को ध्यान में रख कर बैटिंग करना होगा की वो टीम को एक अच्छी शुरुआत दे।

 

दिनेश कार्तिक:- लंबे अर्से बाद टीम इंडिया में वापसी कर रहे दिनेश कार्तिक से लोगो को काफी उम्मीदें है। क्योंकि कार्तिक का प्रदर्शन अपने टीम आरसीबी के लिए बेहतरीन था। उन्होंने अपनी टीम के लिए फिनिशिंग का काम किया था और अभी टीम इंडिया में भी धोनी के जाने के बाद से अच्छा फिनिशर नही मिल पाया है। लोगो को उम्मीदें है की दिनेश कार्तिक वो काम करके दिखाएंगे। पहले मैच में उन्हे ज्यादा मौका नहीं मिल पाया था। लेकिन दूसरे टी 20 में उन्होंने अच्छी बैटिंग की और उम्मीद भी यही है की आगे के मैचों में भी वो अच्छा करेंगे।

 

हार्दिक पांड्या:- काफी समय बाद पांड्या की टीम में वापसी हो रही है। क्योंकि आईपीएल से पहले उनका ऑपरेशन भी हुआ था और वो उसके पहले फॉर्म में नही थे इस लिए उन्हें टीम से ड्रॉप भी किया गया था। लेकिन पांड्या ने क्या शानदार वापसी की है अपने टीम को आईपीएल जीता कर। पांड्या ने आईपीएल में अपने गेंद और बल्ले दोनो से कमाल किया और उसी का गिफ्ट उन्हे मिला टीम इंडिया में वापसी के मौके के रूप में। वही केएल राहुल के चोटिल होने के बाद हार्दिक के उपर उपकप्तानी की जिम्मेदारी भी सौंपी गई है। हार्दिक का प्रदर्शन पहले मैच में बैट से अच्छा रहा था लेकिन बॉलिंग में फ्लॉप साबित हुए थे और दूसरे मैच में तो न बॉलिंग चली न बैटिंग।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here