राजस्थान में लंपी पाक्स

राजस्थान की राजधानी जयपुर में भाजपा कार्यकर्ता आज सड़कों पर दिखाई दे रहे है । लंपी वायरस से हुई हजारों गायों की मौत को लेकर भाजपा जोरदार प्रदर्शन कर रही है । भाजपा कार्यकर्ताओं को काबू में करने की पुलिस कोशिश कर रही है ।

राजस्थान की राजधानी जयपुर में भाजपा कार्यकर्ता आज सड़कों पर दिखाई दे रहे है । लंपी वायरस से हुई हजारों गायों की मौत में लंपी वायरस जमकर कहर बरपा रहा है । लंपी वायरस के कारण राज्य में हजारों गायों की जान जा चुकी है । वहीं, इस मुद्दे को लेकर विपक्षी पार्टी भाजपा राज्य की गहलोत सरकार पर हमलावर है । राजधानी जयपुर में भाजपा कार्यकर्ता गहलोत सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन कर रहे है ।

 

देश के कई राज्यों से लंपी वायरस की वजह से बड़ी संख्या में गो-वंश की मौत

देश के कई राज्यों से लंपी वायरस की वजह से बड़ी संख्या में गो-वंश के मौत की खबर आ रही है । राजस्थान के 11 जिलों में फैलने की खबर आ रही है । साढ़े तीन हजार गो-वंश की मौत हो चुकी है । पंजाब से भी इस बीमारी के फैलने की खबर आ रही है । यह वायरस कहां से आया और रोकथाम के लिए क्या उपाय है, इस बारे में दैनिक जागरण ने हिसार स्थित लाला लाजपत राय वेटनरी यूनिवर्सिटी आफ एनिमल साइंस (लुवास) के पूर्व डायरेक्टर डीन डा. संदीप गेरा से चर्चा की ।

जयपुर में भाजपा के सैकड़ों कार्यकर्ता आज सड़कों पर उतरे है । पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए बैरिकेडिंग की हुई है । प्रदर्शनकारी गहलोत सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे है । पुलिस उन्हें रोकने के लिए कड़ी मशक्कत कर रही है ।

भाजपा के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने बैरिकेडिंग की हुई है । हालांकि, भाजपा कार्यकर्ता बैरिकेड पर चढ़ गए । राजस्थान भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया भी एक बैरिकेड के ऊपर चढ़ गए । पुलिस ने कार्यकर्ताओं को तितर-बितर करने के लिए वाटर कैनन का इस्तेमाल भी किया ।

क्या है लंपी पाक्स ?

लंपी पाक्स वायरस जनित त्वचा रोग है, जो गो-वंश में ही फैलता है । इसमें चिकन पाक्स की तरह गो-वंश के शरीर पर दाने उभर आते हैै । उसमें मवाद भर जाता है और फिर मौत हो जाती है ।

राजस्थान में लंपी पाक्स

 

 कैसे फैलता है लंपी पाक्स ?

यह मच्छर या खून पीने वाले कीड़ों से फैलता है । आम तौर पर गाय या भैैंस के तबेलों में पड़े रहने वाला खाद और दूषित पानी में पनपने वाले मच्छरों से ही यह वायरस फैलने का खतरा रहता है ।

रोकथाम के क्या उपाय है ?

तीन तरह की वैक्सीन उपलब्ध है । गोट पाक्स, शीप पाक्स और लंपी पाक्स। गोट पाक्स (बकरियों में होने वाला पाक्स) और शीप पाक्स (भेड़ों में होने वाला पाक्स ) की वैक्सीन भारत में उपलब्ध है, जबकि लंपी पाक्स की वैक्सीन भारत में अभी नहीं बनी है । कीनिया ने इसकी वैक्सीन तैयार कर ली है । भारत को यह आयात करना पड़ेगा ।

सबसे पहले कहां पाया गया लंपी वायरस ?

यह वायरस लगभग 30-35 साल पहले अफ्रीका में पाया गया था । बीते 10-15 सालों में इसने दक्षिण अफ्रीका के घाना सहित अन्य इलाकों में महामारी का रूप ले लिया था । तीन साल पहले यह वायरस पहली बार भारत में पाया गया । अब इसने महामारी का रूप ले लिया है । अब यह बरसात के मौसम से पहले हर साल ही फैलेगा ।

यह वैक्सीन कैसे काम करती है

गो-वंश में प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाली बी और टी सेल होती है । इस वैक्सीन के जरिये पशुओं की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा दी जाती है तो वायरस का असर कम हो जाता है, ठीक कोरोना वैक्सीन की तरह ।

राजस्थान लंपी वायरस

राजस्थान 60 हजार से ज्यादा गायों की मौत

गौरतलब है कि राजस्थान में लंपी वायरस की वजह से बीते तीन महीने में 60 हजार से ज्यादा गायों की मौत हो चुकी है । वहीं, 8 लाख गोवंश लंपी से संक्रमित हो चुके है । बताया जा रहा है कि प्रदेश के 22 जिलों में लंपी चर्म रोग फैल चुका है । लंपी वायरस से हुई बड़ी संख्या में मौत की वजह से प्रदेश में दूध का उत्पादन भी घट गया है । दूध की कमी से कई जिलों में इसके दाम बढ़ गए है ।

देश के कई राज्यों से लंपी वायरस की वजह से बड़ी संख्या में गो-वंश के मौत की खबर आ रही है । राजस्थान के 11 जिलों में फैलने की खबर आ रही है । साढ़े तीन हजार गो-वंश की मौत हो चुकी है । पंजाब से भी इस बीमारी के फैलने की खबर आ रही है । यह वायरस कहां से आया और रोकथाम के लिए क्या उपाय है, इस बारे में दैनिक जागरण ने हिसार स्थित लाला लाजपत राय वेटनरी यूनिवर्सिटी आफ एनिमल साइंस (लुवास) के पूर्व डायरेक्टर डीन डा. संदीप गेरा से चर्चा की ।

राज्य सरकार दावा कर रही थी कि लंपी स्किन डिजीज की रोकथाम के लिए राजस्थान कोऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन एवं पशुपालन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में गोवंशीय पशुओं में टीकाकरण युद्ध गति से किया जा रहा है । इसके लिए सरकार ने आंकड़े भी जारी किए है । बताया गया है कि अब तक 27 जिलों में 6 लाख 87 हजार 375 पशुओं में टीकाकरण किया गया है ।

बता दें कि इस मामलों को लेकर सियासत गरमाई हुई है । आरोप-प्रत्यारोपों के दौर के बीच आज प्रदेश बीजेपी जोधपुर संभाग को छोड़कर प्रदेश भर में जिला कलक्टर्स के जरिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपेगी । गोवंश के साथ ही पशुओं में तेजी से फैल रहे लंपी संक्रमण की रोकथाम, वैक्सीनेशन और उचित उपचार की मांग उठाई जाएगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here