सर्दियों के मौसम में जैसे जैसे-जैसे मौसम बदलता है वैसे-वैसे बीमारियां भी अपना पैर पसारने लगती है। राज के समय में कोरोना वायरस खतरा बढ़ता ही जा रहा है ऐसे में खुद के इम्यूनिटी को मजबूत रखना बहुत ही जरूरी है। इन उपायों से आप खुद के इम्यूनिटी को भी मजबूत रख सकते है और मौसमी सर्दी जुखाम से भी खुद को सुरक्षित रख सकते है।

ठंडी के मौसम में बिमारियों का डर सबको सताने लगता है और आज के समय में जब कोरोनावायरस अपना पैर दूनिया में पसारता जा रहा है उस समय अपनी इम्यूनिटी और सेहत को मजबूत रखना बहुत ही आवश्यक हो गया है। सर्दियों के मौसम में बीमार होने का खतरा को कई गुना तेज़ी से बढ़ जाता है‌ और फ्लू,सर्दी, जुकाम, खांसी और तेज बुखार जैसी कई बीमारियों होना आम बात माना जाता है। इस समय में इम्यूनिटी का मजबूत होना अति आवश्यक है। इस मौसम में बीमारियों से बचने के लिए गर्म कपड़े पहनने की सलाह दी जाती है और साथ ही अपने भोजन में उन चीजों को शामिल करने के लिए कहा जाता है, जो शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते है। आपको बता देगी रोग प्रतिरोधक क्षमता हमारी म्युनिटी को कहा जाता है जो किसी भी बीमारी से बचाने के लिए जानी जाती है। इम्यूनिटी को स्ट्रांग रखने के साथ हमें इन चीजों का ध्यान रखना चाहिए जिससे हम खुद को बीमारियों से सुरक्षित रह सकें।

 

इन घरेलू उपायों से आपके इम्यूनिटी सर्दियों में मजबूत रहेगी और आपको बीमारी का खतरा भी नहीं रहेगा-

 

1) एमिटी को स्ट्रांग करने के लिए और बीमारियों से लड़ने के लिए तुलसी की चाय के है कारगर-

सर्दियों में चाय का सेवन लगभग सभी लोग करते है। चाय तो लगभग सबको ही पसंद होता है लेकिन चाय में तुलसी के पत्ते डालकर उसका सेवन करना इम्यूनिटी और कई बीमारियों जैसे कोरोनावायरस तब के बचाव के लिए शक्तिशाली आयुर्वेदिक औषधि मानी गई है। हमारे आयुर्वेद में तुलसी को बड़ी ही लाभकारी मानी गयी है। अगर हम चाय में मात्र तुलसियों के कुछ पत्ते डालकर उसका सेवन करें तो यह हमारे शरीर को ढेरों मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट प्रदान करता है। जिससे शरीर में होने वाले फ्री रेडिकल्स के नुकसान को दूर करता है। यह हमारे शरीर की सूजन को कम करने के साथ खांसी जुकाम,नाक की समस्या में बहुत ही असरदार साबित होती है। जैसे नार्मल चाय बनाई जाती है वैसे ही चाय बनाने के साथ आप कुछ तुलसी के पत्तों को उसमें डालकर उबालें और शिक्षण का रस का सेवन करें। इससे हमारी इम्यूनिटी मजबूत होगी और कई बीमारियां भी छूमंतर हो जाएगी।

 

2)बीमारियों से बचाव करेगा हल्दी का दूध-

आपने बचपन में नानी और दादी को कहते हुए सुना होगा कि चोट लगने या किसी बीमारी में हल्दी के दूध का सेवन करें। आपको बता दें कि हल्दी के दूध में कैल्शियम, आयरन, सोडियम, ऊर्जा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर भरपूर मात्रा पाई जाती है। यह हल्दी का दूध पोषक तत्वों के साथ शरीर को कई समस्याओं से बचाने में मदद करता है। साथ ही हल्दी के दूध को पीने से चेहरे का रंग गोरा और एक अलग सा निखार चेहरे पर दिखाई देने लगता है। हल्दी का दूध नियमित रूप से रोज सेवन करने से इम्यूनिटी स्ट्रांग के साथ शरीर में दर्द सूजन सर्दी जुखाम आदि जैसे समस्याओं से भी निजात मिलता है। या हमारी इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए और चेहरे पर निखार लाने के लिए भी लाभकारी उपाय है।

 

3)सर्दियों में भाप लेना है लाभकारी-

सर्दियों के मौसम में सर्दी या जुकाम होने पर भाप लेने की सलाह दी जाती है। आपको बता दें कि सर्दियों में भाप लेने से सर्दी-जुकाम जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है। हमें कम से कम सप्ताह में तीन से चाप बार गर्म पानी की भाप लेने से सर्दी-जुकाम जैसी स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों से तो राहत मिलती है और हमारी स्किन भी पूरी तरीके से क्लीन और साइनग हो जाती है। हमें पुदीना या अजवाइन की पत्तियां गर्म पानी में डालकर भाप लेना चाहिए। भाप लेने से ब्लड हमारे सर्कुलेशन में सुधार आता है। इसके अलावा गर्म पानी के भाप से नाक और गले के माध्यम से फेफड़ों तक भाप पहुंचती है, जिससे गले में जमा कफ भी बाहर निकलता है। मार्केट में तो भाप लेने वाली मशीन भी मिलती है ,आप उसका इस्तेमाल भी कर सकते है। घर पर भाप लेने के लिए आप एक बर्तन में पानी ले और उसमें अजवाइन और पुदीना डालें फिर उस पानी को तब तक गर्म करें जब तक उसमें से भाप ना निकलने लगे फिर एक तौलिए से अपने सिर को ढक ले और उस बर्तन के सामने जाकर मुंह खोल के भाप अंदर ले ध्यान रखें कि बाप लेते समय सांस भी लेते जाए।

 

4) रोग प्रतिरोधक क्षमता को स्ट्रांग करने के लिए डाइट में शामिल करें यह चीज़ें-

सर्दियों में बदलते मौसम के साथ हो रही मौसमी बीमारी से बचने के लिए हमें अपने खान पान पर आवश्यक रूप से ध्यान देना चाहिए। अपने भोजन में मक्का, ज्वार, बाजरा और दलिया जैसे मोटे अनाज को शामिल करना चाहिए इससे हमारे शरीर में गर्माहट आती है‌ और कच्चा लहसुन, अदरक, हल्दी इम्यूनिटी को स्ट्रांग करते है। मूंगफली, गुड़ और तिल का सेवन भी हमारे मित्र को स्ट्रांग करने के लिए बेहद लाभकारी माना जाता है। इन चीजों को सही मात्रा में नियमित रूप से सेवन करने से हमारे सर्दी-खांसी और जुकाम जैसी समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

 

5) रोजाना एक्सरसाइज और मेडिटेशन करें-

एक्सरसाइज करने से हमारा शरीर स्वस्थ और तंदरुस्त रहता है, साथ में ये हमारे इम्युनिटी सिस्टम भी मजबूत रखता है।

इसके अलावा योग, ध्यान और प्राणायाम सीबी अपनी इम्यूनिटी को स्ट्रांग रख सकते है और कानूनों की महामारी से भी खुद को बचा सकते है।एक्सरसाइज कहानी अपने डेली रूटीन में शामिल करना चाहिए। इससे शारीरिक तनाव दूर होता है और मन की शांति के लिए योगा करना आवश्यक बताया गया है। एक्सरसाइज से हम फिजिकली मेंटली दोनों ही तरीकों से मजबूत बनते है।

 

6) रोजाना काढ़े का सेवन करें-

सर्दी के मौसम में काढ़ा एक महत्वपूर्ण घरेलू उपाय है, जिससे इम्यूनिटी मजबूत होती है। काढ़ा बनाने के लिए हमें तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, शुंठी और मुनक्का को पानी में मिलाकर उबालना चाहिए और फिर गुड़ या शहद मिलाकर उसे दूध के साथ सेवन करना चाहिए। बाजार में भी कई तरीके के काढ़ा मिल जाता है, जिसे हम उबालकर या गर्म पानी में डालकर शहद या गुड़ के साथ सेवन कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here