सरकार ने फिर से कोरोना संकट को देखते हुए श्रमिको के लिए अहम फैसला लिया है। उनके भरण पोषण के लिए एक हजार रुपए सीधे उनके खाते में डाले जाएंगे। पहले चरण में एक एक हजार रुपए श्रमिको के खाते में सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ उनके खाते में डालेंगे। योगी सरकार ने कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को भरण पोषण भत्ता देने का एलान किया है।

दिसंबर से मार्च यानी चार माह तक पांच पांच सौ रुपये भत्ता दिया जाएगा। कुल दो हजार रुपये दिए जाने हैं जिसकी एक एक हजार रुपये की दो किश्तें जारी होंगी। इस समय प्रदेश में कुल पंजीकृत कामगारों की संख्या पांच करोड़ 90 लाख आठ हजार 745 है। इसमें से ई श्रम पोर्टल पर पंजीकृत असंगठित कामगारों की संख्या 3 करोड़ 81 लाख 60 हजार 725 और बीओसीडब्लू बोर्ड के अंतर्गत कुल पंजीकृत कामगारों की संख्या  एक करोड़ 27 लाख 48 हजार 20 है। इनमें से पहले चरण में कुल दो करोड़ कामगारों के खाते में भरण पोषण भत्ता भेजा जाएगा।

नए साल में सरकार की तरफ से तौफ़ा।

आज वो दिन आ गया है। अब उत्तर प्रदेश सरकार सूबे के 1.5 करोड़ श्रमिकों के खाते में 1,000 रुपये ट्रांसफर करने जा रही है। बता दें, उत्तर प्रदेश में रजिस्टर्ड वर्कर्स की कुल संख्या 5 करोड से ज्यादा है. जबकि, BOC डब्लू बोर्ड में आने वाले रजिस्टर्ड वर्कर्स की संख्या सवा करोड़ से ज्यादा है। लेकिन, उत्तर प्रदेश सरकार अभी केवल 1.5 करोड़ श्रमिकों के खाते में मेंटेनेंस अलाउंस भेजने जा रही है।

मजदूरों के लिए नए साल में ये पहला भत्ता होगा, जिसमें वर्कर्स को 1,000 रुपये पहली किस्त सीधे उनके खाते में भेजी जाएगी। यह रकम यूपी अनऑर्गेनाइज्ड वर्कर्स सोशल सिक्योरिटी बोर्ड के माध्यम से श्रमिकों के खाते में भेजी जाएगी। इससे पहले भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ श्रमिकों, स्ट्रीट वेंडरों, रिक्शा चालकों, कुलियों, पल्लेदारों के अलावा कई वर्क्स को भरण पोषण भत्ता सीधे उनके खातों में ट्रांसफर करवा चुके हैं. इस मामले में उत्तर प्रदेश को देश का पहला राज्य बन गया था, जिसके बाद कई राज्यों ने भी योगी सरकार की व्यवस्था को लागू किया।

कैसे करे रजिस्ट्रेशन?

अगर कोई ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना चाहता है तो उसके लिए देशभर में मौजूद कॉमन सर्विस सेंटर (Common Service Centre) की भी मदद ले सकते हैं। रजिस्ट्रेशन होने के बाद व्यक्ति का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) के साथ ई-श्रम कार्ड जारी होगा। (e-shram card registration) रजिस्ट्रेशन के लिए सरकार ने 14434 टोल फ्री नंबर भी रखा है, जहां इससे जुड़ी तमाम जानकारियां ली जा सकती हैं। इस पोर्टल के जरिए राज्य सरकारें भी आपने कामगारों का रजिस्ट्रेशन करा सकती हैं।

ई श्रम कार्ड प्रक्रिया।

•सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट https://eshram.gov.in/ पर जाएं।
•सेल्फ रजिस्ट्रेशन टैब पर क्लिक करें।
•Aadhaar से जुड़े नंबर से OTP के जरिए लॉग इन करें. आधार नंबर दर्ज करें।
•अब अगली स्क्रीन पर जानकारी दिखेगी और आपको इसे एक्सेप्ट करना होगा।
•इसके बाद आगे फॉर्म भरने होंगे।
•पहला फॉर्म व्यक्तिगत जानकारी का होगा।
आवासीय डिटेल का फॉर्म भरना होगा।
•शैक्षणिक योग्यता की जानकारी देनी होगी।
इसके बाद सभी डिटेल्स को चेक करके सेव कर दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here